छात्रा को जबरन फ्लैट बुलाकर छेडछाड, विरोध किया तो पहली मंजिल की बालकनी से नीचे फेंका

ग्वालियर

एक सिरफिरे ने 16 साल की लड़की के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। पहले छात्रा को जबरन अपने फ्लैट में घसीटकर ले गया। छेड़छाड़ कर कपड़े फाड़ दिए। छात्रा ने हिम्मत दिखाकर विरोध किया तो उसका सिर दीवार पर दे मारा। इसके बाद भी मन नहीं भरा तो पहली मंजिल की बालकनी से उसे नीचे फेंक दिया। घटना 4 फरवरी की शाम राजीव आवास कॉलोनी की है। छात्रा को गंभीर हालत में प्राइम हॉस्पिटल में भर्ती कराया। दो दिन तक उसे होश नहीं था। सिर से लेकर पैर तक कई हड्‌डी टूटी हैं। रविवार को छात्रा विश्वविद्यालय थाना पहुंची और शिकायत की। पुलिस ने छेड़छाड़, पॉक्सो एक्ट, एससीएसटी एक्ट और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है।

विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र स्थित राजीव आवास कॉलोनी में फ्लैट नंबर-2 निवासी 16 वर्षीय रानी (बदला हुआ नाम) 11वीं की छात्रा है। छात्रा के पास ही 3 नंबर फ्लैट में हिम्मत उर्फ छोटू रहता है। 4 फरवरी की शाम 6.30 बजे छोटू ने छात्रा को किसी काम से अपने फ्लैट के दरवाजे पर बुलाया। छोटू के घर पर कोई नहीं था। अभी छात्रा कुछ समझ पाती तभी छोटू ने उसे जबरन अपने फ्लैट में खींच लिया। घसीटकर उसे अंदर बालकनी के पास रूम में ले गया। वह छात्रा के शरीर को जगह-जगह छूने लगा। जब छात्रा ने भागने का प्रयास किया तो उसके कपड़े फाड़ दिए। इसके बाद भी छात्रा ने हिम्मत नहीं हारी और संघर्ष किया। उसके संघर्ष करने से आरोपी को गुस्सा आ गया। पहले छात्रा का सिर पकड़कर दीवार पर दे मारा। इतना ही नहीं छात्रा को बालों से घसीटकर फ्लैट की बालकनी में ले गया और नीचे फेंक दिया। छात्रा पीछे की तरफ करीब 20 फीट की गहराई में पत्थरों पर गिरी और बेहोश हो गई। कुछ देर बाद जब लोगों की नजर उस पर पड़ी तो उसे तत्काल पास ही प्राइम हॉस्पिटल में भर्ती कराया।

सिर, हाथ,पैर में फैक्चर

प्राइम हॉस्पिटल में भर्ती करने के समय किसी को कुछ नहीं पता था। डॉक्टरों ने उसका इलाज शुरू किया। छात्रा बार-बार होश में आती और फिर बेहोश हो जाती। उसके सिर में कई गंभीर घाव थे। सिर से लेकर पैर तक कई हड्‌डी टूटी थीं। दो दिन बाद उसकी हालत में सुधार हुआ और उसने अपने साथ हुई बर्बरता की पूरी कहानी अपने परिवार को बताई। रविवार को छात्रा जब अस्पताल से डिस्चार्ज हुई तो विश्वविद्यालय थाना पहुंची है। जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *