लाल किले पर हिंसा का आरोपी दीप सिद्धू गिरफ्तार, एक लाख का था इनाम

26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा के मुख्य आरोपियों में से एक दीप सिद्धू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. करीब 15 दिन की फरारी काटने के बाद दीप सिद्धू मंगलवार तड़के दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के हत्थे चढ़ा. पुलिस ने उस पर एक लाख रुपये का इनाम रखा है. दीप सिद्धू को पंजाब कि जिरकपुर से गिरफ्तार किया गया है.

गौरतलब है कि पुलिस ने पंजाबी एक्टर दीप सिद्धू के ऊपर एक लाख का इनाम भी घोषित किया है, लेकिन इन सबके बीच दीप सिद्धू की ओर से एक के बाद एक वीडियो संदेश जारी किए जा रहे थे. दावा किया गया है कि पंजाबी एक्टर जो भी वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर अपलोड करता है, उसके पीछे सिद्धू की एक बेहद करीबी महिला मित्र है.

दिल्ली हिंसा के आरोपी दीप सिद्धू को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक, दीप सिद्धू वीडियो बनाता जरूर था, लेकिन उसे अपलोड उसकी बेहद करीबी महिला मित्र करती थी. ये महिला मित्र भारत से बाहर विदेश में बैठकर सिद्धू के वीडियो अपलोड करती थी. इसके पीछे सिद्धू की चाल जांच एजेंसियों को भटकाने की थी. यानी दीप सिद्धू एक पेशेवर अपराधी की तरह पुलिस के साथ लुकाछिपी का खेल खेल रहा था.

हाल ही में पंजाबी एक्टर दीप सिद्धू ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि उसने कुछ गलत नहीं किया है, इसलिए उसे कोई डर नहीं है. वह मामले से जुड़े सबूत जुटा रहा है और 2 दिन बाद पुलिस के सामने पेश हो जाएगा. एक्टर ने यह भी कहा था कि जांच एजेंसियां उनके परिवार को परेशान न करें. इस बीच पुलिस ने दीप सिद्धू को गिरफ्तार कर लिया है.

दीप सिद्धू पर क्या है आरोप

26 जनवरी को उपद्रवियों की भीड़ ने लाल किले पर पहुंचकर उत्पात मचाया था और अपना झंडा फहरा दिया था. प्राचीर पर निशान साहिब फहराए जाने की घटना की पूरे देश में आलोचना हुई थी. किसान संगठनों ने खुद को इस घटना से अलग करते हुए दीप सिद्धू को जिम्मेदार ठहराया था. साथ ही यह भी आरोप लगाया था कि सिद्धू बीजेपी का आदमी है.

दरअसल, लाल किले की घटना के बाद दीप सिद्धू की गुरदासपुर से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद और अभिनेता सनी देओल के साथ तस्वीर वायरल होने लगी थी. किसान संगठनों ने कहा था कि दीप सिद्धू बीजेपी का आदमी है. वहीं, सनी देओल ने ट्वीट कर कहा था कि मेरे या मेरे परिवार का दीप सिद्धू के साथ कोई संबंध नहीं है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *