जम्मू-कश्मीर पंचायत उपचुनाव में 804 सरपंच, पंच निर्विरोध निर्वाचित

आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक, कश्मीर में 11,500 पद पंच के और 890 पद सरपंच के खाली हैं और जम्मू संभाग में 185 सीट पंच की और 124 सीट सरपंच की खाली हैं। नैशनल कांफ्रेंस और पीडीपी सहित क्षेत्रीय दलों ने 2018 में पंचायत चुनावों का बहिष्कार किया था। उस वर्ष जम्मू संभाग और कश्मीर घाटी में 83.5 फीसदी मतदान हुआ था। जिला विकास परिषद् के चुनाव और पंचायत उपचुनाव 28 नवंबर से 19 दिसंबर के बीच आठ चरणों में होंगे। मतगणना 22 दिसंबर को होगी।

वहीं, जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने शुक्रवार को जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनावों के लिए सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की और निगरानी बढ़ाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और इसके प्रायोजित एजेंट क्षेत्र में शांति भंग करने का लगातार प्रयास कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में शनिवार से डीडीसी के पहले चुनाव होने जा रहे हैं। डीडीसी चुनावों के साथ 12,153 पंचायत क्षेत्रों के भी उपुचनाव होने जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *