ममता बनर्जी ने शाहरुख खान को क्यों बनाया बंगाल का ब्रांड एंबेसडर, WB के बीजेपी चीफ दिलीप घोष ने बताई यह वजह

पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने गुरुवार दोपहर नादिया जिले के कृष्णनगर में एक रैली के दौरान कहा कि बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल का ब्रांड एंबेसडर बनाया क्योंकि वह एक खान हैं। 2019 में नादिया जिले की राणाघाट लोकसभा सीट पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी। 

घोष ने कहा कि भाजपा को यहां बाहरी लोग कहा जाता है, लेकिन अगर ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल के लिए ब्रांड एंबेसडर के रूप में एक सुपरस्टार चाहती थीं तो वह देव, जो एक लोकप्रिय हीरो और लोकसभा सदस्य है, उन्हें चुन सकती थीं। वैकल्पिक रूप से वे महान अभिनेता सौमित्र चटर्जी को ब्रांड एंबेसडर बना सकती थीं। घोष ने कहा कि ममता ने शाहरुख खान का चयन किया। क्या हम नहीं समझते? उनको एक खान की जरूरत है। हम सभी जानते हैं कि उनको चुनावी राजनीति के लिए खान की जरूरत है।

देव के नाम से मशहूर अभिनेता दीपक अधिकारी पश्चिम मिदनापुर के घाटाल से टीएमसी लोकसभा सदस्य हैं। बंगाल में एक आइकन सौमित्र चटर्जी का हाल ही में कोलकाता में 85 वर्ष की आयु में निधन हो गया। यह पहला मौका नहीं है, जब भाजपा ने बनर्जी पर अपने वोट बैंक को सुरक्षित करने के लिए अल्पसंख्यक कार्ड खेलने का आरोप लगाया। बंगाल की लगभग 30% आबादी में मुस्लिम शामिल हैं। भाजपा ने पिछले साल राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 को इसी आधार पर बनर्जी के खिलाफ प्रचार करके जीता था।

इस मसले पर टीएमसी के वरिष्ठ लोकसभा सांसद और पार्टी के प्रवक्ता सौगत रॉय ने कहा कि दिलीप घोष, जो हमेशा सांप्रदायिक चश्मे पहनते हैं, वास्तविकता को नहीं देख सकते हैं या यह नहीं समझ सकते हैं कि मुख्यमंत्री ने खान को बंगाल का ब्रांड एंबेसडर उनके उपनाम के कारण नहीं, बल्कि इस तथ्य के कारण बनाया क्योंकि वह न केवल भारत में बल्कि सीमाओं से परे बेहद लोकप्रिय हैं। 

रॉय का कहना है कि घोष, चटर्जी के बारे में बात कर रहे हैं, लेकिन न तो उन्होंने और न ही राज्य के किसी भी भाजपा नेता ने उनके अंतिम संस्कार के जुलूस में भाग लिया, जहां मुख्यमंत्री घंटों तक मौजूद थी। यह राज्य का अंतिम संस्कार था। अभिनेता को इससे पहले उनके द्वारा बंगा विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। देव, अपनी लोकप्रियता के कारण दो बार के सांसद हैं और लोगों की सेवा करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *