पाकिस्तान के इस जिले में मिला भगवान विष्णु का 1300 साल पुराना मंदिर जानें इतिहास

पेशावर: उत्तर पश्चिम पाकिस्तान  के स्वात जिले के एक पहाड़ में पाकिस्तानी और इतालवी पुरातात्विक विशेषज्ञों ने 1300 साल पहले बने एक हिंदू मंदिर  को खोज निकाला है. बारिकोट घुंडई  में खुदाई के दौरान विशेषज्ञों को इस मंदिर का पता लगा है.

1300 साल पुराना भगवान विष्णु का मंदिर
खैबर पख्तूनख्वा के पुरातत्व विभाग के फजल खलीक  ने खोज की घोषणा करते हुए बताया कि यह मंदिर भगवान विष्णु  का है. उन्होंने कहा कि यह मंदिर हिंदुओं द्वारा 1300 साल पहले हिंदू शाही काल के दौरान बनाया गया था.

हिंदू शाही या काबुल शाही ने किया था शासन
हिंदू शाही या काबुल शाही ( (850-1026 ई) एक हिंदू राजवंश था, जिसने काबुल घाटी (पूर्वी अफगानिस्तान), गंधार (आधुनिक पाकिस्तान) और वर्तमान उत्तर पश्चिम भारत में शासन किया था.

मंदिर के आसपास मिली ये चीजें
खुदाई के दौरान पुरातत्वविदों को मंदिर स्थल के पास छावनी और प्रहरी की मिनारें (Watchtowers) भी मिली हैं. इसके अलावा विशेषज्ञों को मंदिर के पास एक पानी का कुंड भी मिला है, जिसे हिंदुओं द्वारा पूजा से पहले स्नान करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था.

स्वात में गंधार सभ्यता का पहला मंदिर
फजल खलीक ने कहा, ‘स्वात जिला हजार साल पुराने पुरातत्व स्थलों का घर है और इलाके में पहली बार हिंदू शाही काल के निशान मिले हैं.’ इतालवी पुरातात्विक मिशन के प्रमुख डॉक्टर लुका ने कहा, ‘यह स्वात जिले में मिला गंधार सभ्यता का पहला मंदिर है.’

स्वात जिले में कई पर्यटन स्थल हैं मौजूद
स्वात जिला पाकिस्तान के शीर्ष 20 स्थलों में से एक है, जो प्राकृतिक सुंदरता, धार्मिक पर्यटन, सांस्कृतिक पर्यटन और पुरातात्विक स्थलों जैसे हर तरह के पर्यटन का घर है. स्वात जिले में बौद्ध धर्म (Buddhism) के भी कई पूजा स्थल स्थित हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!