तेजस्वी के मुरीद हुए NCP नेता शरद पवार, कहा- ये लड़ाई तेजस्वी बनाम BJP थी, युवाओं को प्रेरणा मिलेगी

बिहार चुनाव के नतीजों को लेकर शरद पवार ने कहा कि बिहार चुनाव के नतीजे जो भी हों लेकिन यह तो साफ है कि बिहार में परिवर्तन हो रहा है. बिहार चुनाव तेजस्वी बनाम बीजेपी था. तेजस्वी युवा पीढ़ी के नेताओं के लिए प्रेरणा का स्रोत

मुंबई

शरद पवार ने की तेजस्वी की तारीफपवार बोले- बिहार में परिवर्तन के रास्ते खुलेतेजस्वी से मिलेगी युवाओं को मिलेगी प्रेरणा- पवार

बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए को कड़ी चुनौती पेश करने को लेकर एनसीपी नेता शरद पवार ने तेजस्वी यादव की तारीफों के पुल बांधे हैं.बिहार चुनाव के नतीजों को लेकर शरद पवार ने कहा कि बिहार चुनाव के नतीजे जो भी हों लेकिन यह तो साफ है कि बिहार में परिवर्तन का रास्ता खुल रहा है. बिहार चुनाव तेजस्वी बनाम बीजेपी था. तेजस्वी अकेले थे और उनके खिलाफ सारे अनुभवी नेता एकजुट थे.

उन्होंने कहा कि इस चुनाव में खुद प्रधानमंत्री मोदी काफी दिलचस्पी ले रहे थे. एक तरफ कम अनुभव वाले तेजस्वी थे तो दूसरी तरफ गुजरात के सीएम और फिर पीएम बने नरेंद्र मोदी. नीतीश कुमार भी दो तीन बार मुख्यमंत्री रहे हैं और केंद्र में भी मंत्रालय संभाला है. इनके सामने एक युवा था जो पहली बार चुनाव लड़ रहा है. ऐसे में तेजस्वी को जितनी भी सीटेें मिले काफी हैं. यह युवा पीढ़ी के नेताओं के लिए प्रेरणा का स्रोत बनेगा.

 बिहार में एनसीपी ने बिहार चुनाव पर ज्यादा ध्यान इसलिए नहीं दिया क्योंकि हमें लगा कि यहां एक युवा नेतृत्व का उभार हो रहा है. हम इसमें रुकावट नहीं डालना चाहते थे. इसलिए मैंने कहा वरिष्ठ नेताओं से चुनाव ना लड़ने की अपील की और युवा नेतृत्व को बिहार चुनाव में मौका देने पर जोर दिया.

उन्होंने कहा कि, पीएम मोदी के आक्रामक प्रचार के कारण बीजेपी को फायदा हुआ. जिस तरह से पीएम कह रहे थे कि बिहार में जंगल राज है, मैं 3 बातें कहना चाहता हूं. यह नीतीश थे जो बिहार के प्रभारी थे. लेकिन जब पीएम मोदी कहते हैं तो लोग विश्वास करते हैं. बीजेपी को इससे फायदा हुआ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *