एमपी में सिर्फ दो ही गद्दार, कमलनाथ और दिग्विजय बोले ज्योतिरादित्य सिंधिया

चुनाव नतीजों के बीच बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश की जनता ने स्पष्ट कर दिया है कि प्रदेश में आज अगर कोई गद्दार है तो सिर्फ दो लोग हैं- कमलनाथ और दिग्विजय सिंह.

नई दिल्ली,

चुनाव नतीजों के बीच आजतक से सिंधिया की बातचीतसिंधिया ने कहा कि मेरा और शिवराज का एक लक्ष्य

मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में बीजेपी को तगड़ी बढ़त मिली है. एक ओर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे जनता की जीत बताया तो दूसरी ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोल दिया. उन्होंने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को सबसे बड़ा गद्दार बताया है.

दरअसल, चुनाव नतीजों के बीच आजतक से बातचीत में बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि इस सफलता के लिए मध्य प्रदेश की जनता का धन्यवाद है. इसका पूरा श्रेय बीजेपी को कार्यकर्ताओं को जाता है. उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का केंद्रीय नेतृत्व और एमपी में शिवराज सिंह का नेतृत्व इस जीत के लिए प्रेरक है.

वहीं कांग्रेस के हाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अब मेरा अतीत है. उस पर टिप्पणी नहीं करना है. उनको अपना घर देखना है मुझे अपना घर देखना है, मेरा घर अब बीजेपी है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के एक बयान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि आगे बढ़ना ही एक नियम होना चाहिए.

इसके अलावा कांग्रेस नेता कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के सवाल पर उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस को जनादेश जनता का काम करने के लिए कहा गया था. लेकिन जब मैंने जनता की मांगे उठाईं तो मुझे सड़क पर उतरने के लिए कहा गया और मैं उतर गया. मध्य प्रदेश की जनता ने स्पष्ट कर दिया है कि प्रदेश में आज अगर कोई गद्दार है तो सिर्फ दो लोग हैं- कमलनाथ और दिग्विजय सिंह.

सिंधिया ने कहा कि मेरा और शिवराज सिंह चौहान का एक लक्ष्य है. मध्य प्रदेश की जनता और किसानों के हितों को पूरा करना. देश के ह्रदय मध्य प्रदेश को खुशहाल बनाना और केंद की तमाम योजनाओं को हरहाल में लागू करना.

इससे पहले एमपी उपचुनाव नतीजों पर शिवराज ने कहा कि ये जनता की जीत है, भाजपा में उनके विश्वास की जीत है. कांग्रेस ने मुद्दों से ध्यान भटका कर बयानों से जनता का ध्यान हटाने की कोशिश की लेकिन जनता ने विकास की राजनीति को चुना. सिंधिया जी इसी राजनीति को छोड़कर भाजपा में आए थे और अब तो भाजपा में ज्योतिरादित्य सिंधिया ऐसे घुल मिल गए हैं जैसे दूध में शक्कर घुल जाती है, भारतीय जनता पार्टी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को पूरी तरह से स्वीकार कर लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *