आपके घर में हो रहा है क्लेश तो करें ये 5 उपाय, पूर्ण नष्ट हो जाएंगी सारी नेगेटिव एनर्जी

अगर आपके घर में गृह क्लेश बढ़ रहा है तो शनिवार के दिन उपाय करें तो गृह क्लेश का संपूर्ण नाश हो जाएगा। वैसे तो सभी मेहनत करते हैं, पूजा पाठ करते हैं और अच्छे कर्म करते है फिर भी हमारे घर में बरकत नहीं होती है….

घरों में पारिवारिक क्लेश होना आम बात हो चली है। योगदर्शन के अनुसार, अविद्या, अस्मिता, राग, द्वेष एवं अभिनिवेश पांच क्लेश हैं। भाष्यकर व्यास ने इन्हें विपर्यय कहा है और इनके पांच अन्य नाम बताए हैं-तम, मोह, महामोह, तामिस्र और अंधतामिस्र। इन क्लेशों का सामान्य लक्षण है-कष्टदायिकता। इनके रहते आत्मस्वरूप का दर्शन नहीं हो सकता।

क्यों होता है गृह क्लेश
अगर आपके घर में गृह क्लेश बढ़ रहा है तो शनिवार के दिन उपाय करें तो गृह क्लेश का संपूर्ण नाश हो जाएगा। वैसे तो सभी मेहनत करते हैं, पूजा पाठ करते हैं और अच्छे कर्म करते है फिर भी हमारे घर में बरकत नहीं होती है, सुख संपत्ति का वास नहीं होता है और हमारे घर में क्लेश बढ़ता जाता है। कभी—कभी तो तमाशा इतना बढ़ जाता है कि पूरी सोसाइटी तमाशा देखती है। बता दें कि ये सब कुंडली में दोष के चलते या फिर घर का वास्तु ठीक नहीं होने के चलते होता है या फिर में किसी नेगेटिव एनर्जी का साया हो।

नेगेटिव एनर्जी के मुख्य प्रभाव
नेगेटिव एनर्जी से मतलब है कि आपके घर में हंसी खुशी का माहौल हो और अचानक से झगड़ा हो जाए। कहीं घूमने जा रहे हो तो परिवार के लोगों से मन मुटाव हो जाए। बार—बार आपका एक्सीडेंट हो। कोई बीमारी आपके पीछे लग जाए। समाज में आपको मान—सम्मान ना मिले तो समझो आप किसी नेगेटिव एनर्जी से पीड़ित हैं।

गृह क्लेश को दूर करने के उपाय:—

1. शनिवार के दिन भोज पत्र या पीपल का पत्ता लेवें और उस पर अपने पति का नाम लिखकर ‘ॐ हं हनुमते नमः’ के मंत्र का 21 बार उच्चारण करके घर के किसी कोने में दबा दें। इसके साथ ही दिनभर हनुमान जी का ध्यान धरे।

2. घर में पोछा लगाते वक्त पानी में एक चम्मच नमक डाल लें, ताकि आपके घर से सारी नेगेटिव एनर्जी दूर हो जाए। लेकिन गुरुवार और शुक्रवार के दिन ये काम नहीं करना चाहिए।

3.घर में हमेशा पूर्व की तरफ या फिर दक्षिण की तरफ सिर करके सोना चाहिए। इससे हमारी बॉडी चार्ज हो जाती है।

4.हनुमान जी की पूजा उपासना करनी चाहिए। अपने घर पर हनुमान जी महाराज का व्रत, पूजन और निष्ठा अनुसार प्रसाद वितरण करना बहुत लाभकारी माना जाता है। इसके लिए पंडित से सलाह ले सकते हैं।

5. घर की दहलीज के अंदर जूते—चप्पल नहीं लाने चाहिए। कभी खाना बिस्तर पर बैठकर नहीं खाना चाहिए। ये उपाय करने से कुछ हद तक आपके घर का गृह क्लेश दूर हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *