गुर्जरों का प्रदर्शन जारी, दिल्ली मुंबई मार्ग पर पटरियां उखाड़ीं, कई ट्रेनें रद्द

राजस्थान में गुर्जर आंदोलन जारी है। अपनी मांगों को लेकर गुर्जर समाज के लोगों ने रविवार को दिल्ली मुंबई रेल मार्ग बाधित कर दिया। यह प्रदर्शन सोमवार को भी जारी है। रेल पटरियांं उखाड़ दी गई हैं। इसका सीधा असर रेल सेवाओं पर पड़ा है। कई ट्रेनें रद्द की गई हैं तो कुछ के मार्ग बदले गए हैं। 2 नवंबर को 02401 कोटा-देहरादून स्पेशल ट्रेन को कैंसल कर दिया गया है। इसी तरह 02059/02060 कोटा-हजरत निजामुद्दीन-कोटा स्पेशल ट्रेन भी आज के लिए रद्द है। साथ ही कई ट्रेनों का रूट बदला गया है। रविवार को भी रेलवे ने तत्काल प्रभाव से सात ट्रेनों को डायवर्ट कर दिया था। इन्हें अब हिंडौन सिटी बयाना रेल मार्ग से भेजा जा रहा है। प्रदर्शनकारियों ने राजस्थान के भरतपुर में रेल पटरियों पर कब्जा कर लिया। राजस्थान में नगर निगम चुनाव के बीच भड़के गुर्जर आंदोलन ने अशोक गहलोत सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। वहीं कोरोना महामारी से तो पूरा प्रदेश जूझ ही रहा है। इससे पहले खबर आई थी कि 14 सूत्रीय मांगों को लेकर गुर्जर समाज में दो फाड़ हो गई है। एक वर्ग सरकार की बात मानने को राजी हो गया था, लेकिन दूसरे ने पीलूपुरा में विरोध शुरू कर दिया। कहा जा रहा है कि आंदोलन के अगुवा किरोड़ी बैंसला के निर्देश पर आंदोलन हो रहा है। हालांकि बैंसला के हवाले से कहा जा रहा है कि उन्होंने आंदोलन शुरू करने की अनुमति नहीं दी है।

इन ट्रेनों के रूट बदले गए

इससे पहले रविवार को दिन में गुर्जर नेताओं ने एक बार फिर किरोड़ी बैंसला के नेतृत्व में मंत्री अशोक चांदना को पीलूपुरा गांव बुलाया है। गहलोत सरकार के मंत्री चांदना को 3 घंटे का अल्टीमेटम भी दिया गया है। इधर पटरियों पर गए युवकों को वापस बुलाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *