आंखों में पीला धब्बा हो सकता है डायबिटीज का संकेत, कई बीमारियों को पहचानने में मदद करती हैं आंखें

Health Tips in Hindi: शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होने पर आंखों की पुतलियों के आसपास सफेद रिंग दिखाई देने लगते हैं

लाल आंखें या फिर आंखों के अंदर नसों का अधिक दिखना हाई बीपी के कारण हो सकता है

Health Tips: आंखों से संबंधित प्रचलित मुहावरे और गाने तो अधिकतर लोगों ने सुने हैं। पर क्या आप जानते हैं कि आंखें कई बीमारियों को पहचानने में भी मददगार होती हैं। विशेषज्ञ आंखों को सेहत के दर्पण का दर्जा देते हैं। आपने देखा होगा कि कई शारीरिक परेशानियों का पता लगाने के लिए डॉक्टर्स भी सबसे पहले लोगों की आंखें ही जांचते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कि किस बीमारी के प्रभाव से आंखों में क्या बदलाव आते हैं।


डायबिटीज: डायबिटीज या मधुमेह एक जीवन शैली से जुड़ा रोग है जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने के कारण होता है। माना जाता है इस बीमारी से पीड़ित मरीजों की आंखें भी प्रभावित होती हैं। आंखों में पीला धब्बा दिखना या फिर रेटिना में छोटे-छोटे आंसू निकले तो ये डायबिटीज का लक्षण हो सकता है।

हाई कोलेस्ट्रॉल: शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होने से कई परेशानियां होने लगती हैं। हाई कोलेस्ट्रॉल से स्ट्रोक और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होने पर आंखों की पुतलियों के आसपास सफेद रिंग दिखाई देने लगते हैं। वहीं, कुछ मरीजों को पलकों के भीतर या किसी तरफ सफेद धब्बे होने की भी शिकायत हो सकती है।

उच्च रक्तचाप: उच्च रक्तचाप के मरीजों की आंखें भी ब्लड प्रेशर बढ़ने से प्रभावित होती है। लाल आंखें या फिर आंखों के अंदर नसों का अधिक दिखना हाई बीपी के कारण हो सकता है।

थायरॉयड: थायरॉयड ग्लैंड के ओवर या अंडर एक्टिव होने पर लोग इस बीमारी से पीड़ित हो जाते हैं। ये बीमारी शरीर के मेटाबॉलिक रेट को बेहद धीमा बना देती है। इस बीमारी से पीड़ित मरीजों की आंखों के चारों तरफ के टिश्यूज में सूजन आ जाती है। इससे आंख भी फुले हुए नजर आते हैं।

एनीमिया: शरीर में जब खून की कमी हो जाती है तो लोग एनीमिया नाम की बीमारी से पीड़ित हो जाते हैं। इस कारण से रेड ब्लड सेल्स का निर्माण रुक जाता है। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति की आंखों के नीचे वाले हिस्से में सफेदी नजर आए तो वो इस बीमारी का मरीज हो सकता है।

लिवर रोग: हेपटाइटिस, फैटी लिवर, सिरोसिस अथवा जॉन्डिस से पीड़ित लोगों की आंखें पीली नजर आने लगती है। ऐसा शरीर में बिलीरुबीन नाक पिग्मेंट की अधिकता से होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *