विधानसभा में बदली सीटिंग अरेंजमेंट, अब सीएम गहलोत के बगल में नहीं बैठेंगे पायलट, जानिए वजह

जयपुर
राजस्थान में अपनी सरकार के खिलाफ बगावती तेवर अख्तियार करने वाले सचिन पायलट (Sachin Pilot) अब मान गए हैं। उनके मानने के बाद पिछले कई दिनों से जारी सियासी उठापटक का दौर अब थमता नजर आ रहा है। इस बीच आज से राजस्थान विधानसभा का विशेष सत्र (Rajasthan Assembly Session) शुरू हो रहा है। सत्र के पहले ही दिन विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव लाया जा सकता है। इस बीच खबर है कि सचिन पायलट की सीटिंग अरेंजमेंट में बदलाव किया गया है। अब पायलट सीएम अशोक गहलोत के बगल में नहीं बैठेंगे। उन्हें सीट नंबर 127 मिली है और वो निर्दलीय विधायक के साथ बैठेंगे।

विधानसभा में बदल गई सचिन पायलट की सीट
जानकारी के मुताबिक, सचिन पायलट की सीट में बदलाव इसलिए करना पड़ा है क्योंकि अब वो प्रदेश सरकार में मंत्री नहीं है। अपनी सरकार के खिलाफ बगावत की वजह से पिछले दिनों पार्टी ने कार्रवाई करते हुए उन्हें डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाने का फैसला लिया था। पायलट के उपमुख्यमंत्री नहीं रहने की वजह से विधानसभा में उनकी सीट में बदलाव किया गया है। अब उन्हें सीएम गहलोत के बगल वाली सीट भी नहीं मिलेगी। उन्हें निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा के बगल वाली सीट मिली है।

निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा के साथ बैठेंगे पायलट

स्पीकर सीपी जोशी ने पिछले दिनों हुए घटनाक्रम के बाद विधानसभा में विधायकों के बैठने को लेकर नए नियम जारी किए हैं। जानकारी के मुताबिक, इसमें सचिन पायलट की जगह संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल मुख्यमंत्री गहलोत के बगल वाली सीट पर बैठे नजर आएंगे। सचिन पायलट अभी मंत्री नहीं हैं ऐसे में उन्हें पीछे की ओर 127 नंबर की सीट दी गई है। ये सीट निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा के बगल में स्थित है।

दो और मंत्रियों की सीट में किया गया है बदलाव

सचिन पायलट की ही सीट में बदलाव नहीं किया गया है। प्रदेश सरकार के दो और मंत्री विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी मंत्री पद से हटाया गया था, ऐसे में उनकी भी सीट बदल गई है। विश्वेंद्र सिंह अब 14वें नंबर की सीट पर बैठेंगे, वहीं रमेश मीणा को पांचवी लाइन की 54 नंबर सीट दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *