कोरोना ने ली एक और जान :कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष ब्रजमोहन परिहार नहीं रहे

ग्वालियर । अंचल के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और मप्र कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष बृजमोहन सिंह परिहार का आज तड़के दिल्ली के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया । वे कोरोना से संक्रमित हो गए थे । उनके निधन की खबर से कांग्रेस और उनके परिचितों में शोक की लहर व्याप्त हो गई ।

स्व परिहार युवावस्था से ही कांग्रेस के नेता रहे छात्र जीवन से ही वे एनएसयूआई से जुड़े फिर युवक कांग्रेस और कांग्रेस में अनेक पदों पर रहे । वे ग्वालियर नगर निगम में पार्षद भी निर्वाचित हुए और उसमें मेयर इन काँसिल के सदस्य भी रहे और कांग्रेस पार्षद दल के नेता भी । नगर निगम विधान के वे काफी जानकार माने जाते थे और उनकी गिनती दिग्विजय सिंह के करीबियों में होती थी । वे काफी समय से मध्यभारत खादी संघ के सचिव के रूप में भी कार्यरत थे।

स्व परिहार की पत्नी श्रीमती रश्मि परिहार भी कांग्रेस की प्रमुख नेता है । वे कांग्रेस और महिला कांग्रेस में अनेक महत्वपूर्ण पदों पर रह चुकीं है और एक बार कांग्रेस ने विधानसभा चुनावों में उन्हें प्रत्याशी भी बनाया था लेकिन वे मामूली अंतर से चुनाव हार गईं थीं । उनके परिवार में एक पुत्र और दो पुत्रियां हैं।

कोरोना का हुए शिकार

स्व श्री परिहार विगत पखबाड़े कोरोना के शिकार हो गए थे । हालत बिगड़ने पर उन्हें तत्काल गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया और वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया लेकिन उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ । इस बीच उनका बीपी बढ़ गया और ब्रेन हेम्ब्रेज हो गया था । विगत दिनों उनकी हालत बिगड़ी थी लेकिन बाद में मामूली सुधार हो जाने पर थोड़ी आस जगी थी लेकिन आज तड़के लगभग साढ़े चार बजे हृदयगति रुक जाने से उनका दुखद निधन हो गया ।

गुरुग्राम में ही होगी अंत्येष्ठि

स्व परिहार कोरोना संक्रमित थे इसलिए गाइडलाइन के अनुसार उनका अंतिम संस्कार वही सरकारी संरक्षण में किया जाएगा । उनके पुत्र ,पुत्रियां और पत्नी पहले से ही वहीं है उनकी मौजूदगी में उनकी अंत्येष्ठि होगी ।

कांग्रेस में शोक की लहर

स्व परिहार के असमायिक निधन की खबर से कांग्रेस में शोक व्याप्त है । प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ,पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह,प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अशोक सिंह सहित अनेक नेताओं ने स्व परिहार के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुए कहाकि वे सच्चे और निष्ठावान कांग्रेसी थे । उन्होंने सपरिवार जीवनपर्यंत कांग्रेस की सेवा की ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *