एमपी सिंह रघुवंशी पुनः बनाए गए अतिरिक्त महाधिवक्ता

ग्वालियर
शासन द्वारा जारी आदेश में एम पी सिंह रघुवंशी को पुनः अतिरिक्त महाधिवक्ता बनाया गया है
रघुवंशी पहले भी अतिरिक्त महाधिवक्ता रह चुके हैं यह उनका सफल एवं गौरवपूर्ण कार्यकाल था एमपी सिंह जी अशोकनगर जिले की ग्राम धुर्रा के मूलनिवासी है श्री रघुवंशी चार भाई हैं भाइयों में सबसे छोटे एमपी सिंह जी है ग्वालियर में वकालत का एक लंबा अनुभव है एवं ग्वालियर में सफल वकीलों में आप की गिनती होती है

Coronavirus: देश में पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड 9971 मामले सामने आए, अबतक करीब 7 हजार लोगों की मौत

पिछले 24 घंटों के अंदर देश में 9971 नए मामले सामने आए हैं, जो एक दिन में अबतक सबसे ज्यादा है.

पिछले एक दिन में 287 लोगों की मौत हुई है. इसी के साथ देश में मरने वालों का आंकड़ा करीब सात हजार पहुंच गया है.

नई दिल्ली: देश में जानलेवा कोरोना वायरस के मामले दिन पर दिन रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच रहे हैं. पिछले 24 घंटों के अंदर देश में 9971 नए मामले सामने आए हैं, जो एक दिन में अबतक सबसे ज्यादा है. वहीं पिछले एक दिन में 287 लोगों की मौत हुई है. इसी के साथ देश में मरने वालों का आंकड़ा करीब सात हजार पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, अबतक दो लाख 46 हजार 628 मामले सामने आ चुके हैं. वहीं 6929 लोगों की मौत हो चुकी है. एक लाख 19 हजार 293 लोग ठीक भी हुए हैं.

भारत में रिकवरी रेट 48.20%

बता दें कि देश में कोरोना वायरस मरीजों के ठीक (रिकवरी) होने की दर 48.20% है. आईसीएमआर ने संक्रमित व्यक्तियों में कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए परीक्षण क्षमता को और बढ़ा दिया है. सरकारी प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर 520 हो गयी है और निजी प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर 222 (कुल 742) हो गयी है. अब तक जांचे गए नमूनों की कुल संख्या 45 लाख 24 हजार 317 है.

सोनाली फोगाट के चप्पल कांड पर बोलीं SI अल्का- मैं होती तो तुमको तुम्हारी औकात दिखा देती

हिसार। हरियाणा में हिसार की एक अनाज मंडी में भाजपा नेता सोनाली फोगाट द्वारा एक मार्केट कमेटी के कर्मचारी को चप्पल से पीटे जाने का मामला तूल पकड़ गया है। सोनाली ने शुक्रवार दोपहर उक्त सरकारी कर्मचारी पहले सबके सामने थप्पड़ जड़ा, उसके बाद अपनी सैंडिल उतारकर भी कई बार मारीं। इन दोनों घटनाओं के वीडियो वायरल हो गए। जिस पर उत्तर प्रदेश की एक महिला सब इंस्पेक्टर अल्का ने सोनाली को औकात दिखा देने की बात कही है।

सब इंस्पेक्टर बोलीं-सोनाली को मैं औकात दिखा देती

सोशल मीडिया पर सोनाली फोगाट के वीडियो देखे जाने के बाद सब इंस्पेक्टर अल्का ने ट्वीट किया- ‘यह जो भी महिला है, क़ानून से ऊपर नहीं है। अगर पुरुष ने गलती करी भी थी तो क़ानून है सजा देने के लिए। आप जज साहब नहीं हो, मुक़दमा तो तुम जैसी औरत पर होना चाहिए, जिसने सरेआम ऐसा कांड किया। अगर मौक़े पर मैं होती तो तुमको तुम्हारी औक़ात ज़रूर दिखा देती। स्त्री होने का फ़ायदा लेना भूल जाती तुम।’

फोगाट 2019 में हारी थीं विधानसभा का चुनाव

उधर, मार्केट कमेटी के सचिव को पीटने के बाद ट्रोल होने पर सोनाली फोगाट लगातार सफाई दे रही हैं। सोनाली का कहना है कि,’उस सरकारी कर्मचारी ने मेरे साथ गलत तरीके से बात की।उसने अभद्र शब्द इस्तेमाल किए, इसलिए मैंने उसे सैंडिल मारीं।’

सोनाली फोगाट वही महिला हैं, जो टिकटॉक वीडियो बना-बनाकर पॉपुलर हुई थीं। टिकटॉक पर उनके बहुत फॉलाअर्स हैं। वर्ष 2019 में सोनाली हरियाणा की आदमपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ चुकी हैं। कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई ने उन्हें हराया था। तब से वो फिर वीडियो बनाने लगीं।

आए रोज वायरल होते हैं उनके वीडियो

सोशल मीडिया पर आए रोज सोनाली के वीडियो देखे जाते हैं। वह अपनी स्टाइल दिखाते हुए वीडियो अपलोड करती हैं। बहरहाल, उनके द्वारा सरकारी कर्मचारी के साथ की गई हरकत पर लोग उन्हें फेसबुक-ट्विटर पर ट्रोल कर रहे हैं। कई लोग यह भी कह रहे हैं कि यह सब सोनाली ने पब्लिक स्टंट के तौर पर किया। वहीं, ज्यादातर लोग उन्हें सजा दिलवाने की मांग कर रहे हैं। यहां तक कि हरियाणा के मुख्यमंत्री ने भी मामले की जांच कर कार्रवाई कराने की बात कही है।

सुरजेवाला ने खट्टर सरकार पर दागे सवाल

कांग्रेस की ​हरियाणा इकाई के लगभग नेता सोनाली को लेकर सत्ताधारी दल को कोस रहे हैं। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर को अंहकारी बता दिया। सुरजेवाला ने कहा कि एक अहंकारी मुख्यमंत्री और एक उनकी चहेती भाजपा नेत्री अहंकारी, तानाशाह व तालिबानी सरकार खट्टर साहब चला रहे हैं। सुरजेवाला ने सवाल उठाया- ‘क्या हरियाणा के सरकारी कर्मचारी अब भाजपा के नेताओं के थप्पड़ खाने के लिए हैं? क्या हरियाणा के सरकारी कर्मचारियों को भाजपा के कार्यकर्ता जाकर पीट कर आएंगे? क्या हरियाणा के कर्मचारियों का कोई मान सम्मान नहीं बचा?’

सिपाही की मौजूदगी में मारे मुंह पर सैंडिल

वीडियो ​में दिख रहा है कि, सोनाली कर्मचारी को थप्पड़ मारते हुए बोल रही हैं कि ‘तेरी हिम्मत कैसे हुई ऐसे बोलने की। तेरे घर में मां-बहन नहीं हैं क्या? तुम्हें जीने का हक नहीं है।’ फिर सोनाली उसके मुंह पर सैंडिल मारने लगीं। कई सैंडिल मारीं। वह गिड़गिड़ाने लगा और रोना आ गया। ताज्जुब की बात यह है कि, इस घटना के वक्त वहां पुलिसकर्मी भी मौजूद था। मामला बढ़ने के बाद सोनाली फोगाट के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

ATM में होने जा रहा है ये बड़ा बदलाव, अब ऐसे निकलेंगे पैसे

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का संक्रमण एटीएम मशीन के संपर्क में आने से भी फैलने का खतरा है। अगर किसी संक्रमित व्यक्ति ने ATM को हाथ लगाया तो उसके बाद मशीन को छून वाले लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एटीएम टेक्नोलॉजी पर काम करने वाली कंपनी एजीएस ट्रांजेक्स टेक्नोलॉजी ने एक नई मशीन तैयार की है। जिसके जरिए ग्राहक अपने मोबाइल ऐप से क्यूआर कोड को स्कैन करके बिना एटीएम बटन दबाएं ही कैश निकाल सकेंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मौजूदा एटीएम कार्ड में मैग्नेटिक स्ट्राइप होती है, जिसमें ग्राहकों का पूरा डेटा होता है। ये एटीएम मशीन पिन नंबर डालने के बाद ग्राहकों के डेटा को चेक करती है। जिसके बाद ग्राहक को एटीएम से पैसे निकालने की इजाजत दी जाती है। अब कई बड़े बैंक कोरोना को ध्यान में रखते हुए कॉन्टैक्ट लैस एटीएम मशीन ला रहे है। इन एटीएम मशीन्स में ग्राहकों को एटीएम मशीन नहीं छूने की जरुरत नहीं होगी। यानि बिना कोई चीज छुए ही ग्राहक अपने फोन के जरिए कैश निकाल पाएंगे।

इसके लिए एटीएम मशीन पर दिए गए क्यूआर कोड को मोबाइल एप से स्कैन करना होगा। उसके बाद अपने मोबाइल पर ही जितनी अमाउंट निकालना है उसे डालना होगा। जिसके बाद एटीएम से कैश निकल जाएगा।

जिओ का करवाया रिचार्ज, गूगल-पे से निकल गए 45 हजार

अमृतसर: मजीठा रोड निवासी वकील अभय गुप्ता को हैकरों ने वीरवार रात 45 हजार रुपये की चपत लगा डाली। उन्होंने पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल को शिकायत दी है। सीपी ने साइबर शाखा को मामले की जांच के आदेश जारी किए हैं।
अभय गुप्ता ने बताया कि वीरवार रात उन्होंने अपने जिओ के सिम में 99 रुपये का रिचार्ज किया था। उक्त राशि का पैकेज उनके मोबाइल खाते में नहीं पहुंचा। कुछ देर बाद जिओ के कस्टमर केयर पर बात की, तो वहां अधिकारी ने उन्हें बताया कि वह जिओ एप्लिकेशन में जाकर रिफंड वाले कालम को भरें तो उनकी उक्त राशि वापस पहुंच जाएगी। उन्होंने कस्टमर केयर द्वारा बताई गाइडलाइन को फॉलो किया, लेकिन देखते ही देखते उनके खाते से पहले साढ़े चार हजार रुपये, फिर 4,999 रुपये और 19,999 करके अलग-अलग समय में कुल 45 हजार रुपये निकल गए। उन्होंने तुरंत मजीठा रोड स्थित पंजाब नेशनल बैंक शाखा में जाकर अपना खाता सील करवा दिया। इसके बाद उन्होंने पुलिस को सारे मामले की शिकायत दी।
बैंक करेगा सारा भुगतान: कानून माहिर
कानून माहिर रवि महाजन ने बताया कि साइबर क्राइम के मामलों में शिकायतकर्ता को 24 घंटे के भीतर बैंक को ठगी होने के बारे में शिकायत देनी होती है। कानून के मुताबिक इस तरह की ठगी में सारे पैसों का भुगतान संबंधित बैंक करता है। अगर बैंक गाइडलाइन का पालन नहीं करता तो उपभोक्ता अदालत का दरवाजा खटखटाया जा सकता है।

बंगाल की खाड़ी में बन रहा निम्न दाब क्षेत्र, 10 से 12 जून तक बारिश के आसार


नई दिल्ली मौसम विभाग के निदेशक डॉ. एसडी कोटाल ने बताया कि आठ जून तक पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी में निम्न दाब क्षेत्र बनने की संभावना है। सीवियर साइक्लोनिक स्टॉर्म निसर्ग बिहार व उत्तर-पूर्वी उत्तर प्रदेश की सीमा के समीप कमजोर हो चुका है। हालंकि इस सिस्टम के साथ जुड़ा साइक्लोनिक सर्कुलेशन फिलहाल बिहार व पूर्वी उत्तर प्रदेश की सीमा पर समुद्रतल से ऊपर 0.9 किमी. क्षेत्र में स्थित है। मौसम पूर्वानुमान के तहत उन्होंने बताया कि सात जून को रांची समेत आसपास के क्षेत्रों में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और गरज वाले बादल बन सकते हैं। आठ जून को आसमान साफ रहेगा। नौ जून को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और गरज वाले बादल बनने की संभावना है। 10, 11 व 12 जून को गरज के साथ बारिश होने की संभावना है। उन्होंने बताया कि सात व नौ जून को राज्य के दक्षिणी जिलों में कुछ स्थानों पर गरज के साथ वज्रपात व हल्की बारिश होने की संभावना है। 10 जून को राज्य के कई स्थानों व 11-12 जून को राज्य लगभग सभी स्थानों पर गरज के साथ वज्रपात व हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है। इधर, पिछले 24 घंटे में मंदरो में 60 मिमी., राजमहल में 50 मिमी., बारीजोर में 20 मिमी. व पत्थरगामा में 10 मिमी. बारिश दर्ज की गई। शनिवार को सामान्य तापमान की तुलना में जमशेदपुर का अधिकतम व न्यूनतम तापमान सामान्य रहा, जबकि डालटनगंज के अधिकतम तापमान में 6.0 व न्यूनतम तापमान में 4.0 डिसे. की गिरावट

ट्विटर से ‘भाजपा हटाने’ की खबरों पर सिंधिया ने तोड़ी चुप्पी, लिखा- ‘दुख की बात है कि…’

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश की राजनीति में शनिवार को उस वक्त हलचल मच गई, जब मीडिया में खबर चली कि दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्विटर प्रोफाइल से भाजपा हटा लिया है। दरअसल, सिंधिया के ट्विटर प्रोफाइल पर केवल जन सेवक और क्रिकेट प्रेमी लिखा हुआ है। ट्विटर प्रोफाइल से भाजपा हटाने खबरों के साथ ये चर्चाएं भी चलने लगीं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा से नाराज हैं और उन्होंने सरकार में अपने समर्थक विधायकों को मंत्री बनवाने के लिए ऐसा किया है। अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने खुद इस बात को स्पष्ट कर दिया है कि उन्होंने अपने ट्विटर प्रोफाइस से भाजपा हटाया था या नहीं।

‘झूठी खबरें, सच्चाई से कहीं ज्यादा तेजी से फैलती हैं’

अपने प्रोफाइल से ‘भाजपा हटाने’ की खबरों पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘दुख की बात है कि झूठी खबरें, सच्चाई से कहीं ज्यादा तेजी से फैलती हैं।’ इससे पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दो ऐसे ट्वीट भी रीट्वीट किए, जिनमें उनके भाजपा से नाराज होने या ट्विटर प्रोफाइल से भाजपा हटाने की बात का खंडन था। इन ट्वीट में लिखा था कि भाजपा में शामिल होने के बाद से ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्विटर प्रोफाइल में केवल जन सेवक और क्रिकेट प्रेमी ही लिख रखा है।

उपचुनाव के लिए प्रभारियों की सूची भी की रीट्वीट

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ऐसी खबरों को खारिज करने से पहले आज भाजपा की तरफ से मध्य प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए प्रभारियों की सूची को भी रीट्वीट किया। सूची को रीट्वीट करते हुए सिंधिया ने लिखा, ‘मध्य प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी द्वारा नियुक्त किए गए सभी प्रभारियों को मेरी ओर से हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। मुझे पूरा विश्वास है कि आप सभी का अनुभव और कार्यकर्ताओं की मेहनत भाजपा उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करेगा।’

सियासी गलियारों में चलने लगीं ये चर्चाएं

इससे पहले कयास लगाए जा रहे थे कि राज्य की शिवराज सरकार में अपने समर्थक विधायकों को ज्यादा से ज्यादा मंत्री पद दिलाने के लिए यह सिंधिया की दबाव बनाने की रणनीति का हिस्सा है। दरअसल, पिछले दिनों जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केवल 5 विधायकों को ही मंत्रिमंडल में शामिल किया तो उस समय भी सिंधिया समर्थक मंत्रियों को हल्के विभाग दिए जाने को लेकर कांग्रेस ने तंज कसा था। साथ ही सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के समय इस बात की चर्चा थी की उनके किसी समर्थक विधायक को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है। अब इन सारे कयासों पर खुद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने विराम लगा दिया है।

उपचुनाव से पहले बढ़ी सियासी हलचल

वहीं, शुक्रवार को ही भाजपा को एक बड़ा झटका उस वक्त लगा था, जब पूर्व मंत्री बालेंदु शुक्ला पार्टी से इस्तीफा देकर कांग्रेस में शामिल हो गए। बालेंदु शुक्ला को खुद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने घर पर पार्टी की सदस्यता दिलाई। बताया जा रहा है कि बालेंदु शुक्ला पिछले काफी समय से भाजपा से नाराज चल रहे थे। इसके बाद सिंधिया के भाजपा में आने से उनकी नाराजगी और बढ़ गई। दरअसल करीब 10 साल पहले बालेंदु शुक्ला ने सिंधिया पर आरोप लगाते हुए कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामा था। माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश के उपचुनाव में कांग्रेस उन्हें ग्वालियर विधानसभा सीट से मैदान में उतार सकती है।

जमीन हो या प्लॉट सबको मिलेगा ‘PM Awas Yojana’ का लाभ, सरकार देगी 2.50 लाख की रकम

नई दिल्ली/ पीएम आवास योजना एक ऐसी योजना है जिसके तहत सरकार सभी लोगों को अपना घर लेने में उनकी मदद करती है। इस योजना के तहत सरकार क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी के तहत जो लोग होम लोन लेते हैं उनका 2.50 लाख की सब्सिडी मुहैया कराती है। सरकार ने इस योजना की शुरुआत 2015 में की थी। उस समय इसका नाम हाउसिंग फॉर ऑल था। जिसे बाद में बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना रखा गया।

26 राज्यों तक पहुंचाना लक्ष्य
इस योजना के तहत सरकार अब 2020 तक देश के 26 राज्यों समेत 2508 शहरों तक इस योजना का लाभ पहुंचाना चाहती है। सरकार ने यह जो योजना चलाई है अब तक इसका लाभ हजारों लोग उठा चुके हैं और बड़ी संख्या में लोग अभी और इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं। ऐसे लोगों के मन में एक ही सवाल आता है कि क्या उनके पास प्लाट या जमीन है तो वह इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

प्लॉट और जमीन वालों को भी मिलेगा लाभ
ऐसे लोगों के लिए यह खुशखबरी है कि सरकार ने ऐसे लोगों को भी इस योजना का लाभ दिया है। बता दें इसके तहत आप पैसा लेकर अपना प्लॉट भी बनवा सकते हैं सरकार जिसके लिए आपको पैसा दे देगी। इसके लिए आपको इंडिविजुअल हाउस कंस्ट्रशन स्कीम के तहत फायदा दिया जाएगा।

सरकार ने कई तरह से लाभ की व्यवस्था
सरकार इसके लिए आपको कई तरह से लाभ देती है आप इसके जरिए स्मॉल फाइनेंस बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक और हाउसिंग फाइनेंस के जरिए भी अप्लाई कर सकते हैं। साथ ही साथ सरकार खुद भी सीधे योजना का लाभ देती है। सरकार ने लोन देने के लिए कमजोर आय वर्ग और मध्यम आय वर्ग समेत अन्य पिछड़ा जैसी कैटेगरी भी बनाई हैं।