शिवपुरी में मिला कोरोना पोजिटिव बाजार बंद अब केवल आवश्यक सेवायें जारी रहेंगी.

शिवपुरी कल उत्तरप्रदेश के जिला सहारनपुर तहसील देववंद से शिवपुरी आए कोलारस निवासी एक युवक मो. सोहिब पुत्र सरीफ खान की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद शहर में हडक़म्पपूर्ण स्थिति निर्मित हो गई। सोहिब को पुरानी शिवपुरी निवासी उसका मित्र मो. अकील टेवरा कार से लेने के लिए उत्तरप्रदेश गया था। उसके साथ कार चालक भी था। इन दोनों के सैम्पल भी स्वास्थ्य विभाग ने ले लिए हैं और उन्हें क्वरैंटीन कर दिया है।

वहीं मदरसे में रहने वाले लोगों की भी जांच की जा रही है। मौके पर स्वास्थ्य विभाग और पुलिस व प्रशासनिक विभाग की टीमों ने पहुंचकर मो. सोहिब को पकड़ लिया और उसे अस्पताल में लाकर क्वरैंटीन कर दिया है। आश्चर्य वाली बात यह है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा कल उसका सैम्पल लिया था फिर उसे क्वरैंटीन करने की जगह उसे वहां से जाने दिया। जबकि वह उत्तरप्रदेश के उस जिले से आया था जहां कुछ समय पहले जमाती पकड़े गए थे।

इस पूरे मामले में स्वास्थ्य विभाग की गंभीर लापरवाही उजागर हुई है। पुलिस और प्रशासन मिलकर सोहिब की ट्रेवल हिस्ट्री खंगालने के साथ-साथ यह भी पता लगा रही है कि कहीं यह जमातियों के सम्पर्क में तो नहीं आया है। फिलहाल पुलिस ने पूरे ईदगाह क्षेत्र को वैरीगेट्स लगाकर सील कर दिया है और लोगों के आने जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। साथ ही ईदगाह में रहने वाले लोगों को भी क्वरैंटीन किया गया है।

जानकारी के अनुसार कोलारस में सब्जी मंडी के पास निवासरत मो. सोहिब पुत्र सरीफ खान उम्र 27 वर्ष उत्तरप्रदेश के देवबंद जिले के सारंगपुर में स्थित मदरसे में धार्मिक शिक्षा ग्रहण करता था और बताया जाता है कि कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन के कारण वह कोलारस नहीं आ सका था। इसलिए पुरानी शिवपुरी निवासी मो. अकील से उसकी बात हुई।

बकौल मो. सोहिब अकील ने प्रशासन से विधिवत अनुमति प्राप्त की और वह टवेरा कार से देवबंद पहुंचे। उनके साथ ड्रायवर भी था और वह तीनों कल शिवपुरी वापस आ गए। जहां अकील ने उसे ईदगाह मदरसे में ठहरा दिया। जहां प्रशासन ने उसका सैम्पल लिया और आज उसकी जांच पॉजिटिव आ गई।
एक बार शिवपुरी के बाजार फिर से बंद कर दिये गये हैं लेकिन आवश्यक सेवायें जारी रहेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *