ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भेजी लाखों की खाद्य सामग्री 

संकट की घड़ी में फिर आगे आया सिंधिया परिवार

शिवपुरी-कोविड-19 (कोरोना) महामारी ने जिस तरह से पैर पसारे जिसके चलते केन्द्र सरकार को इस महामारी पर लगाम कसने हेतु लॉकडाउन का सहारा लेना पडा और ऐसे में तमाम रोज कमाने-खाने वाले, गरीब, हरिजन, आदिवासी वर्ग एवं नि:सहायों के सामने अपनी आजीविका चलाना मुश्किल हो गया और इस संकट की घड़ी में एक बार फिर सिंधिया परिवार सामने आया और लोगों की खाद्य सामग्री के रूप में आवश्यक सहायता पूरे संसदीय क्षेत्र में बड़े पैमाने पर की। इसी क्रम में शिवपुरी जिले को 2500 खाद्य सामग्री ब्राण्डेड किट जिला प्रशासन को आज 02 मई 2020 को श्रीमंत सिंधिया जनसम्पर्क कार्यालय पर सैंकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में सुपुर्द की। जिला प्रशासन की टीम में जिला पंचायत सीईओ एच.पी.वर्मा एवं अमला तथा अनुविभागीय अधिकारी अरविन्द वाजपेयी उपस्थित रहे, जिन्हें किट का प्रति नग चैक करा कर सम्पूर्ण सामग्री सुपुर्द की गई।  

उक्त जानकारी देते हुए कार्यालय प्रभारी प्रहलाद सिंह यादव ने बताया कि ज्ञात रहे कि सन् 1983 में बाढ़ प्रभावितों को कैलाशवासी श्रीमंत माधवराव सिंधिया द्वारा भी बड़े पैमाने पर आवश्यक सहायता उपलब्ध कराई थी। इसी क्रम में सिंधिया परिवार के मुखिया एवं राज्यसभा से सांसद प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया जी कोरोना महामारी जैसी संकट की इस घड़ी में आगे आये और लाखों की खाद्य सामग्री क्षेत्र की जनता को भेजी, जिला प्रशासन की टीम प्रत्येक विधानसभा में हर जरूरतमंद को मुहैया करायेगी। इसके पूर्व प्रथम लॉकडाउन के समय ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 30 लाख रूपये की राशि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री फण्ड में भी भेज चुके हैं। 

इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष राजू बाथम, बैजनाथ सिंह यादव, सुरेश राठखेडा, पूर्व विधायक, हरवीर सिंह रघुवंशी, महेन्द्र यादव पूर्व विधायक, राकेश गुप्ता, विजय शर्मा, रविन्द्र शिवहरे, प्रहलाद सिंह यादव, पवन जैन, सिद्धार्थ लढ़ा, राजेन्द्र शर्मा, केशव सिंह तोमर, हेमन्त ओझा जिला उपाध्यक्ष, राकेश राठौर मीडिया प्रभारी, प्रभात मिश्रा, अमित भार्गव, धनपाल यादव अध्यक्ष पिछडा वर्ग मोर्चा, छत्रपाल सिंह गुर्जर, कपिल भार्गव, संजय सांखला, मुकेश जैन पत्रकार, मुकेश जैन खरई, योगेन्द्र यादव, धीरज जामदार, जुलियस चौहान, शैतान सिंह यादव, उत्कर्ष शुक्ला सहित सैंकड़ों भाजपाई उपस्थित रहे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *