कोरोना लॉकडाउन के दौरान पूर्व मंत्री ने पेश की एक मिसाल बेटे से गलती के लिये माफी मंगवाई.

ग्वालियर। पूर्व मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के बेटे को बिना मास्क पहने रोकना पुलिसकर्मी को भारी पड़ गया। पूर्व मंत्री के बेटे ने खुद का परिचय देते हुए बंगले पर बुलाकर देख लेने की धमकी दी। उधर नवयुवक का परिचय मिलते ही पुलिस ने यू टर्न मारा और मौके पर मौजूद टी आई स्तर के अधिकारी ने उल्टा सॉरी बोलते हुए अपने पास से मास्क दिया और वहाँ से रवाना कर दिया। लेकिन इस घटना का वीडियो वायरल हो गया। जानकारी मिलने के बाद प्रद्युम्न सिंह तोमर बेटे को लेकर पुलिस के पास पहुंचे, माफी मंगवाई और चालान कटवाया। इतना ही नहीं पूर्व मंत्री ने पुलिसकर्मियों का आभार जताते हुए सभी से मास्क पहनने की अपील भी की।

पूर्व मंत्री और भाजपा नेता प्रद्युम्न सिंह तोमर के बेटे रिपुदमन सिंह का पुलिस से अभद्रता करते वीडियो वायरल होने के बाद रिपुदमन के माफ़ी मांगने और चालान कटवाने के बाद मामले का पटाक्षेप हो गया है। दरअसल गुरुवार को दिन के समय रिपुदमन सिंह अपने चार पांच दिन के पपी को लेकर डॉक्टर के पास जा रहे थे। वो बिना मास्क के एक्टिवा पर थे। रास्ते में उन्हें पुलिस ने रोका और बिना मास्क के नहीं निकलने की नसीहत दी तो रिपुदमन ने पुलिस से पहले कहा कि वो डॉक्टर के पास जा रहे हैं हवा से मास्क गिर गया है, लेकिन पुलिस द्वारा कड़ाई से बोलने के बाद रिपुदमन ने भी पुलिस के साथ अभद्रता की और बंगले पर बुलाने की धमकी तक दे डाली। बाद में पुलिस को मालूम पड़ा कि वे पूर्व मंत्री के बेटे हैं तो वहाँ मौजूद पुलिस स्टाफ दाएं बाएं होने लगा। ट्रैफिक पुलिस के सिपाही भी उनसे सॉरी कहने लगे और रोकने वाले पुलिसकर्मी को माफ करने की बोलने लगे। टी आई ने भी उनसे सॉरी कहा और मास्क देकर समझा कर रवाना कर दिया।

लेकिन किसी ने इस घटना का वीडियो बना लिया जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वायरल वीडियो की जानकारी पूर्व मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को लगी तो वे बेटे को लेकर वापस उसी पॉइंट पर पहुंचे और बेटे से माफ़ी मंगवाई, साथ ही चालान भी कटवाया। उन्होंने कहा कि बेटा चार पांच दिन के पपी को लेकर डॉक्टर के पास गया था उसका मास्क गाड़ी पर कहीं गिर गया था। पुलिसकर्मियों को वो बिना मास्क के वाहन चलाता मिला इसलिए उसकी गलती है। इसलिए मैंने उससे माफी मंगवाई है और चालान की रसीद कटवाई है। प्रद्युम्न सिंह ने पुलिस कर्मियों के काम की सराहना करते हुए कहा कि ये संकट का समय है इसलिए मास्क लगाकर निकालना चाहिए। उधर पुलिस ने किसी भी तरह के विवाद से इंकार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *