गेहूं के बाद अब चना-मसूर की समर्थन मूल्य पर होगी खरीदी, 29 अप्रैल से आएंगे मैसेज

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वर्तमान में प्रदेश में चल रहे गेहूं उपार्जन कार्य के साथ ही आगामी 29 अप्रैल से चना एवं मसूर की भी समर्थन मूल्य पर खरीदी प्रारंभ की जाएगी। सीएम ने निर्देश दिये कि इसके लिए सभी जिलों में आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। गाइड लाइन, लॉक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए यह कार्य प्रारंभ कराया जाए।
3 लाख 72 हजार किसानों से 16 लाख 73 हजार एमटी गेहूं खरीदी
गेहूं उपार्जन के विषय में प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि प्रदेश के सभी उपार्जन केन्द्रों पर अभी तक 3 लाख 72 हजार किसानों से 16 लाख 73 हजार एमटी गेहूं खरीदी गया है। किसानों को त्वरित भुगतान के लिए 560 करोड़ रूपये की राशि बैंकों को भिजवा दी गई है, जिसमें से 36 करोड़ रूपये किसानों के खातों में पहुंच चुके हैं।
फर्जी एसएमएस भेजने पर समिति सेवक निलंबित
बैठक में बताया गया कि श्योपुर में एक सहकारी समिति सेवक ने किसानों को फर्जी एसएमएस भेज कर उपार्जन केन्द्र पर बुलाने का एक प्रकरण सामने आया है। इससे वहाँ उपार्जन केन्द्र पर किसानों की भीड़ लगी। मामले में समिति सेवक को निलंबित कर उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।
सीमित संख्या में भेजे जा रहे हैं एसएमएस
प्रमुख सचिव कृषि अजीत केसरी ने चना, मसूर की खरीदी के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि इसके लिए प्रतिदिन 6-6 किसानों को एसएमएस भेजे जा रहे हैं। इससे लॉक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकाल का पालन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अधिकांश जिलों में सरसों की खरीदी भी प्रारंभ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *