Jharkhand : कोरोना से घबराएं नहीं ! सिर्फ विटामिन सी से परास्त हो रहा यह खतरनाक वायरस

बोकारो विटामिन सी से कोरोना का वायरस हार गया। बोकारो जनरल अस्पताल से शनिवार को चार कोरोना मरीजों को छुïट्टी दी गई। पहले ढाका और उसके बाद निजामुद्दीन की तब्लीगी जमात में जाकर संक्रमित हुई महिला को भी विटामिन सी की गोली खाकर कोरोना के वायरस से मुक्ति मिल गई।

अभी तक कोरोना के इलाज की दवा नहीं बन सकी है। बोकारो में कोरोना के मरीजों के इलाज के दौरान अध्ययन में यह बात आयी है कि जिनके भीतर रोग प्रतिरोधक क्षमता सबल होगी, वह कोरोना को परास्त कर देगा। विटामिन सी शरीर में रोग प्रतिरोध की क्षमता बढ़ाता है। बोकारो जनरल अस्पताल में कोरोना के नौ मरीजों का इलाज चल रहा था। सभी को संतुलित आहार के साथ विटामिन सी की गोलियां दवा के तौर पर दी गई। चिकित्सकों की सोच थी कि रोग प्रतिरोध की क्षमता बढ़ेगी तो मरीज ठीक हो जायेंगे। किसी मरीज को बुखार, बदन में अकड़, गला में दर्द या खांसी की शिकायत नहीं हुई। चार मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल को अलविदा कर चुके हैं। पांच और मरीज इलाजरत है। कोविड अस्पताल के चिकित्सकों का आकलन है कि उनकी भी सेहत में तेजी से सुधार है।
विटामिन सी से जीवाणु या वायरस हो जाते परास्त
प्रतिरक्षा प्रणाली दमदार है तो शरीर के भीतर हमला करने वाले अलग-अलग रोगों के जीवाणु या वायरस परास्त हो जाते हैं। विटामिन सी की कमी नहीं हो तो सर्दी-खांसी जैसी बीमारी दूर रहती है। बोकारो अस्पताल के चिकित्सक बताते हैं, विटामिन-सी की कमी से शरीर में विशेष ऊतक की कमी होती है। इससे रक्त स्राव का खतरा बढ़ता है।

विटामिन सी के लिए इनका करें सेवन
आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, अंगूर, टमाटर, अमरूद, सेव, केला, बेर, बेल, कटहल, पुदीना, मूली पत्ता, मुनक्का, दूध, चुकंदर, चौलायी साग, बंद गोभी, हरा धनिया और पालक।
कोरोना के मरीजों को विटामिन सी की गोली दी जा रही है। खांसी, बुखार या गले में दर्द जैसी शिकायत नहीं थी। इसलिए कोई और दवा नहीं दी गयी। चार मरीज वायरस से मुक्त हो चुके हैं। शेष मरीजों की हालत में सुधार है।

-डॉक्टर अशोक कुमार पाठक, सिविल सर्जन, बोकारो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!