कलेक्टर ने क्राइसिस मैनेजमेंट के लिए नेताओं से लिये सुझाव

ग्वालियर 23 अप्रैल 2020/ नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये सावधानियां अति आवश्यक हैं। ग्वालियर जिले में संक्रमण की रोकथाम के लिये सभी के सहयोग से विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। इस कार्य में जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संस्थाओं का भी विशेष सहयोग प्राप्त हो रहा है। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने यह बात गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आपदा प्रबंधन (क्राइसेस मैनेजमेंट) के लिये जनप्रतिनिधयों की बैठक में कही।
जिले में आपदा से निपटने के लिये और प्रभावी उपायों को करने के लिये जनप्रतिनिधियों के सुझाव महत्वपूर्ण हैं। जनप्रतिनिधियों के सुझाव के लिये आयोजित इस बैठक में क्षेत्रीय सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनीषा भुजवल सिंह यादव, पूर्व मंत्री श्री लाखन सिंह यादव, पूर्व मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, विधायक श्री भारत सिंह कुशवाह, विधायक श्री प्रवीण पाठक, पूर्व विधायक श्री मुन्नालाल गोयल, श्री रमेश अग्रवाल एवं श्री मदन कुशवाह, जिला अध्यक्ष भाजपा श्री देवेश शर्मा, ग्रामीण अध्यक्ष श्री वीरेन्द्र जैन, पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त श्री संदीप माकिन, एडीएम श्री टी एन सिंह, श्री किशोर कन्याल सहित सिविल सर्जन एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
जनप्रतिनिधियों के सुझाव के लिये आयोजित क्राइसेस मैनेजमेंट की इस बैठक में सभी जनप्रतिनिधियों ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। क्षेत्रीय सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयास सराहनीय है। आम जनों को आवश्यक वस्तुओं की दिक्कत न हो, इसके लिये रणनीति तैयार कर कार्य किया जाना चाहिए। उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों के साथ-साथ एपीएल परिवार के ऐसे सदस्य जिन्हें आवश्यकता है उन्हें भी राशन की उपलब्धता सुनिश्चित की जाना चाहिए। लॉकडाउन के पश्चात भी जरूरतमंदों को किस प्रकार राशन की उपलब्धता होगी, यह भी अभी से तय किया जाना चाहिए।
पूर्व मंत्री श्री लाखन सिंह यादव ने बैठक में सुझाव दिया कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये जिले की सीमा में प्रवेश रोकने हेतु जो चैक प्वॉइंट बनाए गए हैं उस पर भी प्रभावी नियंत्रण आवश्यक है। इसके साथ ही चैक पोस्ट के अतिरिक्त अन्य मार्गों से भी दोपहिया वाहनों से आने वाले लोगों की निगरानी एवं जांच के लिये प्रभावी उपाय किए जाना चाहिए।
पूर्व मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बैठक में कहा कि इस संकट की घड़ी में कोई भी व्यक्ति अनाज से वंचित न रहे, इसकी चिंता की जाना चाहिए। गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों के साथ-साथ ऐसे परिवार जो जरूरतमंद हैं उन्हें भी समय पर राशन मिले, इसकी चिंता हम सबको करना चाहिए। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये किए गए प्रतिबंधात्मक आदेशों का पालन भी कड़ाई से सुनिश्चित किया जाना चाहिए।
विधायक श्री भारत सिंह कुशवाह ने बैठक में कहा कि शहर के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र में भी किसानों को अपनी उपज बेचने व खेती किसानी के कार्य के लिये आने-जाने में कोई परेशानी न हो, यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए। विधायक श्री प्रवीण पाठक ने कहा कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये किए जा रहे प्रयास सराहनीय हैं। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में कोरोना के अतिरिक्त अन्य बीमारियों का इलाज कराने आ रहे मरीजों का भी पूरी तरह ध्यान रखा जाना चाहिए। सामान्य ओपीडी सभी शासकीय अस्पतालों में चालू रहे, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह भी आग्रह किया कि लॉकडाउन का कड़ाई से पालन किया जाए, लेकिन आम जनों की समस्याओं को देखते हुए सप्ताह में एक-दो दिन आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता के लिये दुकानों को खोला जाना चाहिए। इस अवधि में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी सुनिश्चित कराया जाना चाहिए।
पूर्व विधायक श्री मुन्नालाल गोयल ने कहा कि बस्तियों में भी सेनेटाइज करने के साथ-साथ साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। इसके साथ ही गरीब बस्तियों में लोगों को भोजन एवं राशन की उपलब्धता हो, यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए। बैठक में पूर्व विधायक श्री रमेश अग्रवाल, श्री मदन कुशवाह एवं जिला अध्यक्ष भाजपा श्री देवेश शर्मा ने भी अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का पालन कड़ाई से सुनिश्चित होना चाहिए। लेकिन आम लोगों की जरूरतों को देखते हुए सुरक्षा के साथ उनकी समस्याओं का भी निदान हो, यह सुनिश्चित किया जाए।
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में बताया कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। आम जनों को राशन की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु उचित मूल्य दुकानों के साथ-साथ नगर निगम के माध्यम से भी चलित सुपर मार्केट का संचालन कर खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन ने भी पुलिस विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी दी।
क्मांाा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *