एमके सिटी में आग: किसी ने छज्जे से कूदकर जान बचाई तो किसी को हाइड्रोलिक सीढी से उतारना पड़ा

ग्वालियर । आज रात तीन बजे न्यू सिटी सेंटर सिरोल इलाके में स्थित एमके सिटी टाउनशिप में बेसमेंट में कचरे में लगी आग आग इतनी भीषण हो गई कि इसमें वालो को अपनी जान के लाले पड़ गए । आग की लपटें फ्लोर दर फ्लोर आगे बढ़ती गई । भयभीत कुछ लोगों ने ऊपर बालकनी से नीचे कूदकर जान बचाई जिसमे तीन लोग घायल हो गए जबकि कुछ लोगों को हाइड्रोलिक सीढ़ियों से नीचे उतारना पड़ा।

कलक्ट्रेट से बमुश्किल पांच सौ मीटर दूरी पर स्थित बड़ी अभिजात्य टाउनशिप एमके सिटी में यह घटना आज तड़के लगभग पौने चार बजे घटित हुई । यहां के एफ ब्लॉक में यह घटना घटित हुई ।

सूत्रों की माने तो यहां के एफ ब्लॉक में बेसमेंट में पड़े कचरे में किसी तरह आग लग गई । आग की लपटों ने पहले लिफ्ट को अपनी चपेट में लिया और फिर सीढ़ियों के सहारे आग पहली मंजिल तक पहुंच गई । एकदम गर्माहट हो जाने से पहली मंजिल पर रहने वाले एक परिवार को कोई अंदेशा हुआ उंन्होने दरबाजा खोला तो चौंक पड़े क्योंकि आग की लपटों ने पूरे फ्लोर को कब्जे में ले लिया था । इन लोगों ने हंगामा किया तो आसपास के लोग भी नीचे इकट्ठे हो गए । लोग अपने फ्लैट छोड़कर जान बचाकर ऊपर की तरफ भागे जबकि तीन लोगों ने हड़बड़ी में ऊपर से नीचे की तरह छलांग लगा दी । यह लोगो घायल हो गए जिन्हें तत्काल अस्पताल भेजा गया । जबकि बीस लोग आग की लपटों में चौथी पांचवी मंजिल तक फंस गए जिन्हें निकालने के लिए हाइड्रोलिक सीढ़ियों की मदद लेनी पड़ी ।

अच्छा फ़ायरफाइटिंग सिस्टम भी नही आया काम

  बताया गया कि एमकी सिटी में अत्याधुनिक फायर फाइटिंग सिस्टम है लेकिन कर्मचारियों की ट्रेनिंग न होने से यह कोई काम नही आया । इसमें फायर को बुझाने के लिए तीन बड़ी पानी की टंकियां भी इनसे जुड़ी हुई है । लेकिन गार्ड ने इसमें पाइप को नही जोड़ा और इसे चला दिया जिससे पानी वहीं बह गया । हालांकि बाद में फायरब्रिगेड और स्थानीय लोगो ने अपने प्रयासों से आग पर काबू पाया । हालांकि इस अग्निकांड में कोई जनहानि तो नही हुई लेकिन कुछ फ्लेट को अपनी चपेट में ले लिया ।

निवासियों ने किया चक्काजाम

आज सुबह टाउनशिप निवासियों ने सड़क पर आकर गुस्से में चक्काजाम शुरू कर दिया । उनका आरोप था कि बिल्डर उनकी समस्याओं की अनदेखी करता है इसलिए ये जानलेवा घटना हो गई । वे बिल्डर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रहे थे। मौके पर पहुंचे सीएसपी रत्नेश तोमर और टीआई केपी यादव मौके पर पहुंचे उंन्होने जांच करके कार्यवाही का आश्वासन दिया तब जाम खुला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *