पुलिस का एक चेहरा यह भी है ध्यान दें…, बुजुर्ग महिलाओं को खिलाया खाना

शिवपुरी- इस समय कोरोना संक्रमण काल चल रहा है ऐसे में पुलिस जितना सख्त से काम कर रही है वहीं पुलिस का दूसरा रूप भी कई जगह देखने में आ रहा है ऐसा ही एक नजारा आज स्टेट बैंक ऑफ इंदौर शाखा गुरुद्वारा के सामने दिखाई दिए जहां पर 3 बुजुर्ग महिलाएं सड़क पर बैठी हुई थी जिन्हें पुलिस के रूप में अपनी कार सेवा दे रही महिला आरक्षक श्रीमती गोला सिंह रावत जो शिवपुरी पुलिस लाइन में पदस्थ हैं उनके द्वारा उन्हें स्वयं का खाना देते हुए देखा गया तो मन को आनंद प्राप्त हुआ और मन में सोचने में भी आया कि काश ऐसा यदि पुलिस विभाग में हर व्यक्ति करने लगे तो शायद लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास और अधिक जागृत हो लेकिन पुलिस की मजबूरी है यदि सख्ती से काम नहीं लिया तो बात बिगड़ सकती है इसलिए वह भी आवश्यक है। ऐसे में वह सभी पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों बधाई के पात्र है जो दिन रात एक कर के अपनी जान को हथेली पर रखकर इस विषम परिस्थितियों में अपना कर्तव्य निभा रहे हैं।

दी गई जिम्मेदारी को पूरा कर रही हॅंू : आर.गोला सिंह रावत

महिलाओं से जब चर्चा हुई तो उन्होंने बताया कि मेरा नाम गोला सिंह रावत है मैं करौली गांव की रहने वाली हूं और मेरी ससुराल मुरैना में है मुझे जो पॉइंट सेवा हेतु दिया गया है जहां पर मेरा उद्देश रहता है कि जो भी लोग परेशानी में हो उनकी परेशानी दूर करूं और इसी के चलते यह तीन बुजुर्ग महिलाएं जो किसी काम से बैंक आई हुई थी और आज बाबा साहब अंबेडकर जयंती होने के कारण छुट्टी थी और यह महिलाएं यही बैठी रह गई, तो मेरे लिए जो खाना विभाग की ओर से भेजा गया था मैंने इन्हें खिलाया और अभी इन्हें बिठा रखा है जैसे ही कोई वाहन सुविधा  मिलेगी इन्हें बड़ौदा तक भेजना पड़ेगा बहन गोला सिंह रावत  जिन्होंने पूरी कर्तव्य निष्ठा के साथ यह पुनीत कार्य किया है वह प्रशंसा योग्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *