मध्य प्रदेश के इन तीन जिलों की सीमाएं पूरी तरह सील, किसी भी शर्त पर बाहर नहीं निकल सकेंगे लोग

भोपाल/ मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर हालात दिन ब दिन बिगड़ते जा रहे हैं। प्रदेश में मौजूदा हालात पर गौर करें तो अब तक यहां कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 381 हो गई है, जबकि मरने वालों का आंकड़ा 24 पर जा पहुंचा है। इधर, तेजी से फैलते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए सरकार लगातार कड़े कदम उठा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए एक और कड़ा कदम उठाते हुए प्रदेश के तीन प्रमुख और अधिक संक्रमित शहरों को पूरी तरह सील करने का आदेश जारी किया है। इन शहरों में राजधानी भोपाल, इंदौर और उज्जैन को शामिल किया गया है। यानी अब इन तीन जिलों से आवाजाही पूरी तरह बंद रहेगी। इसके अलावा, संक्रमण वाले प्रदेश के अन्य 14 ज़िले टोटल लॉकडाउन तो हैं ही।

CMO Madhya Pradesh

@CMMadhyaPradesh

इंदौर, भोपाल एवं उज्जैन को टोटल सील करें: मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj

जिला प्रशासन के माध्यम से हो आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति

मुख्यमंत्री ने की कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा

Read More: https://bit.ly/2JMiQbl #MPFightsCorona

610
9:21 PM – Apr 8, 2020
Twitter Ads info and privacy
158 people are talking about this
किसी भी हाल आवाजाही नहीं होगी
कोरोना वायरस के प्रदेश में बढ़ते प्रभाव को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के भोपाल , इंदौर और उज्जैन को पूरी तरह सील करने का आदेश दिया। इन तीनों ज़िलों की सीमाएं अब से पूरी तरह सील रहेंगी। यानी इन जिलों में रहने वाले लोग किसी भी शर्त पर जिले के बाहर नहीं जा पाएंगे और न ही कोई अन्य जिले का व्यक्ति किसी भी शर्त पर जिले में प्रवेश नहीं कर सकेगा। आपको बता दें कि, बुधवार सुबह ही सीएम की ओर से ये संकेत मिलने लगे थे कि, भोपाल-इंदौर बॉर्डर पूरी तरह सील हो सकती है।

मिलता रहेगा जरूरी सामान
मुख्यमंत्री के आदेश पर इन तीनों जिलों को पूरी तरह सील जरूर किया जा रहा है, यहां जरूरी सामान की सप्लाई सुचारी रहेगी। लोगों की जरूरत से संबंधित सभी चीजों की आपूर्ति की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की जवाबदारी में रहेगी।

संक्रमण छुपाने वाले पर सख्त सरकार
शिवराज सिंह चौहान ने ये फैसला भी लिया कि, अब जो भी व्यक्ति कोरोना बीमारी को जानबूझकर छुपाएगा उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर और दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

अब तक बिगड़ चुके हैं इतने हालात
बता दें कि, बीते 24 घंटों के दौरान बुधवार रात तक प्रदेश में कोरोना के रिकॉर्ड 91 नए मामले सामने आए हैं। इसके बाद अब प्रदेश में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 381 हो गई है। आपको बता दें कि, बुधवार को मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक बार फिर कोरोना का शिकार होकर 3 पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई है। सिर्फ शहर में ही कोरोना वायरस से संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या 16 हो गई है। इसके बाद अब प्रदेशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित होकर जान गवाने वालों की संख्या 24 हो गई है।

इंदौर के हालात बेहद खराब
प्रदेशभर में सबसे ज्यादा खराब हालात इंदौर के हैं। मंगलवा को जहां शहर में कोरोना का कोई भी नया केस सामने नहीं आया था, जिसके बाद स्थानीय प्रशासन के माथे की लकीरें थोड़ी कम हुई ही थीं। लेकिन बुधवार को सामने आई रिपोर्ट में मानो शहर में कोरोना के प़जिटिव मरीजों का सेलाब आ गया। सिर्फ एक दिन में ही शहर में कोरोना के 63 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। साथ ही, 3 अन्य संक्रमित मरीजों ने आज अपनी जान भी गवा दी है। इसके बाद शहर में अब तक कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 213 हो गई है। जबकि, मृतकों की संख्या 16 हो चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार, 28 लोगों की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। हालांकि, राहत की बात ये है कि, इनमें से 152 मरीजों का हालत स्थिर है, तो वहीं 17 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

भोपाल बना कोरोना का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट
बुधवार को राजधानी भोपाल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में एक बार फिर बढ़ोतरी हुई। बुधवार रात तक शहर में कोरोना के 09 नए प़जिटिव सामने आए। इसके बाद शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 94 हो गई है। सोमवार को शहर में 1 कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत भी हो चुकी है। जिसके चलते प्रशासन और स्वास्थ विभाग की चिंता शहर को लेकर और भी बढ़ गई है। अचानक बड़े इतने मामलों के चलते भोपाल प्रदेश का पहला हॉटस्प़ॉट घोषित कर दिया गया है। साथ ही, कलेक्टर द्वारा जिले को रविवार रात 12 बजे से आगामी आदेश तक टोटल लॉकडाउन किया गया है। हालांकि, अब राहत की बात ये है कि, अब तक शहर में सामने आए संक्रमितों में से 91 की हालत स्थिर है, वहीं, 2 लोग स्वस्थ होकर अपने घर भी लौट चुके हैं।

प्रदेश के अन्य जिलों में इस प्रकार है कोरोना संक्रमितों की संख्या
1-उज्जैन में कोरोना के 15 केस सामने आ चुके हैं। इनमें 10 लोगों की हालत में सुधार है, जबकि 5 मरीज अपनी जान भी गंवा चुके हैं।
2-जबलपुर में कोरोना के 8 मामले सामने आ चुके हैं, इनमें से 3 मरीज अब तक पूरी तरह ठीक हो चुके हैं।
3-ग्वालियर में मंगलवार को कोरोना के 6 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 04 की हालत स्थिर है। जबकि, 2 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।
4-शिवपुरी में अब तक कोरोना के 2 मामले सामने आए हैं। जबकि 1 पूरी तरह स्वस्थ हो चुका है।
5-खरगौन में आज कोरोना के 08 नए प़जिटिव सामने आए हैं। इसके बाद शहर में संक्रमितों की संख्या 12 हो गई है। जबकि, इनमें से 1 मरीज की मौत भी हो चुकी है। वहीं, अन्य 11 की हालत स्थिर है।
6-मुरैना में आज फिर कोरोना का 01 पॉजिटिव मरीज मिला है। अब जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या 13 हो गई है। फिलहाल सभी मरीजों की हालत स्थिर है।
7-छिंदवाड़ा में अब तक कोरोना के 2 मरीज सामने आए हैं। इनमें से 1 की मौत हो चुकी है। वहीं, दूसरे की हालत स्थिर है।
8-बड़वानी में आज कोरोना के 9 नएप़जिटिव मिले हैं। इसके बाद जिले में अब तक संक्रमितों की संख्या 12 हो गई है। फिलहाल, सभी की हालत स्थिर है।
9-बैतूल में अब तक कोरोना का 1 पॉजिटिव मरीज मिला है, जिसकी हालत स्थिर है।
10-विदिशा में अब तक कोरोना का 1 पॉजिटिव मरीज मिला है, जिसकी हालत स्थिर है।
11-श्योपुर में अब तक कोरोना का 1 पॉजिटिव मरीज मिला है, जिसकी हालत स्थिर है।
12-प्रदेश में 1 अन्य राज्य का भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव है। हालांकि, उसकी हालत भी स्थिर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *