कोरोना पॉजिटिव वाले क्षेत्र किये सील ,सम्पर्कियों की तलाश जारी

ग्वालियर। मंगलवार को एक साथ चार क्रोना पॉजिटिव मरीज  पूरे शहर में हड़कंप मचा हुआ है। प्रशासन ने रिपोर्ट आने के बाद से ही लॉक डाउन का पालन कराने में और कड़ाई शुरू कर दी है। चप्पे -चप्पे पर पुलिस चेकिंग कर रही है।

लगभग दो सप्ताह के बाद कल आयी रिपोर्ट में अचानक चार लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने से हड़कंप मच गया है। सबसे चिंता की बात ये है कि सभी चारो मरीज अलग – अलग इलाकों के है और इनमे तीन महिलाये शामिल है।

एक नर्स भी कोरोना पीड़िता –

बताया गया है कि कल जिन लोगों की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है उनमें एक जेएच में कार्यरत एक नर्स शामिल है। इससे स्वास्थ्य विभाग के हाथ – पाँव फूल गए है।  वह पहला मौक़ा है जब स्वास्थ्य विभाग से जुड़े किसी व्यक्ति को करवा संक्रमित पाया गया है।  विभाग इस तफ्तीश में जुटा है कि यह नर्स -किन  किन मरीजों के सम्पर्क में आई थी ताकि उन्हें भी कोरेन्टाइन किया जा सके।

चारो मरीजों का उपचार शुरू

कल पॉजिटिव आने वाले चारो मरीजों का  हो गया है।  मरीज तो पहले ही जेएच के आइसोलेशन वार्ड  थे जबकि  बाकी दो जिला  चिकित्सालय में भर्ती थे इन्हे सुपर स्पेसिलिटी अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

बैंक रहीं बंद –

दो दिन बाद कल बैंक खुली थी तो जन धन खाते में जमा पैसे निकालने महिलाओं की बड़ी भीड़ बैंको पर पहुँच  सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जिया उड़ गई थी।  अनेक जगह पर  पर पहुंचकर स्थिति को सम्भाला तो कई जगह उन्हें खदेड़ना भी पड़ा. शाम तक करना पॉजिटव रिपोर्ट मिलने के बाद  को भी बंद  करने  जारी  कर दिए।

मरीजो की ट्रेवल हिस्ट्री की पड़ताल

रिपोर्ट आते ही प्रशासन ने पुलिस की मदद से पीड़ितों के घरों के आसपास के इलाकों को पूरी तरह सील कर दिया है । यहां टोटल सेनेटाइज़ेशन हो रहा है और मरीज की किस से मिले उन्हें तलाशा जा रहा है ताकि उन्हें भी कोरेन्टीन किया जा सके।

मेडिकल स्टोर्स पर भीड़

हालांकि लॉक डाउन में मेडीकल सेवाएं अलग रखी गई है लेकिन दवाई की दुकानों पर भीड़ लग रही है क्योंकि प्रशासन ने चुनिंदा दुकानो को खोलने की ही इज़ाज़त दी है । लोगो का कहना है दवा की सभी दुकाने खोल दी जाए तो भीड़ होना बंद हो जाएगी।

सब्जी का भयंकर संकट

लगातार चल रहे लॉक डाउन में शहर में हरी सब्जी का संकट खड़ा हुआ है । ठेलो पर सब्जी बिक नही रही और ऑनलाइन पर्याप्त सप्लाई हो नही पा रही जिससे लोग खासे परेशान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *