आवकारी विभाग ने 10844करोड का राजस्व अर्जित किया.

🔹
➖डा.भूपेन्द्र विकल➖
इन्दोर।कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद भी मध्य प्रदेश आबकारी विभाग ने बीते साल की तुलना में 1338 करोड़ से अधिक का राजस्व प्राप्त किया है।
इसे मिलाकर विभाग द्वारा बीते वित्त वर्ष में विभाग सरकार के खजाने में वर्ष 2019-20 के दौरान 10844 करोड़ का राजस्व दे चुका है।

इसी तरह से विभाग द्वारा इस वर्ष नई आबकारी नीति के अन्तर्गत शराब ठेकों की कारवाही कर रहा है, जिससे बीते साल की तुलना में 25 फीसदी तक अधिक आय होने की उम्मीद है।
इस साल अब तक चौथे चरण तक की कार्रवाई में 40 जिलों में शराब दुकानों की नालामी की जा चुकी है।

जिससे अब तक 9874 करोड़ 21 लाख से अधिक की राशि प्राप्ति हो चुकी है।

पांचवें चरण में तीन प्रमुख जिलों धार, शिवपुरी और बड़वानी के लिए नीलामी की जानी है।
आबकारी आयुक्त राजेश बहुगुणा के मुताबिक नई नीति के अनुसार 331 समूहों का निष्पादन कर लिया गया है।
वर्ष 2019-20 के आखिरी माह में आबकारी विभाग ने गत वर्ष 2018-19 के राजस्व 9506 करोड़ के विरुद्ध 2019-20 में 10844 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित किया है।
लाइसेंस फीस में मिलेगी छूट
शासन स्तर पर निर्णय लिया गया है कि लॉकडाउन अवधि 14 अप्रैल तक लायसेंसी शराब ठेकेदारों को शासन द्वारा लिए जाने वाले निर्धारित शुल्क में छूट दी जाएगी।
इसका लाभ 1 अप्रैल से शुरू हुए नए वित्तीय वर्ष और पिछले वित्तीय वर्ष वाले दोनों की ठेकेदारों को मिलेगा।

ड्यूटी में छूट देने से शासन को करोड़ों रुपए राजस्व का नुकसान होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *