मध्यप़देश ग्वालियर चंबल संभाग में 16,17 जनवरी तक जारी रहेगी बरसात.

सप्ताह के शुरुआत में उत्तरी भारत में मौसमी गतिविधियां दर्ज की गई और अब एक बार फिर एक छोटे से अंतराल के बाद ताजा सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र को आज से प्रभावित करता नजर आ रहा है और साथ ही दक्षिण पश्चिम मध्य प्रदेश पर एक चक्रवाती परिसंचरण भी मौजूद है जिससे नमी उत्तर भारत का रूख करेगी।
ज्ञात रहे कि पश्चिमी हरियाणा, पश्चिमी पंजाब और उत्तर पश्चिमी राजस्थान पर कोई महत्वपूर्ण मौसमी गतिविधि होने की संभावना बिल्कुल भी नहीं है।
शेष हिस्सों और राज्यों में 16 जनवरी से लेकर 17 जनवरी की दोपहर तक मैदानी इलाकों में बारिश व ओलावृष्टि अपेक्षित है।वही पहाड़ी इलाको में बर्फ़बारी का ताजा दौर दर्ज किया जाएगा।

🔺16-17 जनवरी के बीच निम्न स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश/ बर्फ़बारी के आसार है:-

• हिमाचल प्रदेश: – कांगड़ा, धर्मशाला, चम्बा, हमीरपुर, ऊना, मंडी, नाहन, सोलन, बिलासपुर, सुंदरनगर में हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है।

♦ बिजली की गड़गड़ाहट के साथ-साथ ओलावृष्टि गतिविधियों और बारिश के भारी दौर उपरोक्त स्थानों पर पृथक स्थानों पर दर्ज हो सकते हैं।

• केयलांग, कल्पा, लाहौल स्पीति, कुल्लू, शिमला, कुफरी, डलहौजी, चम्बा, मनाली, किन्नौर और आसपास के क्षेत्रों में भारी बर्फबारी की उम्मीद है।

• उत्तराखंड: – अल्मोड़ा, चंपावत, देहरादून, हरिद्वार, मुक्तेश्वर, मसूरी, पंतनगर, टिहरी, चमोली में विशेष रूप से मध्यम से भारी बारिश होने की उम्मीद है।

♦ऊपर उल्लिखित स्थानों में अलग-अलग ओलावृष्टि गतिविधियों के साथ-साथ बिजली की गड़गड़ाहट हो सकती है।

• बद्रीनाथ, केदारनाथ और चमोली के आसपास भारी से बहुत भारी हिमपात होने की उम्मीद है।

🔺16-17 जनवरी की अवधि के दौरान निम्न स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है:-

पंजाब: – ज्यादातर बादल छाए रहेंगे; नवांशहर, रूपनगर, सासनगर, फतेहगढ़ साहिब, पटियाला, मोहाली और चंडीगढ़ में तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की जाएगी।

♦ ऊपर उल्लिखित स्थानों पर ओलावृष्टि पृथक स्थानों पर हो सकते हैं।

• हरियाणा और दिल्ली एनसीआर: – मुख्यतः बादल छाए रहेंगे; चंडीगढ़, पंचकुला, यमुनानगर, अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, जींद, पानीपत, रोहतक, नूंह, मेवात, पलवल, सोनीपत, झज्जर, गुड़गांव, फरीदाबाद और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हल्की से मध्यम बारिश के साथ तेज हवाएं देखी जाएंगी।

♦ उपर्युक्त स्थानों में पृथक स्थान ओलावृष्टि की गतिविधियां हो सकते हैं।

• उत्तरप्रदेश: – मुख्यतः बादलवाही; सहारनपुर, मुज़फ़्फ़रनगर, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, बुलंदशहर, मेरठ, बागपत, अलीगढ़, गाज़ियाबाद, गौतम बुद्ध नगर (नोएडा), आगरा, मथुरा, पीलीभीत, कानपुर, झांसी लखनऊ, बांदा, शाहजहांपुर, सीतापुर, हरदोई, फैजाबाद, बलरामपुर, सुल्तानपुर, जौनपुर, प्रयागराज, वाराणसी, मऊ, मिर्जापुर, गोरखपुर व रायबरेली में हल्की से मध्यम बारिश के साथ तेज़ हवाएं दर्ज की जाएंगी।

♦ उपर्युक्त क्षेत्रों में पृथक स्थान ओलावृष्टि की गतिविधियों और भारी वर्षा का दौर देख सकते हैं।

• राजस्थान: – ज्यादातर बादल छाए अजमेर, जयपुर, अलवर, अलवर, दौसा, पाली, अजमेर, जालोर, भीलवाड़ा, सवाई माधोपुर, भरतपुर व धौलपुर में हल्की से मध्यम बारिश के साथ तेज हवाएं दर्ज की जा सकती है।

♦ उपर्युक्त राज्य में पृथक तौर पर ओलावृष्टि की गतिविधियाँ देखी जा सकती हैं।

• मध्य प्रदेश: ग्वालियर, मुरैना, छतरपुर, सागर, दमोह, कटनी, पन्ना, रीवा, शहडोल, उमरिया व सिंगरौली में हल्की से मध्यम बारिश और ओलावृष्टि के आसार हैं।

🔺 पश्चिमी विक्षोभ के कारण क्षेत्र में बादलों का प्रवाह बढ़ेगा इसलिए 16-17 जनवरी के दौरान क्षेत्र के न्यूनतम तापमान में वृद्धि होगी।वही उन्नत बारिश और बादलवाही के कारण अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *