अनुच्छेद 370 पर दिए भगोड़े जाकिर नाइक के बयान का मोदी-शाह खंडन क्यों नहीं करते: दिग्विजय सिंह

 

इंदौर. मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह नेभगोड़े जाकिर नाइक के एक बयान का जिक्र करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी औरगृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा। सिंह ने कहा कि जिस जाकिर नाइक को देशद्रोही करार देकर उस पर मुकदमे दायर किए गए हैं, उस जाकिर नाइक के विवादास्पदबयान का मोदी- शाह ने खंडन क्यों नहीं किया?

दिग्विजय सिंह ने कहा किजाकिर नाइक का हाल में बयान आया था, इसमें उसने कहा था कि मोदी- शाह के मध्यस्थ अधिकारियों ने सितंबर 2019 में उनसे संपर्क कर जम्मू-कश्मीर पर अनुच्छेद-370 हटाने के केंद्र सरकार के निर्णय का समर्थन करने की मांग की थी। जाकिर ने ये भी दावा किया था कि उन अधिकारियों ने370 हटाने कासमर्थन करने के एवज में उस पर लगे सभी मुकदमों कोहटाने और भारत वापसी में मदद करने का आश्वासन भी दिया था।

बुधवार को इंदौर में दिग्विजय द्वारा यह आरोप लगाने के पहले उन्होंने इसी मुद्देपर ट्वीट भी किया। जाकिर नाइक भारतीय जांच एजेंसियों की मोस्ट वांटेड सूची में भगोड़ाघोषित है।

भाजपा ने दिग्विजय पर लगाए थे आरोप
भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कांग्रेस और दिग्विजय सिंह पर जाकिर से संबंध रखने के आरोप लगाए थे। भाजपा प्रवक्ता ने कहा था कि जाकिर नाइक फाउंडेशन से कांग्रेस को डोनेशन मिलता रहा है। कांग्रेस और नाइक के बीच हमेशा से ही अच्छे संबंध रहे हैं।

2016 में मेलेशिया भाग गया था जाकिर
डॉक्टर जाकिर नाइक भारतीय जांच एजेंसियों की मोस्ट वांटेड सूची में भगोडा घोषित है। वह 2016 में भारत से भागकर मलेशिया चला गया था। मलेशिया सरकार ने जाकिर नाइक को स्थायी तौर पर रहने की इजाजत दे दी थी। जाकिर पर आरोप है कि उसने भारत में भड़काऊ भाषण दिए और युवाओं को आतंकी गतिविधि में शामिल होने के लिए भड़काया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *