200 करोड़ का मालिक, 2 साल अकेले हॉस्पिटल में पड़ा रहा, मरते वक्त भी अकेला था

मुंबई. यहां के पॉश एरिया में शुमार नेपियन सी रोड पर करीब 200 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी के मालिक निखिल झावेरी की जब बुधवार को मौत हुई, तब उनके पास कोई नहीं था। बेटा भी नहीं। निखिल दो साल से हॉस्पिटल में भर्ती थे। मानसिक और शारीरिक बीमारियों को झेल रहे निखिल का अंतिम समय में निमोनिया बिगड़ गया था। उनकी प्रॉपर्टी को लेकर फैमिली में विवाद चल रहा है। पुलिस भी काफी कोशिशों के बाद उनके बेटे से संपर्क कर सकी। उन्होंने दो शादियां की थीं। एक बेटा है, जो विदेश में रहता है।
बहन के घर से हुए थे गायब..
बात 2013 की है, जब निखिल कांदीवली में रहने वाली अपनी बहन के घर से अचानक गायब हो गए थे। हालांकि बाद में वे बोरीवली एरिया में मिले थे। तब उन्हें एक एनजीओ द्वारा संचालित आश्रम में भेज दिया गया था। तब तक उनकी पहचान तक नहीं हो पाई थी। जनवरी 2014 में जब निखिल की पहचान हुई, तब कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। कोर्ट ने निखिल की प्रॉपर्टी को थर्ड पार्टी से डील करने पर भी रोक लगा दी थी। हॉस्पिटल में भी निखिल अकेले ही भर्ती रहे।
दो शादियां की थीं..
बताते हैं कि झावेरी ने दो शादियां की थीं। हालांकि एक भी शादी नहीं टिक सकी। दूसरी पत्नी से उन्हें एक बेटा रेयान है। वो विदेश में रहता है। पुलिस ने उसी से संपर्क किया। निखिल की प्रॉपर्टी को लेकर उनकी दोनों पत्नियों के अलावा बहनों के पति विवाद कर रहे हैं। निखिल की पहली पत्नी दीप्ति पांचाल ने कोर्ट में हलफनामा भी दायर कर रखा है। मुंबई की इकनॉमिक ऑफेंस विंग मामले की जांच कर रही है।.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *