मध्यप़देश हनी ट्रेप में एक पूर्व सांसद से लिये गये थे लाखों रुपये.

भोपाल. मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के हाईप्रोफाइल हनीट्रैप (Honey Trap) केस में फंसे पूर्व सांसद की अश्लील सीडी को लेकर चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है. बताया जा रहा है कि इस पूर्व सांसद की एक नहीं, दो नहीं, बल्कि पूरी तीस सीडी (CD)बनाई गई थीं. इन सीडी के जरिए ही आरोपी महिला बार-बार उन्हें ब्लैकमेल कर रही थी. लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) से पहले टिकट कटने के डर से पूर्व सांसद ने आरोपी महिला को दुबई टूर पर भेज दिया था.

सूत्रों की मानें, तो जांच के दौरान एक ऐसी बात सामने आई है, जिससे जांच एजेंसी भी सकते में है. पता चला है कि एक पूर्व सांसद की सीडी एक बार नहीं, बल्कि कई बार बनाई गई है. इन्हीं सीडी के ज़रिए पूर्व सांसद से सबसे पहले दो करोड़ की रकम मांगी गई. यह सिलसिला यहीं नहीं थमा. टोटल तीस अश्लील सीडी बनने की वजह से माननीय को बार-बार ब्लैकमेल किया गया. एक बार इन्होंने खुदकुशी तक की कोशिश की थी. एक वरिष्ठ नेता के हस्ताक्षेप के बाद माननीय सदमे से उबर तो गए, लेकिन भोपाल की महिला आरोपी ने उनका पीछा नहीं छोड़ा. आरोपी महिला ने उन्हें बार-बार ब्लैकमेल भी किया और एनजीओ के लिए कई सरकारी काम भी कराए. भोपाल से गिरफ्तार इस महिला आरोपी से एसआईटी पूछताछ कर रही है.

बताया जा रहा है कि राजनीतिक पार्टी के संगठन के बड़े नेता के ज़रिए भोपाल की महिला आरोपी से पूर्व सांसद की पहचान हुई थी. उसके बाद आरोपी महिला अपने एनजीओ के काम से पूर्व सांसद से कई बार मिली. उसी दौरान पूर्व सांसद महिला के जाल में बुरी तरह फंस गए और उनकी एक के बाद एक कर पूरी तीस अश्लील सीडी बना दी गईं. ब्लैकमेल हुए पूर्व सांसद ने पहली बार पीछा छुड़ाने के लिए आरोपी महिला को पूरे दो करोड़ रुपए दिए.

जब आरोपी महिला ने तीस सीडी बनाए जाने की बात पूर्व सांसद को बताई, तो उन्होंने बदनामी के डर से खुदकुशी करने की कोशिश की थी. खुदकुशी की कोशिश की इस घटना के बाद आरोपी महिला कुछ महीनों तक शांत रही और इसके बाद उसने फिर पूर्व सांसद को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया. सांसद रहते हुए नेताजी ने आरोपी महिला के एनजीओ को फंडिंग दिलाई और कई सरकारी कामकाज भी किए.

हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में टिकट कटने के डर से पूर्व सांसद ने आरोपी महिला को कुछ महीनों के लिए अपने खर्च पर दुबई टूर पर भेज दिया. हालांकि, उसके बाद भी उन्हें टिकट नहीं मिला. हनीट्रैप में फंसे होने की वजह से पार्टी ने पूर्व सांसद का टिकट काट दिया. अब माननीय के पास कोई बड़ा पद नहीं है. सीडी सार्वजनिक न हो जाए, उन्‍हें इसकी आशंका जरूर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!