बिपिन रावत बने चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी के हेड, बीएस धनोआ ने सौंपी बैटन

वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने शुक्रवार को चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (COSC) की कमान सेना प्रमुख बिपिन रावत के हाथ में सौंप दी. बीएस धनोआ 30 सितंबर को अपने पद से रिटायर हो रहे हैं और इसी के साथ COSC के प्रमुख का पद भी खाली हो रहा है. जिसकी जिम्मेदारी अब वरिष्ठ होने के नाते बिपिन रावत संभालेंगे.

शुक्रवार को नई दिल्ली में एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने एक कार्यक्रम में COSC चीफ के बैटन को बिपिन रावत को पास किया. इस दौरान यहां पर नेवी प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह भी मौजूद रहे. आपको बता दें कि ये कमेटी अभी सेना से जुड़े सभी बड़े फैसले लेती है, जिसकी अध्यक्षता तीनों सेना प्रमुखों से सबसे वरिष्ठ अधिकारी करता है.

एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ इस महीने के आखिर में वायुसेना प्रमुख के पद से रिटायर हो रहे हैं, उनकी जगह आरकेएस भदौरिया इस पद को संभालेंगे. बता दें कि 8 अक्टूबर को ही वायुसेना दिवस है ऐसे में इस बड़े दिन से पहले वायुसेना को उनका नया प्रमुख मिल चुका होगा.

नया पद संभालने के बाद बिपिन रावत को बधाई मिलना भी शुरू हो गया है, भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने ट्वीट कर उन्हें नई जिम्मेदारी के लिए शुभकामनाएं दीं.

क्या करती है ये कमेटी?

आपको बता दें कि चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (COSC)  के चेयरमेन के पास तीनों सेनाओं के बीच तालमेल सुनिश्चित करने और देश के सामने मौजूद बाहरी सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए सामान्य रणनीति तैयार करने की जिम्मेदारी होती है.

जल्द लागू होगी नई व्यवस्था

गौरतलब है कि इसी साल 15 अगस्त को लालकिले से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CODS) की नियुक्ति करने का ऐलान किया था. इसकी मांग करगिल युद्ध के बाद से हो रही थी, लेकिन इस मांग को पूरा किया मोदी सरकार ने.

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CODS) सिस्टम भारत के अलावा कई देशों के पास है, जिनमें अमेरिका, चीन, यूनाइटेड किंगडम, जापान सहित दुनिया के कई देशों के पास चीफ ऑफ डिफेंस जैसी व्यवस्था है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!