जबलपुर में फर्जी मैट्रीमोनियल साइट बनाकर ठगी करने वाले पकड़े गये

गिरोह के 4 सदस्यों को धर दबोचा है, जिसमें दो युवतियां भी शामिल हैं.

जबलपुर. मध्यप्रदेश के जबलपुर  में साइबर सेल की टीम  ने फर्जी मैट्रीमोनियल साइट  बनाकर ठगी करने वाले गिरोह के 4 सदस्यों को धर दबोचा है, जिसमें दो युवतियां भी शामिल हैं. गिरोह के सदस्य लोगों को शादी के नाम पर रजिस्ट्रेशन  कराने का झांसा देकर फंसाते और बाद में लड़कियों से बात कराकर लोगों से रुपये ऐंठते थे. छत्तीसगढ़ के राजनादगांव से संचालित होने वाले गिरोह ने मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, बिहार और छत्तीसगढ़ के लोगों के साथ ठगी (Fraud) कर लाखों रुपए हड़पे हैं. फिलहाल पुलिस सभी आरोपियों से पूछताछ में जुटी है.

ठगों ने युवक को इस तरह फंसाया

राज्य साइबर सेल को मिली शिकायत के अनुसार जबलपुर के एक युवक ने शादी के लिए जीवन साथी डॉट कॉम पर रजिस्ट्रेशन कराया था. रजिस्ट्रेशन के कुछ महीने बाद जीवन जोड़ी मैट्रीमोनियल से फोन कर आवेदक को शादी (Wedding) करने के लिये जीवन जोड़ी मैट्रीमोनियल साइट पर रजिस्ट्रेशन फीस 5000 रुपये भरवायी गयी और शादी के लिए लड़कियों के फोटोग्राफ्स भेजे गए. युवक को लड़की की फोटो पंसद आई तो जीवन जोड़ी मैट्रीमोनियल द्वारा लड़की का मोबाइल नंबर उसे दे दिया गया.

युवक से ठगे 6 लाख 50 हजार रुपए

लड़की ने खुद को रीवा निवासी तनुजा ठाकुर बताकर युवक को झांसे में लिया और खुद की जरूरतों को पूरा करने के लिए ठगी कर तकरीबन 6 लाख 50 हजार रुपए विभिन्न खातों पर ट्रांसफर करा लिए. युवक को जब लगा कि उसके साथ ठगी की गई है तो उसने इसकी शिकायत साइबर सेल से की. साइबर सेल की टीम को जांच के दौरान यह जानकारी मिली कि छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव से यह फर्जीवाड़ा संचालित किया जा रहा है. पुलिस ने छत्तीसगढ़ पहुंचकर चारों आरोपियों को एक घर से गिरफ्तार किया. पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ कि बेस्ट मैट्रीमोनी और जीवन जोड़ी डॉट कॉम के नाम से फर्जी मैट्रीमोनियल ऑफिस का संचालन अक्टूबर 2018 से किया जा रहा था.

साइबर सेल ने छत्तीसगढ़ से पकड़े 4 आरोपी

कई राज्यों में चलाया जा रहा था फर्जी मैट्रोमोनियल ऑफिस

पुलिस ने बताया कि चारों आरोपियों ने छत्तीसगढ़, बिहार, उत्तर प्रदेश में भी फर्जी मैट्रोमोनियल साइट का आफिस संचालित कर रखा है. आरोपी अन्य मैट्रीमोनी साइट्स से इच्छुक व्यक्तियों के नाम फोटो और अन्य जानकारी निकालकर उनसे संपर्क कर शादी करने के लिये फर्जी लड़कियों के फोटोग्राफ्स भेजा करते थे. ऑफिस मे काम करने वाली लड़कियां ही शादी के लिए बात कर प्रलोभन देती थी और अलग- अलग खातों में पैसे ट्रांसफर करवाती थीं. सायबर सेल ने इस जालसाजी में इस्तेमाल किए गए मोबाइल, एटीएम कार्ड और धोखाधड़ी कर प्राप्त ठगी की राशि जब्त कर ली है, जबकि इनके अन्य साथियों की तलाश जारी है.

नवंबर बाद शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण सुब़मण्यम स्वामी का दावा

सुब्रमण्‍यम स्वामी  ने कहा कि राम मंदिर की अधिकांश जमीन सरकार के पास है. सरकार जमीन किसी को भी दे सकती है.

अयोध्या. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद (Ram Janmabhoomi-Babri Masjid) विवाद मामले की सुनवाई जारी है. इस कड़ी में रविवार को भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी रामलला के दरबार में पहुंचे. सुब्रमण्यम स्वामी ने रामलला में दर्शन पूजन किया. दर्शन के बाद पत्रकारों से बातचीत में डॉ सुब्रमण्यम स्वामी ने दावा किया कि नवंबर बाद अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा. हिंदुओं का मूलभूत अधिकार मुसलमानों की संपत्ति के अधिकार से ऊपर है. उन्होंने कहा कि मुसलमानों का केवल साधारण अधिकार है. सुप्रीम कोर्ट भी कहता है मूलभूत अधिकार सर्वोपरि है.

बीजेपी सांसद ने कहा कि राम मंदिर की अधिकांश जमीन सरकार के पास है. सरकार जमीन किसी को भी दे सकती है. सबकुछ प्री-फैब्रिकेटेड है, केवल भव्यता देनी है. नवंबर बाद देश खुशियां बनाएगा. सुब्रमण्यम स्वामी के समर्थकों में जय श्रीराम के नारे लगाए. दरअसल, सुब्रमण्यम स्वामी अपने जन्‍मदिन के अवसर पर अयोध्या के कांची मठ में हवन पूजन भी किया. वहीं, कारसेवक पुरम की गौशाला में गौ सेवा किया.

भारत से हार का डर, बोले- जंग हुई तो जीत मुश्किल इमरान खान

दिल्ली
इमरान खान ने कश्मीर मसले को लेकर परमाणु युद्ध होने के आसार जताते हुए स्वीकार किया है कि भारत के साथ पारंपरिक युद्ध हुआ तो पाकिस्तान हार सकता है. इमरान खान ने कहा, मेरा मानना है कि युद्ध से समस्याओं का समाधान नहीं होता.

इमरान खान ने माना कि भारत से युद्ध में हार सकता है पाकिस्तानइमरान बोले- पाकिस्तान स्वतंत्रता के लिए अंतिम सांस तक लड़ेगा

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर परमाणु हमले की धमकी दी है. हालांकि इमरान खान ने माना कि भारत के साथ पारंपरिक युद्ध में पाकिस्तान हार जाएगा. ऐसे में जंग हुई तो बात परमाणु हमले तक जाएगी.

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने एक बार फिर भारत के साथ युद्ध की संभावना जताई है. इमरान खान ने कश्मीर मसले को लेकर परमाणु युद्ध होने के आसार जताते हुए स्वीकार किया है कि भारत के साथ पारंपरिक युद्ध हुआ तो पाकिस्तान हार सकता है. उन्होंने कहा कि इस मामले में परिणाम भयावह हो सकते हैं.

‘पाक नहीं शुरू करेगा परमाणु युद्ध’

कश्मीर पर भारत को परमाणु हमले की धमकी देने के बारे में एक सवाल पर इमरान खान ने अल जजीरा को दिए इंटरव्यू में कहा कि कोई भ्रम नहीं है, मैंने जो कहा है वो यह है कि पाकिस्तान कभी भी परमाणु युद्ध शुरू नहीं करेगा. मैं शांतिवादी हूं और युद्ध विरोधी हूं.

इमरान खान ने कहा, मेरा मानना है कि युद्ध से समस्याओं का समाधान नहीं होता. युद्ध के अनपेक्षित परिणाम होते हैं. वियतनाम, इराक के युद्ध को देखें, इन युद्धों से कई समस्याएं पैदा हुईं जो शायद उससे कहीं ज्यादा गंभीर हैं जिसे लेकर युद्ध शुरू किए गए थे.

‘अंतिम सांस तक लड़ेगा पाकिस्तान’

इमरान ने कहा कि ईश्वर न करें, अगर मैं कहूं कि पाकिस्तान पारंपरिक युद्ध में हार रहा हो और अगर एक देश दो विकल्पों के बीच फंस गया है, या तो आप आत्मसमर्पण करेंगे या अपनी स्वतंत्रता के लिए आखिरी सांस तक लड़ेंगे और मुझे पता है कि पाकिस्तान स्वतंत्रता के लिए अंतिम सांस तक लड़ेगा. इमरान ने कहा कि जब एक परमाणु संपन्न देश अंतिम सांस तक लड़ता है तो परिणाम भयावह होते हैं.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाक को चेताया,कहा रोक दो आतंक अन्यथा टुकड़े-टुकड़े होने से कोई नहीं रोक सकता.


राजनाथ ने कहा- पाक भारत के साथ वार्ता का राग अलापता है, यह पीओके के मुद्दे और आतंकवाद खत्म करने की शर्त पर ही संभवसूरत में 120 जवानों के परिजन के सम्मान समारोह में रक्षा मंत्री बोले- पाक में कोई सुरक्षित नहीं

सूरत.रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार काे पाकिस्तान काे चेतावनी दी कि वह आतंकवाद को शह देना बंद करे। पाकिस्तान नहीं सुधरा ताे दुनिया की काेई भी ताकत उसे टूटने से नहीं राेक सकती।देश की रक्षा करते हुए माेर्चे पर शहीद 122 जवानों के परिजनके सम्मान समारोह में सूरत पहुंचे राजनाथ ने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ वार्ता का राग अलापता है। लेकिन पीओके के मुद्दे और आतंकवाद खत्म करने की शर्त पर ही बातचीत संभव है।

‘हमारे सैनिक एलओसी पार करने का इंतजार कर रहे’

हाल ही में एक सभा में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था, “मैं जब तक नहीं कहूं एलओसी पार नहीं करना।’ इस पर राजनाथ ने कहा- मैं इमरान से कहना चाहता हूं कि हमारे सैनिक भी एलओसी पार करने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। सैनिक वहां से किसी को वापस नहीं जाने देंगे।

उन्हाेंने कहा कि पाकिस्तान में हिंदू, सिख, जैन धर्म के अनुयायी सुरक्षित नहीं हैं। ऐसे दुर्व्यवहार की वजह से पाक खुद ही टुकड़े-टुकड़े हो जाएगा। उन्हाेंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने का प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी का फैसला ऐतिहासिक है।