शिवपुरी जिला चिकत्सालय में पाई गई अव्यवस्थाओं को ठीक करने बावत सांसद केपी यादव ने कलेक्टर शिवपुरी को पत्र लिखा.

शिवपुरी विगत दिनों गुना शिवपुरी  लोकसभा सांसद ने शिवपुरी भ़मण के दौरान शिवपुरी जिला चिकित्सालय का भ़मण किया था, उसी दौरान सांसद महोदय को जिला चिकित्सालय में कई अव्यवस्थायें और अनियमिततायें देखने को मिली. उनपर चिंता व्यक्त करते हुये माननीय सांसद महोदय ने कलेक्टर को अव्यवस्थाओं को शीघ़ दूर कर सात दिन में अवगत कराने हेतु पत्र लिखा है.

अपने अस्पताल भ़मण के दौरान कई मरीज  को नीचे लिटाकर बोतल चढ़ाई जा रही थी.
मरीजों का कहना था संबंधित स्टाफ का व्यवहार ठीक नहीं.

नई एक्सरे मशीन बंद पाई गई जिसे ठीक कराने के निर्देश सांसद महोदय ने दिये.
वाटर कूलर की संख्या भी बढ़ाने के लिये कलेक्टर  शिवपुरी को लिखा है.

जिला चिकित्सालय के अंदर शौचालय बंद पाये गये क्यों, बाहर सुलभ शौचालयों के आसपास गंदगी बहुत पाई गई.

मेडीकल कॉलेज से सम्बद्ध जिला चिकित्सालय में आने वाले डॉक्टरों की अनुपस्थिति के सम्बन्ध में भी अवगत कराया गया है,अतः इस सम्बन्ध में डीन को आवश्यक निर्देश दिए जाएँ | 

मरीजों को जो खाना दिया जा रहा है उसकी गुणवत्ता पर भी मरीजों ने सांसद महोदय से शिकायत की है.

लॉ छात्रा का बयान- नहाने का VIDEO वायरल करने की धमकी दे एक साल तक रेप करता रहा चिन्मयानंद

पीड़िता ने बताया कि चिन्मयानंद ने शारीरिक शोषण का वीडियो भी बनाया है. चिन्मयानंद पीड़िता से मसाज करने का भी दबाव बनाता था और कई बार उसके साथ बंदूक के दम पर भी रेप हुआ है.

नई दिल्ली: भाजपा नेता चिन्मयानंद की मुश्किलें और ज्यादा बढ़ती हुई दिख रही हैं. पीड़ित लॉ छात्रा ने चिन्मयानंद के खिलाफ लगाए गंभीर आरोप लगाए हैं. 12 पन्नों की शिकायत और SIT को दिए बयान में कई चौंका देने वाली बातें सामने आई हैं. पीड़िता का कहना है कि चिन्मयानंद ने ब्लैकमेल कर रेप किया है. पीड़िता का हॉस्टल के बाथरूम में नहाने का वीडियो बनाया गया और उस वीडियो को वॉयरल करने की धमकी देकर एक साल तक रेप करता रहा. 

साथ ही पीड़िता ने बताया कि चिन्मयानंद ने शारीरिक शोषण का वीडियो भी बनाया है. चिन्मयानंद पीड़िता से मसाज करने का भी दबाव बनाता था और कई बार उसके साथ बंदूक के दम पर भी रेप हुआ है. लड़की ने भी अपने बचाव के लिए चिन्मयानंद का वीडियो बनाया है. लड़की ने इसके लिए अपनी चश्मे में खुफिया कैमरा लगाया और चिन्मयानंद का वीडियो बनाया है.

वहीं, रेप का आरोप लगाने वाली लड़की ने घर पास में होने के बावजूद हॉस्टल में रहने के पीछे कारणों का खुलासा किया है. उसने बताया कि वह एलएलएम में एडमीशन लेने के लिए गई था लेकिन चिन्मयानंद ने उसे नौकरी दे दी. नौकरी में काम का ज्यादा बोझ होने के कारण उसे हॉस्टल में रहना पड़ा जहां उसके साथ गलत हुआ. मंगलवार को पुलिस की एसआईटी ने लड़की के शाहजहांपुर में स्थित हॉस्टल के कमरे में रेप के सबूत तलाशे.

स्वामी चिन्मयानंद (Chinmayanand) मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने पीड़ित लड़की के हॉस्टल का कमरा देखा और साक्ष्य जुटाए. एसआईटी दोपहर में कॉलेज परिसर पहुंची. टीम ने करीब पांच घंटे तक छात्रा के कमरे का बारीकी से निरीक्षण किया. टीम के साथ फॉरेंसिक विशेषज्ञ भी मौजूद रहे.पीड़िता जिस कमरे में रहती थी, पुलिस ने उसे सील किया हुआ था. एसआईटी ने उसकी सील तोड़ कर मौका मुआयना किया.

74 साल की उम्र में दो बच्चियों को जन्म दिया मंगयम्मा ने, 50 वर्षों का ख्वाब हुआ पूरा

70 साल की दलजिंदर कौर सबसे पहले दुनिया में सबसे अधिक उम्र में मां बनीं थी. दलजिंदर हरियाणा की रहने वाली थीं और उन्होंने 2016 में आईवीएफ तकनीक से लड़के को जन्म दिया था.

नई दिल्ली: पांच दशकों से मां बनने का ख़्वाब देख रही महिला आखिर 74 वर्ष की उम्र में मां बन गई. महिला ने आईवीएफ तकनीक से दो बच्चियों को जन्म दिया है. डॉक्टरों के मुताबिक दोनों बच्चियां स्वस्थ हैं लेकिन मां बनी इ. मंगयाम्मा फिलहाल आईसीयू में हैं, उनकी हालत भी स्थिर है.. डॉक्टरों का मानना है कि इतनी बड़ी उम्र में मां बनने का मामला वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराया जा सकता है.

आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में द्रक्षरमम की ई मंगयम्मा ने गुंटुर के एक निजी अस्पताल में आज सुबह दो बच्चियों को जन्म दिया. दोनों बच्चियां आईवीएफ (इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन) तकनीक पैदा हुईं हैं. चार डॉक्टरों की टीम ने उनका  सफल ऑपरेशन किया.

डॉक्टरों की टीम को हेड कर रहीं डॉक्टर एस उमाशंकर ने कहा कि मां और बच्चियां स्वस्थ्य हैं. डॉक्टर ने मीडिया को बताया, ‘यह मेडिकल की दुनिया में चमत्कार से कम नहीं है.’ डॉक्टर ने मीडिया को यह भी बताया कि सबसे अधिक उम्र में मां बनने वाली मंगयम्मा पहली महिला बन गई हैं. पापा बनने की खुशी में मंगयम्मा के पति राजा राव और परिवार वालों ने मिठाई बांटी.

इससे पहले 70 साल की दलजिंदर कौर दुनिया में सबसे अधिक उम्र में मां बनीं थी. दलजिंदर हरियाणा की रहने वाली थीं और उन्होंने 2016 में आईवीएफ तकनीक से लड़के को जन्म दिया था.

1962 में मंगयम्मा की शादी वाई राजा राव से शादी हुई थी लेकिन वह मां नहीं बन सकी थीं. डॉक्टरों ने बताया कि 2018 में उनके पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने 55 साल की उम्र में कृत्रिम गर्भाधान से बच्चे को जन्म दिया था. उसके बाद पिछले 50 वर्षों से अपने बच्चे की चाहत रखने वाली मंगयम्मा को उम्मीद जागी और वो अस्पताल पहुंची. तब डॉक्टरों ने इस बुजुर्ग जोड़े की मदद करने की ठानी.

मीडिया से बातचीत में उमाशंकर ने बताया कि जब हम इस जोड़े से मिले तब हमने इनकी कई तरह की जांच कराई और पाया कि वह मां बनने में सक्षम हैं. यही नहीं आईवीएफ प्रोसेस के पहले चक्र में ही मंगयम्मा ने कंसीव कर लिया. उसके बाद नौ महीनों तक दस डॉक्टरों की टीम उनकी देखभल करती रही, यही नहीं नौ महीने तक उनकी नियमित जांच होती रही ताकि कोई परेशानी न हो.

द न्यूज़ लाइट की टीम इंदरगढ़ वाली माता के द्वार पर

रास्थान के बूंदी जिले में इंदरगढ़ नामक ग्राम में आज न्यूज़ लाइट की टीम पहुंची जहां पर भारत प्रसिद्ध इंदरगढ़ वाली बिजासन माता के दर्शन कर जनता जनार्दन तक बीजासन माता को पहुंचाने के लिए प्रयास किया. यह माता का स्थान जमीन से 2000 फुट ऊंची पहाड़ी पर स्थित है, यहां पर भक्तों का तांता लगा रहता है वह अपनी मनौती या मांगने के लिए लोग देश के कोने कोने से यहां पर आते हैं .भारी संख्या में जनता जनार्दन का जमवाड़ा रहता है . यहां पर लगभग 1500 सीढ़ियां हैं, जिन्हें चढ़कर माता के दर्शन के लिए लोग जाते हैं ऐसी चिलचिलाती दोपहर में लोग चढ़ते हुए देखे गए राजस्थान के अत्यंत तीर्थ स्थलों में से एक है इंदरगढ़ वाली माता का मंदिर.

(करुणेश शर्मा की कलम से)