फिट इंडिया लॉन्च कर PM मोदी बोले- न्यू इंडिया के हर नागरिक को फिट बनाना लक्ष्य

केंद्र सरकार की फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉन्च किया फिट इंडिया
अभियानखेल दिवस के अवसर पर किया गया लॉन्च

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार सुबह राजधानी दिल्ली में ‘फिट इंडिया अभियान’ की शुरुआत की. खेल दिवस के अवसर पर इस मूवमेंट को लॉन्च किया गया है. अभियान की शुरुआत करने के बाद कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज के दिन हमें मेजर ध्यानचंद के रूप में महान स्पोर्ट्सपर्सन मिले थे, आज देश उनको नमन कर रहा है. फिट इंडिया मूवमेंट के जरिए हेल्दी इंडिया की दिशा में महत्वपूर्ण कदम बढ़ा दिया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि न्यू इंडिया में हर नागरिक को फिट करना सरकार का लक्ष्य है.

PM मोदी ने कार्यक्रम में कहा कि आज देश की जरूरत है कि फिट इंडिया को जन आंदोलन बनाया जाए. साथ ही स्पोर्ट्स में जो युवा खिलाड़ी देश का नाम रोशन कर रहे हैं, उससे उनका हौसला बढ़ेगा. पीएम ने कहा कि हमारी सरकार ने खेल जीवन को बेहतर बनाने के लिए कई कदम उठाए हैं. मोदी बोले कि फिटनेस सिर्फ शब्द नहीं है, बल्कि स्वस्थ जीवन जीने के लिए जरूरी शर्त है.

फिटनेस के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वस्थ रहने और फिट रहने का फंडा हमारे पूर्वजों के समय से चलता आ रहा है. उन्होंने इस दौरान संस्कृत का श्लोक सुनाया और फिटनेस के लाभ बताए. PM मोदी ने कहा कि फिटनेस हमारे जीवन के तौर तरीकों का अभिन्न अंग रहा है, समय के साथ फिटनेस को लेकर सोसाइटी में उदासीनता आती रही है.

PM ने कार्यक्रम में कहा कि कुछ दशक पहले तक एक सामान्य व्यक्ति पैदल चल लेता था, कुछ ना कुछ फिटनेस के लिए करता ही था, लेकिन आज टेक्नोलॉजी की वजह हमें पता चल रहा है कि कितने कदम चल दिए हैं.

पीएम बोले कि आज भारत में कई तरह की बीमारी बढ़ रही हैं, आज 30 साल के युवक को भी हार्ट अटैक की खबर आती है. उन्होंने कहा कि ये हमारे लाइफस्टाइल की वजह से हो रहा है, उन्होंने कहा कि सरकार अपना काम करेगी लेकिन हर परिवार को इसके बारे में सोचना चाहिए.

दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में जहां ये कार्यक्रम हो रहा है वहां पर भारतीय जनता पार्टी के सांसद गौतम गंभीर, मनोज तिवारी, अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी समेत कई बड़े सेलेब्रिटी मौजूद हैं.

प्रधानमंत्री जब कार्यक्रम में पहुंचे तो उनके सामने कई खेलों का प्रदर्शन किया गया, जिनमें कबड्डी, खो-खो समेत कई देसी खेल शामिल रहे. इस अभियान के तहत हर कॉलेज और विश्वविद्यालय को 15 दिवसीय फिटनेस प्लान भी तैयार करना होगा और बाकायदा उसे अपने कॉलेज या विश्वविद्यालय के पोर्टल, वेबसाइट पर अपलोड करना होगा.

अभी हाल में फिट इंडिया मूवमेंट पर सरकार को सलाह देने के लिए एक समिति का गठन किया गया था. समिति में भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए), राष्ट्रीय खेल संघ (एनएसएफ), सरकारी अधिकारी, निजी निकाय और प्रसिद्ध फिटनेस हस्तियों को इसमें शामिल किया गया.

खेल एवं युवा मामलों की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, राष्ट्रव्यापी आंदोलन की राष्ट्रव्यापी शुरुआत शारीरिक गतिविधियों और खेलों को नागरिकों के दैनिक जीवन में शामिल करेगी, ताकि उनकी शारीरिक फिटनेस और कल्याण में सुधार किया जा सके.

बयान में आगे कहा गया कि सरकार, भारतीय खेल प्राधिकरण (साई), आईओए, भारतीय एथलेटिक्स महासंघ, अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ और भारतीय साइक्लिंग महासंघ जैसे राष्ट्रीय खेल महासंघों के सदस्यों को इसमें शामिल किया जाएगा. केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू इस समिति के अध्यक्ष हैं. इसके अलावा इसमें निजी इकाइयों को भी शामिल किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *