टेरर फंडिंग की वजह से पाकिस्तान पर बड़ी कार्रवाई, FATF ने किया ब्लैकलिस्ट

नई दिल्ली: पाकिस्तान आखिरकार ब्लैकलिस्टेड हो ही गया। FATF यानी फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स ने पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट कर दिया है। टेरर फंडिंग और आतंकी ग्रुप्स की मनी लॉन्ड्रिंग पर रोक लगाने में नाकाम रहने के बाद FATF के एशिया पैसेफिक ग्रुप ने पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया है।

FATF  ने पाया है कि 40 में से 32 मानकों पर पाकिस्तान नाकाम रहा है। ब्लैकलिस्ट होने के बाद अब पाकिस्तान पाई-पाई को मोहताज हो जाएगा और उसे अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और विदेश से कर्ज लेना तकरीबन नामुमकिन हो जाएगा।

बता दें कि पाकिस्तान पहले से ही FATF की ग्रे लिस्ट में था और उसपर आतंकी संगठनों पर एक्शन लेने का भारी दवाब था। ऑस्ट्रेलिया के कैबनरा में पाकिस्तान से जुड़ी म्युचुअल इवेल्यूशन रिपोर्ट यानी MER को पेश किया गया। इस रिपोर्ट के बाद पाकिस्तान ब्लैकलिस्ट हो गया।

ब्‍लैक लिस्‍ट होने के बाद अब पाकिस्‍तान को दुनिया में कर्ज पाना और ज्‍यादा मुश्किल हो जाएगा। बता दें कि फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान टेरर फंडिंग पर अपने ऐक्शन प्लान को पूरा करने में विफल रहा है। 

फ्लोरिडा के ओरलैंडो में आयोजित बैठक के समापन पर जारी एक बयान में एफएटीएफ ने चिंता व्यक्त की है कि ‘न सिर्फ पाकिस्तान जनवरी की समय सीमा के साथ अपनी ऐक्शन प्लान को पूरा करने में विफल रहा है, बल्कि वह मई 2019 तक भी अपनी कार्य योजना को पूरा करने में भी विफल रहा है।’ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *