PAK से तनाव के बीच बढ़ेगी भारत की सैन्‍य शक्ति, इस दिन देश को मिलेगा पहला राफेल लड़ाकू विमान

नई दिल्ली : कश्‍मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्‍तान के बीच तनाव के बीच भारत की सैन्‍य शक्ति में इजाफा होने जा रहा है. दरअसल, भारत को फ्रांस से अपना पहला राफेल लड़ाकू विमान मिलने जा रहा है. यह भारत को मिलने वाला पहलाराफेल लड़ाकू विमान होगा. खुद रक्षा मंत्री रामनाथ सिंह और वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ इसे लेने के लिए फ्रांस जाने वाले हैं.

जानकारी के अनुसार, 20 सितंबर को राजनाथ सिंह और बीएस धनोआ की मौजूदगी में राफेल जेट विमान भारतीय वायुसेना को सौंपा दिया जाएगा. भारतीय वायुसेना के मुताबिक, फ्रांस के अधिकारी वहां रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वायुसेना चीफ बीएस धनोआ और कई रक्षा अधिकारियों की मौजूदगी में राफेल विमान को भारत को देंगे. 

दरअसल, सितंबर 2016 में भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल विमान खरीदने को लेकर डील हुई थी. इन विमानों की कीमत 7.87 बिलियन यूरो तय की गई थी.

उल्‍लेखनीय है कि भारतीय वायुसेना राफेल जेट विमान को उड़ाने के लिए 24 पायलटों इसके लिए ट्रेनिंग देगा. इसके बाद राफेल विमान पहली बार देश की सुरक्षा के लिए उड़ाने को तैयार होंगे. सभी पायलट तीन बैचों में ट्रेनिंग लेंगे. बताया जा रहा है कि भारतीय वायुसेना राफेल विमान की एक-एक टुकड़ी को हरियाणा के अंबाला और पश्चिम बंगाल के हाशिमारा में अपने एयरबेस पर बनाने जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *