भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल

भारतीय जनता पार्टी के विधायक आकाश विजयवर्गीय की जमानत याचिका खारिज हो गई है. इसके बाद आकाश को 14 दिनों के लिए जेल भेज दिया गया है.  इंदौर नगर निगम अधिकारी की बल्ले से पिटाई करने का वीडियो सामने आने के बाद आकश विजयवर्गीय के खिलाफ FIR दर्ज हुई थी. इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया था. आकाश के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 294, 323 506, 147, 148 के तहत मामला दर्ज हुआ है.

आकाश विजयवर्गीय भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के महासचिव और दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं. इस मामले को लेकर आकाश विजयवर्गीय का कहना है कि वो इस तरह से भ्रष्टाचार और गुंडई को खत्म करेंगे. उन्होंने कहा, ‘आवेदन, निवेदन और फिर दना दन’ के तहत हम अब कार्रवाई करेंगे.’

निगम के अधिकारी की पिटाई के मामले में आकाश के साथ ही 10 अन्य लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. वहीं आकाश को कोर्ट के सामने पेश भी किया गया.

बता दें कि आकाश विजयवर्गीय का मारपीट करते हुए एक वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो में देखा जा सकता है कि आकाश निगम अधिकारी से साथ मारपीट कर रहे हैं. दरअसल, इंदौर के निगम अधिकारियों की टीम जर्जर मकानों को तोड़ने के लिए आई थी. लेकिन आकाश विजयवर्गीय ने उन पर ही कार्रवाई कर दी. आकाश क्रिकेट बैट लेकर अधिकारियों पर हमला करने पहुंचे और उनके साथ बदसलूकी करने लगे. वहीं आकाश के समर्थकों ने भी निगम अधिकारियों के साथ मारपीट की.

गरीब सवर्णों को मिलेगा 10 फीसदी आरक्षण, कमलनाथ कैबिनेट ने दी मंज़ूरी

कमलनाथ कैबिनेट ने कोर्ट फीस को 50 से बढ़ाकर 100 रुपए करने के प्रस्‍ताव को हरी झंडी दे दी है. इसके अलावा बार लाइसेंस को रिन्‍यू करने के प्रावधानों को भी आसान बनाया गया है.

मध्य प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा. कमलनाथ कैबिनेट ने प्रस्ताव को मंज़ूरी दे दी है. कैबिनेट ने शराब नीति में संशोधन और इंदौर-भोपाल में मेट्रो की MoU साइन करने पर भी मुहर लगा दी है. कमलनाथ कैबिेनट की आज भोपाल में बैठक हुई. इसमें आर्थिक आधार पर ग़रीब वर्ग के सवर्णों को 10 फीसद तक आरक्षण देने के प्रस्‍ताव को मंज़ूरी दे दी गई है. सरकार ने आरक्षण के केंद्रीय प्रावधानों में कुछ बदलाव किए हैं. आरक्षण का फायदा मध्य प्रदेश में 8 लाख सालाना आय से कम वालों को मिलेगा. साथ ही 5 एकड़ ज़मीन का प्रावधान बंजर भूमि पर लागू नहीं होगा. नगर निगम एरिया में 1200 वर्गफीट, नगर पालिका में 1500 और नगर पंचायत में 1800 वर्गफीट एरिया से कम वाले फ्लैट के लोगों को भी आरक्षण का लाभ मिलेगा.

शराब नीति में संशोधन

कैबिनेट ने प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए शराब नीति में संशोधन किया है. नई नीति के मुताबिक, फॉरेस्ट एरिया के होटल में भी बार खोला जा सकेगा, लेकिन लाइसेंस उसे ही मिलेगा जिसके पास बार के लिए कम से कम 1500 वर्ग फ़ीट का कमरा हो. होटल में 10 फीसदी अतिरिक्त चार्ज देखर बार एरिया से बाहर भी शराब पीने की अनुमति मिलेगी. बार लाइसेंस रिन्यू कराने के लिए भी नया नियम लागू किया जाएगा. अगर विभाग ने 7 दिन के अंदर लाइसेंस रिन्यू नहीं किया तो वह अपने आप रिन्यू मान लिया जाएगा.

जम्मू-कश्मीर / बतौर गृह मंत्री आज शाह का पहला दौरा, डोगरा फ्रंट की मांग- अलगाववादियों से कोई बातचीत न करें

श्रीनगर.गृह मंत्री अमित शाह बुधवार को श्रीनगर पहुंच गए। बतौर गृहमंत्री शाह का जम्मू-कश्मीर का ये पहला दौरा है। अपने दो दिन के दौरे में अधिकारियों के साथअमरनाथ यात्रा के लिए सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करेंगे। सूत्रों के मुताबिक, शाह अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानीके दर्शन भी करेंगे। गृह मंत्री के दौरे से पहले राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा था कि अलगाववादी नेता घाटी में शांति को लेकरबातचीत के लिए तैयार हैं, लेकिनडोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध किया है।

कार्यकर्ताओं ने कहा है कि अमित शाह को हुर्रियत और अलगाववादी नेताओं से कोई बातचीत नहीं करनी चाहिए। सरकार पाकिस्तान परस्तसैयद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारूक जैसे हुर्रियत नेताओं को जेल में डाले। डोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन भी किया था।

अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त तक चलेगी, 1 लाख जवान तैनात

1 जुलाई से शुरूअमरनाथ यात्रा 15 अगस्त तकचलेगी। इसके लिए राज्य में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। अनंतनाग जिले के पहलगाम ट्रैक और गांदरबल जिले के बालटाल ट्रैक पर कड़ी नजर रखी जा रही है। तीर्थयात्री अमरनाथ जाने के लिए मुख्य रूप से इन्हीं दो मार्गों का इस्तेमाल करते हैं। यहां एक लाख से अधिक सुरक्षाकर्मी 24 घंटे तैनात हैं।

जम्मू-कश्मीर आरक्षण संशोधन बिल लोकसभा मेंपेश हुआ
दौरे से पहले शाह की ओर से केंद्रीय राज्य गृहमंत्री जी किशन रेड्डी ने सोमवार को लोकसभा में जम्मू-कश्मीर आरक्षण संशोधन बिल 2019 पेश किया था। इसके जरिएआरक्षण अधिनियम 2004 में संशोधन किया जाएगा। बिल पास होने से अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वाले लोगों को भी आरक्षण का लाभ मिल सकेगा। संशोधन के मुताबिक, कोई भी व्यक्ति जो पिछड़े क्षेत्रों, नियंत्रण रेखा (एलओसी) और अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) से सुरक्षा कारणों से चला गया हो उसे भी आरक्षण का फायदा मिल सकेगा।

कूटनीति / अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो मोदी और जयशंकर से मिले, रूस से मिसाइल सौदे पर चर्चा संभव

नई दिल्ली.अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो दो दिन के भारत दौरे पर हैं। बुधवार को उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औरविदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात की।विदेश मंत्रालय के मुताबिक, पोम्पियो ने मोदी को राष्ट्रपति ट्रम्प की ओर से जीत की बधाई दी। मोदी ने पोम्पियो से कहा, ‘भारत-अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करना चाहता है। हम द्विपक्षीय रिश्तों के जरिए व्यापार, अर्थव्यवस्था, ऊर्जा और रक्षा मजबूत करना चाहते हैं।’ इस पर पोम्पियो ने भरोसा दिया कि अमेरिका भी भारत के साथ मिलकर काम करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

पोम्पियो जापान में होने वाली जी-20 शिखर वार्ता से पहले भारत आए हैं। 28-29 जून को मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच बैठक भी होनी है। इस लिहाज से पोम्पियो का दौरा काफी अहम माना जा रहा है।

जयशंकर ने कहा-आतंकवाद पर जीरो टोलरेंस की नीति रहेगी

पोम्पियो और जयशंकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान जयशंकर ने कहा, द्विपक्षीय वार्ता में दोनों देशों के बीच मजबूत रिश्तों को लेकर बात हुई। आतंकवाद से लड़ने में और वैश्विक तौर पर मजबूती के लिए अमेरिका का समर्थन मिलता रहेगा। हमने तय किया है कि बॉर्डर के उस पार से आतंकवाद पर जीरो टोलरेंस की नीति रहेगी।

‘हिंद-प्रशांत क्षेत्र सभी के लिए’

जयशंकर ने कहा, ‘हिंद-प्रशांत क्षेत्र सभी के लिए है। इसके खिलाफ कोई नहीं है। इस क्षेत्र में शांति, सुरक्षा, विकास और खुशहाली होनी चाहिए।’ इस दौरान पोम्पियो ने कहा, ‘यूएस-भारत के बीच मजबूत रिश्तों की शुरूआत पहले ही हो चुकी। अब तो यह एक नई ऊंचाईयों पर है। हमारा लक्ष्य हिंद-प्रशांत क्षेत्र को खुला और आजाद रखना है।’

पोम्पियो ने डोभाल से भी मुलाकात की

न्यूज एजेंसी केसूत्रों के मुताबिक,पोम्पियो राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से भी मिले। दोनों के बीचआतंकवाद और राष्ट्रीयसुरक्षा समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई। अमेरिकी विदेश मंत्रीएच1-बी वीजा, रूस से भारत के एस-400 मिसाइल सौदे समेत दोनों देशों के बीच ट्रेड वॉर को लेकर बातचीत कर सकते हैं।

भारत को रूस के साथ एस-400 मिसाइल समेत अन्यहथियार सौदों के मामले में अमेरिका से राहत मिल सकती है। अमेरिका जानता है कि भारत और रूस के संबंध पुराने हैं, जिन्हें खत्म नहीं किया जा सकता। अमेरिका एस-400 मिसाइल सौदे पर पहले नाराजगी जाहिर कर चुका है।

जी-20 शिखर सम्मेलनमें होगीमोदी-ट्रम्प की मुलाकात

पोम्पियो भारत यात्रा के दौरान जयशंकर के साथ जापान के ओसाका मेंमोदी औरट्रम्प के बीच होने वाली द्विपक्षीय मुलाकात के एजेंडे को अंतिम रूप देंगे। मोदी और ट्रम्प 28-29 जून को जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए जापान के ओसाका जाएंगे। इस दौरान जयशंकर और पोम्पिओ भी बैठक में मौजूद रहेंगे।

आकाश विजयवर्गीय ने अधिकारियों संग की मारपीट

यहां पर इंदौर के निगम अधिकारियों की टीम जर्जर मकानों को तोड़ने के लिए आई थी. लेकिन आकाश विजयवर्गीय उनपर ही बरस पड़े.

भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और विधायक आकाश विजयवर्गीय का मारपीट करते हुए एक वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में वह निगम अधिकारी से साथ मारपीट कर रहे हैं. यहां पर इंदौर के निगम अधिकारियों की टीम जर्जर मकानों को तोड़ने के लिए आई थी. लेकिन आकाश विजयवर्गीय उनपर ही बरस पड़े.

सामने आए वीडियो में आकाश विजयवर्गीय एक बैट से निगम अधिकारी पर हमला करते हुए दिख रहे हैं. जर्जर मकान तोड़ने पहुंची टीम के बीच और विधायक आकाश विजयवर्गीय के बीच बहस हुई. लेकिन बाद में बात बढ़ती चली गई है उन्होंने अधिकारियों के साथ बदसलूकी की.

आकाश क्रिकेट बैट लेकर अधिकारियों पर हमला करने पहुंच गए और उनके साथ बदसलूकी करने लगे. इतना ही नहीं समर्थकों ने भी निगम अधिकारियों के साथ मारपीट की.

दरअसल, इस क्षेत्र में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. ऐसे में जो भी जर्जर मकान हैं और काफी पुराने घर हैं उन्हें सरकार की तरफ से खाली कराया जा रहा है ताकि किस तरह की घटना ना हो.

आपको बता दें कि इससे पहले भी आकाश विजयवर्गीय अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रह चुके हैं. लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था. तब उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी पहले तो पप्पू थे, लेकिन अब गधों के सरताज बन गए हैं. उस वक्त भी उनकी टिप्पणी पर काफी बवाल हुआ था.

आकाश विजयवर्गीय, इंदौर-3 विधानसभा सीट से विधायक हैं. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान उनके टिकट को लेकर भी काफी विवाद हुआ था. कैलाश विजयवर्गीय अब राष्ट्रीय राजनीति में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं और पश्चिम बंगाल के प्रभारी हैं. यही कारण रहा कि वह खुद विधानसभा चुनाव नहीं लड़े लेकिन उनकी जगह बेटे ने अपनी किस्मत आजमाई.

रेलगाड़ियों के विशेष कोच में लुट गए 3 विधायक.

विधायक राहुल बोंद्रे ने विधानसभा में मामला उठाते हुए कहा कि जब विशेष डिब्बों में सफर कर रहे विधायक चोरों का शिकार बन रहे हैं तो आम लोगों का क्या हाल होगा। विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे ने इसकी जांच का आदेश दे दिया है।

मुंबई
मॉनसून सत्र में भाग लेने के लिए एक्सप्रेस गाड़ियों से मुंबई आ रहे विधायक लूट और चोरी का शिकार बन गए। विशेष बात यह है कि ये तीनों विधायक एक्सप्रेस गाड़ियों के विशेष एसी डिब्बों में थे। इस संबंध में छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस रेलवे पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई गई है। मामला विधानसभा में उठाए जाने पर विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे ने इसकी जांच का आदेश दे दिया है। 

रविवार को कांग्रेस के विधायक राहुल बोंद्रे ने बुलढाणा से अपनी पत्नी वृषाली बोंद्रे के साथ मलकापुर स्टेशन पर विदर्भ एक्सप्रेस पकड़ी। सोमवार की सुबह 7 बजे के आसपास विधायक बोंद्रे कल्याण स्टेशन पर उतरने को तैयार थे। उसी दौरान विधायक की पत्नी वृषाली का पर्स छीन कर चोर भागने लगा। विधायक बोंद्रे ने चोर का पीछा भी किया लेकिन चोर भागने में सफल रहा। बोंद्रे की पत्नी के पर्स में 26,000 रुपये नकद, एटीएम और अन्य कागजात थे।

मोबाइल और पर्स चोरी 
रविवार की रात ही शिवसेना के विधायक संजय रायमूलकर और शशिकांत खेडेकर ने जालना से देवगिरि एक्सप्रेस ट्रेन पकड़ी। रायमूलकर सुबह कल्याण में सोकर उठे तो उन्होंने पाया कि उनका मोबाइल फोन और पर्स गायब है। पर्स में करीब 10,000 रुपये थे। इसके अलावा खेडेकर का बैग भी चोरों ने ब्लेड से काट दिया गया था। 

विधानसभा में उठाया मामला 
ये सभी विधायक विशेष एसी डिब्बे में थे। यह मामला विधायक बोंद्रे ने विधानसभा में उठाया। उन्होंने कहा कि जब विशेष डिब्बों में सफर कर रहे विधायक चोरों का शिकार बन रहे हैं तो आम लोगों का क्या हाल होगा। विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े ने सरकार से मामले पर ध्यान देने और इसकी जांच के निर्देश दिए। 

जबलपुर नाना जी देशमुख पशुचिकित्सा विश्विद्यालय केे कुलपति पर यौन शोषण का आरोप

जबलपुर (मध्य प्रदेश): नानाजी देशमुख पशुचिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. प्रयाग दत्त जुयाल पर 40 वर्षीय एक महिला से बलात्कार के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. सिविल लाइन्स थाना प्रभारी प्रवीण सिंह धुर्वे ने मंगलवार को बताया कि पीड़ित महिला की शिकायत पर जुयाल के खिलाफ भादंवि की धारा 376 (बलात्कार) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन्होंने कहा कि महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने साक्ष्य जुटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

धुर्वे ने बताया कि इसके अलावा पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि यह शिकायत सही है या गलत. पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि कुलपति जुयाल ने नौकरी का प्रलोभन देकर 17 मार्च 2018 को रीवा स्थित एक होटल में उसका यौन शोषण किया था. कुलपति ने मोबाइल में रिकॉर्ड आपत्तिजनक फोटो वायरल करने की धमकी भी दी. कुलपति से उनकी टिप्पणी जानने के लिए कई बार संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन उनका मोबाइल बंद मिला.

राजस्व मंत्री की शिकायत आरिफ अकील से करने पहुंचे तहसीलदार।

भोपाल।मध्य प्रदेश के तहसीलदार ,नायब तहसीलदार संघ का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। दरअसल यह गुस्सा मंगलवार को राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत द्वारा सीहोर जिले में की गई कार्रवाई के विरोध में है जिसमें मंत्री ने छापामार अंदाज में तहसीलदार कार्यालय में जाकर कार्रवाई करते हुए तहसीलदार को निलंबित कर दिया। निलंबन से ज्यादा संघ इस बात को लेकर नाराज है कि मंत्री तहसीलदार की डायस पर जाकर बैठ गए जो एक न्यायालय का हिस्सा है और उस पर केवल न्यायाधीश के रूप में उस समय पदस्थ तहसीलदार ही बैठता है।

तहसीलदार संघ का कहना है कि कल को यदि मंत्री को विधि विभाग के खिलाफ कोई शिकायत मिले तो क्या वे सिविल न्यायालय में जाकर इस तरह से बैठ सकते हैं। संघ का यह भी कहना है कि वह कोई रेत माफिया नहीं है जो इस तरह से छापामार कार्रवाई की जाए और बिना किसी नोटिस के सीधे निलंबन की कार्रवाई कर दी जाए।

प्रभारी मंत्री से संघ करेगा मंत्री की शिकायत

संघ इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी मिलने का समय मांग रहा है और उसके साथ साथ कैबिनेट के अन्य मंत्रियों से मिलकर भी इस बारे में बातचीत करेगा। वही इसी मामले को लेकर अब तहसीलदार सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री आरिफ अकील से राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत की शिकायत करने पहुंचे हैं।

डायस पर बैठकर मंत्री ने किया तहसीलदार को निलंबित

संघ का ये भी कहना है कि गोविंद सिंह राजपूत डायस पर पहुंच कुर्सी पर बैठे थे। तहसील ऑफिस न्यायालय व्यवस्था का हिस्सा होता है।मंत्री के आचरण से न्यायालय के काम में बाधा पहुंची। वही इस पूरे मामले में हैरत की बात यह है कि मंत्री को डायस पर बैठने से मंत्री के ओएसडी कमल नागर ने नहीं रोका जो खुद राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं और भली-भांति जानते हैं कि डायस एक न्यायालय व्यवस्था का अंग है और उस पर मंत्री नहीं बैठ सकते तो सवाल यह है कि क्या ऐसे ओएसडी मंत्री का हित चाहते हैं या अहित।

बजट से पहले पीएम मोदी ने बताया किन क्षेत्रों पर हो सरकार का फोकस


लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र में दोबारा सत्ता में आने के बाद शुरुआती तीन हफ्तों में हमारी सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं.

पीएम मोदी ने संसद में दिया संबोधन

खास बातें

पीएम मोदी ने कहा कृषि क्षेत्र पर होने चाहिए फोकस

युवाओं के लिए भी सरकार ने किया काम- पीएम मोदी

बजट 2020 पेश करेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली: बजट 2020 के पेश होने से एक दिन पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने संसद में कहा कि कृषि, विनिर्माण और निर्यात क्षेत्र पर हमें विशेष तौर पर ध्यान देने की जरूरत है. लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र में दोबारा सत्ता में आने के बाद शुरुआती तीन हफ्तों में हमारी सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं. इन फैसलों से किसान, व्यापारी और युवाओं को सबसे ज्यादा फायदा पहुंचेगा. पीएम मोदी ने कहा कि कृषि हमारी अर्थव्यस्था की सबसे अहम कड़ी है. लेकिन हमें इस क्षेत्र में बेहतर करने के लिए अपने पुराने तौर-तरीकों को छोड़ना होगा. साथ ही हमें सूक्ष्म सिंचाई जैसी चीजों को अपनाना होगा. हमें इनपुट कॉस्ट में कमी लानी होगी. हमें अपने किसानों का हाथ थामना होगा. 

पीएम मोदी ने कहा कि आज कॉरपोरेट किसानी में निवेश क्यों नहीं करता है? हमें उन्हें प्रेरित करना होगा, इसके लिए हमें नई पॉलिसी पर काम करने की जरूरत है. सिर्फ ट्रेक्टर बना देने से कुछ नहीं होगा. आज फूड प्रोसेसिंग, वेयर हाउस, कोल्ड स्टोरेज जैसी चीजों के लिए कॉरपोरेट निवेश की जरूरत है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए बिना नाम लिए कांग्रेस पर तंज कसा है. उन्होंने कहा, आपकी ऊंचाई आपको मुबारक हो. आप इतना ऊंचा चले गए हैं कि जमीन दिखनी बंद हो गई है, जड़ों से उखड़ गए हैं.’ पीएम मोदी ने कहा कि हमें किसी की लकीर की छोटा करने में अपना वक्त बर्बाद नहीं करते हैं. भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी के बयान पर कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि हमने ‘फलाने’ को जेल क्यों नहीं भेजा, देश में इमरजेंसी नहीं लगी है कि किसी को भी जेल भेज दें.

कानून अपने हिसाब से काम करेगा और जिन लोगों को जमानत मिल रही है वह एन्ज्वाए करें. पीएम मोदी ने कहा कि पता है कि 70 सालों से चली आ रही चीजों को बदलने में वक्त लगता है. हमने अपना लक्ष्य नहीं बदला है. हमें आगे बढ़ना है फिर चाहे इन्फ्रास्ट्रक्चर हो या स्पेस. पीएम मोदी ने कहा कि मैं चुनाव को हार या जीत की दृष्टि से नहीं देखता हूं. प्रधानमंत्री ने कहा कि कई दशकों के बाद जनता ने इतना मजबूत बहुमत देकर किसी सरकार को दोबारा सत्ता दी है.