डोंगासरा चल रहे यज्ञ समापन व भंडारा समापन के बाद अचानक आग भड़की किसी के हताहत होने की समाचार नहीं है

अशोकनगर श्री कनक बिहारी महाराज के मार्गदर्शन में चल रहे ब्रह्म यज्ञ सफलता पूर्ण पूर्ण हुआ. भंडारे के अंतिम दिन पूजन के बाद यज्ञशाला में अचानक आग लग गई, लोगो की मान्यता है कि जब यज्ञ पूर्ण हो जाता है, तो यह देवताओं द्वारा इसी तरह यज्ञशाला की आहुति ली जाती है, यह शुभ संकेत है . तथा किसी प्रकार जान माल की हानि नहीं हुई मौके पर फायर बिग्रेड की 5 गाड़ियां पहुंची फिर भी आग ना बुझा पाए .यज्ञशाला का एक भाग जलकर नष्ट हो गया महाराज जी के अनुसार यज्ञ
सफल तरीके से संपन्न हुआ, जब यज्ञ समाप्त हो जाता है उसके समापन के बाद यज्ञ शाला अपने आप हवा या पानी या आग के माध्यम से पंचतत्व में विलीन हो जाती है, सत्य आज भी जिंदा है जय हो ब्रह्मा विष्णु महेश इसका मतलब हमारा यज्ञ सफल हुआ, यह कोई अनहोनी नहीं है यह अटल सत्य है.
आग को आगे बढ़ने से रोकने के लिए यज्ञशाला का एक भाग तोड़ दिया गया जहां पंडाल बने हुए थे वहां पहुंचने से आग को रोक दिया गया प्राप्त सूचना के आधार पर स्थिति अब नियंत्रण में है.

https://youtu.be/bMzw4xh_Mds

नर्मदा नदी न्यास अध्यक्ष की कुर्सी संभालते ही कम्प्यूटर बाबा ने हेलीकॉप्टर की मांग की.

       कम्प्यूटर बाबा का कहना है कि अगर नदियों को बचाना है तो इसके लिए उन्हें आधुनिक अस्त्र-शस्त्र की भी जरूरत होगी. मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने आठ मार्च को कम्प्यूटर बाबा को नदी न्यास का अध्यक्ष नियुक्त किया था.

भोपालः मध्य प्रदेश के कम्प्यूटर बाबा उर्फ नामदेव दास त्यागी ने मंगलवार को नर्मदा, क्षिप्रा एवं मंदाकिनी नदी न्यास के अध्यक्ष की कुर्सी संभाल ली.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, कम्प्यूटर बाबा ने नर्मदा परिक्रमा के लिए मध्य प्रदेश सरकार से हेलीकॉप्टर की मांग की है. उनका कहना है कि अगर नदियों को बचाना है तो इसके लिए उन्हें आधुनिक अस्त्र-शस्त्र की भी जरूरत होगी.

कम्प्यूटर बाबा ने नर्मदा रिवर ट्रस्ट के चेयरमैन का पद औपचारिक रूप से संभाल लिया है. ये ट्रस्ट राज्य की कमलनाथ सरकार के तहत आता है.

राज्य की कमलनाथ सरकार ने मार्च में कम्प्यूटर बाबा को ‘मां नर्मदा, मां क्षिप्रा एवं मां मंदाकिनी नदी न्यास’ का अध्यक्ष नियुक्त किया था.

कम्प्यूटर बाबा ने पद संभालने के बाद कहा, ‘अब जब मुझे ट्रस्ट का प्रमुख पद सौंपा गया है, तो मुझे मध्य प्रदेश की जीवन रेखा मानी जाने वाली नदी की वास्तविक स्थिति का पता लगाने के लिए नर्मदा नदी का हवाई सर्वेक्षण करने के लिए जल्द से जल्द एक हेलीकॉप्टर चाहिए. हेलीकॉप्टर से मुझे पिछली शिवराज सिंह चौहान सरकार के दौरान नदी तट पर लगाए गए पेड़ों की स्थिति के साथ नदी में बड़े पैमाने पर रेत खनन के बारे में वास्तविक सच्चाई का पता लगाने में मदद मिलेगी.’

कम्प्यूटर बाबा ने यह भी कहा कि ट्रस्ट नर्मदा नदी के संरक्षण के साथ मंदाकिनी और क्षिप्रा नदियों के लिए काम करेगा, नदी को संरक्षित करने के लिए नदी किनारे के गांवों के युवा स्वयंसेवकों की नर्मदा युवा सेना का निर्माण किया जाएगा और साथ ही आम लोगों को सक्षम बनाने के लिए मां नर्मदा हेल्पलाइन शुरू की जाएगी, जहां नदी में खनन या किसी अन्य अवैध गतिविधि के बारे में शिकायत की जा सकेगी.

आपको बता दें कि कम्प्यूटर बाबा उन पांच धर्मगुरुओं में शामिल थे, जिन्हें नर्मदा नदी संरक्षण के लिए काम करने सहित विभिन्न धार्मिक और पर्यावरणीय कारणों से शिवराज सिंह चौहान सरकार द्वारा राज्य मंत्री रैंक दी गई थी.

ईद के मौके पर पाकिस्तान का भारत के लिए बड़ा ऐलान! हटाई एअर स्पेस से पाबंदी.

भारत के पाकिस्तानी विमानों के लिए एयर स्पेस पर लगाए गए अस्थायी बैन को हटाने के बाद पाकिस्तान ने भी पाबंदी हटाने का ऐलान किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोमवार रात को पहला भारतीय विमान पाकिस्तान के रास्ते दिल्ली में दाखिल हुआ.

भारत के पाकिस्तानी विमानों के लिए एयर स्पेस पर लगाए गए अस्थायी बैन को हटाने के बाद पाकिस्तान ने भी पाबंदी हटाने का ऐलान किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोमवार रात को पहला भारतीय विमान पाकिस्तान के रास्ते दिल्ली में दाखिल हुआ. यह फ्लाइट दुबई से उड़ान भरकर दिल्ली हवाई अड्डे पर पहुंचा. आपको बता दें कि भारतीय वायुसेना द्वारा बालाकोट में आतंकवादियों के ठिकानों पर हमले के एक दिन बाद 27 फरवरी से पाकिसान ने सभी 11 एंट्री पॉइंट्स को बंद कर दिया था. इन पॉइंट्स के जरिए भारतीय विमान पाकिस्तान की वायु सीमा में प्रवेश करते हैं. इसके बाद दिल्ली सहित दक्षिण एशिया के अन्य देशों और पश्चिमी देशों के लिए उड़ान भरने वाले विमान लंबे मार्गों के जरिये परिचालन जारी रखे हुए थे.

पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस से हटाई पाबंदी-अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, पाकिस्तान द्वारा भारतीय विमानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र पर लगी पाबंदी हटाने के बाद सोमवार रात पहला विमान पाकिस्तान के रास्ते दिल्ली में दाखिल हुआ.

>> वहीं, इसको लेकर पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी (CAA) के डायरेक्टर की इंडियो के एक ऑफिसर से बातचीत भी हुई है. पाकिस्तान के CAA ने इंडिगो अधिकारी से कहा, ‘मैं फ्लाइट की मॉनिटरिंग कर रहा हूं. विमान सफलतापूर्वक लैंड कर चुका है. आपको जुबान दी थी. ईद मुबारक हो.

इंडिगो के एक अधिकारी ने कहा, ‘पाकिस्तान ने सुझाव दिया था कि बेहतर होगा कि टेलेम के जरिये ज्यादा से ज्यादा उड़ान शुरू करने से पहले हम इस रास्ते से एक टेस्ट फ्लाइट को गुजारें. इसके मुताबिक, दुबई-दिल्ली फ्लाइट (6E-24) को इस रास्ते से सोमवार को गुजारने की योजना बनाई गई थी.

लापता विमान AN-32 पर हुआ बड़ा खुलासा, 14 साल पुराने SOS सिग्नल यूनिट से चलाया जा रहा था एयरक्राफ्ट

भारतीय वायु सेना के रूस निर्मित एएन-32 परिवहन विमान के लापता होने के बाद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है.

खास बातें

पश्चिमी सियांग के टाटो गांव के आसपास अंतिम बार देखा गया थानौसेना के ‘पी 8 आई’ टोही विमान ने अरुणाचल में तलाश शुरू की14 साल पुराने SOS सिग्नल यूनिट से चलाया जा रहा था एयरक्राफ्ट

नई दिल्ली: भारतीय वायु सेना के रूस निर्मित एएन-32(AN-32) परिवहन विमान के लापता होने के बाद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. मिली जानकारी के मुताबिक एएन-32 में जो एसओएस सिग्नल यूनिट थी, वह 14 साल पुरानी थी. एएन-32 ने ग्राउंड कंट्रोलर्स के साथ सोमवार दोपहर 1 बजे से कम्यूनिकेट करना बंद कर दिया था. सोमवार दोपहर असम के जोरहाट से उड़ान भरने के करीब 33 मिनट बाद यह विमान लापता हो गया था और इस विमान में 13 लोग सवार थे. इस विमान में सिंगल इमरजेंसी लोकेटर ट्रांसमीटर(ईएलटी) था. इसे एसएआरबीई-8 कहते हैं जो बिट्रिश फर्म सिग्नेचर इंडस्ट्री द्वारा मैन्यूफैक्चर किया गया था. एसएआरबीई-8 को एएन-32 के कार्गो कंपार्टमेंट में इंस्टाल किया गया था. जिससे यह कठिन परिस्थितियों में सिग्नल भेज सके.

डिस्ट्रेस सिग्नल को एक सैटेलाइट द्वारा पकड़ा जाता था जो कॉसपास सारसट(इंटरनेशनल सैटेलाइट एडेड सर्च एण्ड रेस्क्यू फैसिलिटी) से संबंधित था. इसके अलावा डिस्ट्रेस सिग्नल को खोज पर गए विमान द्वारा भी सुना गया था जो 243 एमएचजेड पर ट्यून किया गया था जोकि इंटरनेशनल एयर डिस्ट्रेस फ्रीक्वेंसी है.   

सिग्नेचर इंडस्ट्रीज के संदर्भ में 2004 की एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘SARBE 5, 6,7 और 8 मॉडल के ऑर्डर को केवल 5 जनवरी तक ही स्वीकार किया जाएगा. इसकी डिलीवरी 2005 में ही प्लान की गई थी. बैटरी, स्पेयर, सर्विस और सपोर्ट इस तारीख के बाद भी मौजूद रहेंगे.’ इस विज्ञप्ति में कहा गया, ‘इस तरह की सामग्री को प्रयोग करने वाले ऑर्गनाइजेशन को यह नोट करना चाहिए कि पर्सनल लोकेटर बीकोन्स के लिए सैटेलाइट मॉनीटरिंग फैसिलिटीज में बदलाव लाने का मतलब है कि पुराने प्रोडक्ट्स 2009 तक पुराने पड़ जाएंगे.’ SARBE 8 इमरजेंसी लोकेटर ट्रांसमीटर को SARBE G2R-ELT यूनिट द्वारा रिप्लेस किया गया था. जिसे ओरोलिया द्वारा बेचा गया है. यह एक यूएस और फ्रांस आधारित कंपनी है जो 2006 में बनी थी.  

भारतीय वायु सेना जोकि AN-32 की लॉन्च कस्टमर थी, ने 1986 में इसकी शुरुआत की थी. वर्तमान में, भारतीय वायुसेना 105 विमानों को संचालित करती है जो ऊंचे क्षेत्रों में भारतीय सैनिकों को लैस करने और स्टॉक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. इसमें चीनी सीमा भी शामिल है. 2009 में भारत ने 400 मिलियन का कॉन्ट्रैक्ट यूक्रेन के साथ किया था जिसमें एएन-32 की ऑपरेशन लाइफ को अपग्रेड और एक्सटेंड करने की बात कही गई थी. अपग्रेड किया गया एएन-32 आरई एयरक्राफ्ट 46 में 2 कॉन्टेमपररी इमरजेंसी लोकेटर ट्रांसमीटर्स शामिल किए गए हैं. लेकिन एएन-32 को अब तक अपग्रेड नहीं किया गया था. हालांकि अभी तक विमान के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है. इस खोज में इंडियन नेवी  भी अपने पी-8 मारीटाइम एयरक्राफ्ट के साथ लग गया है.

CM कमलनाथ ने की अपील- सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाहों से रहें सावधान!

CM कमलनाथ ने कहा-सरकार के पास आर्थिक विकास, इंफ्रास्ट्रक्चर, कृषि के विकास और बेरोज़गारी दूर करने का रोडमैप तैयार है

बिजली संकट और कटौती को लेकर जनता के गुस्से का सामना कर रही कमलनाथ सरकार फिर भरोसा दिला रही है कि प्रदेश में बिजली संकट नहीं है. पर्याप्त बिजली उपलब्ध है. शिवराज सरकार के दौरान लाइन की मेंटेनेंस ना होने के कारण बार-बार बत्ती गुल हो रही है. सीएम कमलनाथ ने अपील की है कि सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाहों से सावधान रहें.

क्राइसेस मैनेजमेंट – बिजली और पानी को लेकर बेवजह के आरोपों से घिरी कमलनाथ सरकार क्राइसेस मैनेजमेंट में लगी है. मंगलवार को ऊर्जा विभाग की हाईलेवल मीटिंग के बाद अब फिर सीएम ने जनता से कहा है कि प्रदेश में बिजली की कमी नहीं है. और ना ही ये अघोषित बिजली कटौती है. बल्कि पिछली सरकार के दौरान कई साल तक बिजली सप्लाई करने वाली लाइनों का रखरखाव नहीं हुआ है इसलिए बार-बार ट्रिपिंग हो रही है.

लाइन का मेंटेनेंस – सीएम ने कहा अब लाइनों की मरम्मत और मेंटेनेंस किया जाएगा. उन्होंने अफसरों से भी कहा है कि जब मेंटेनेंस काम के लिए लाइन बंद की जाए, तब उसकी खबर पहले से लोगों को दी जाए, ताकि भ्रम की स्थिति ना फैले. लोग ये ना समझें कि बिजली कटौती चल रही है.

थोड़ा वक़्त दीजिए – सीएम कमलनाथ ने कहा बरसों से बिजली सप्लाई व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ है. इसी वजह से बिजली की कटौती की जा रही है. उन्होंने कहा-जल्द शिकायतों का समाधान किया जाएगा. पुरानी सरकार में बिगड़ी व्यवस्था सुधारने में थोड़ा वक़्त लगेगा.

सोशल मीडिया से रहें सतर्क-सरकार के पास आर्थिक विकास, इंफ्रास्ट्रक्चर, कृषि के विकास और बेरोज़गारी दूर करने का रोडमैप तैयार है. उन्होंने सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों से सावधान रहने की अपील भी जनता से की.सीएम कमलनाथ ने दावा किया कि मैं और मेरी सरकार पूरे 5 साल सेवा में तत्पर रहेंगे. मैं जो बोलता हूं उसे पूरा करता हूं.

जगमोहन रेड्डी के सलाहकार को केबिनेट दर्जा साथ में सालाना 30 लाख

नई दिल्ली, अजय कलाम को कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिलने के साथ ही कई अन्य सुविधाएं भी दी गई हैं. वह मुख्यमंत्री के सभी सचिवों को दिशा निर्देश देंगे, साथ ही अन्य मंत्रालयों के लिए सलाहकार की भूमिका भी निभाएंगे.

आंध्र प्रदेश के नए मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी

आंध्र प्रदेश में प्रचंड जीत हासिल कर सत्ता में आने वाले YSR कांग्रेस के प्रमुख जगन मोहन रेड्डी पर हर कोई नज़रें गड़ाए हुए है. युवा मुख्यमंत्री के हर कदम पर लोग चर्चा कर रहे हैं, इसी बीच उनका एक फैसला सुर्खियां बटोर रहा है. जगन ने अपने फर्स्ट एडवाइजर अजय कलाम को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया है.

अजय कलाम को कैबिनेट मंत्री का दर्जा देने के साथ ही कई अन्य सुविधाएं भी दी गई हैं. वह मुख्यमंत्री के सभी सचिवों को दिशा निर्देश देंगे, साथ ही अन्य मंत्रालयों के लिए सलाहकार की भूमिका भी निभाएंगे. राज्य के चीफ सेकेट्ररी एल.वी. सुब्रमण्यम ने मंगलवार को ये आदेश जारी किया था.

अजय कलाम को जगन मोहन रेड्डी का खास माना जाता रहा है. वह रिटायर्ड IAS हैं, ऐसे में उनकी सैलरी भी अफसरों जैसी ही है. अजय को 30 लाख रुपये की सालाना सैलरी मिलेगी, इसके अलावा TA, DA, सरकारी गाड़ी और अन्य सभी सरकारी सुविधाएं भी उन्हें दी जाएंगी.

राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री के लिए कुल 9 सलाहकारों को नियुक्त किया है, हालांकि अजय कलाम मुख्य सलाहकार की भूमिका निभाएंगे.

इससे पहले भी जगन मोहन का शपथ ग्रहण समारोह काफी सुर्खियों में रहा था. उनका शपथ ग्रहण काफी ठाठ-बाट के साथ हुआ, जिस पर कई लोगों ने सवाल उठाए.

गौरतलब है कि जगन मोहन रेड्डी की पार्टी ने इस बार विधानसभा के साथ-साथ लोकसभा चुनाव में भी जीत का नया परचम लहराया है. राज्य की कुल 175 विधानसभा सीटों में से YSR कांग्रेस को कुल 151 सीटें मिली तो वहीं टीडीपी सिर्फ 23 पर ही सिमट गई. इसके अलावा लोकसभा में भी YSR कांग्रेस को 25 में से 22 सीटें मिली थीं.

ईद पर 5 करोड़ मुस्लिम स्टूडेंट्स को मोदी सरकार का तोहफा, पढ़ाई के लिए मिलेगा पैसा!

पांच साल में ढ़ाई करोड़ मुस्लिम बेटियों को भी पढ़-लिखकर आगे बढ़ने के लिए ‘प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति’ देगी मोदी सरकार

नरेंद्र मोदी सरकार ने ईद पर मुस्लिम युवाओं को बड़ा तोहफा दिया है. यह तोहफा है पढ़ाई-लिखाई के लिए. केंद्रीय अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्रीमुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने अपने मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद अगले पांच साल में 5 करोड़ विद्यार्थियों को ‘प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति’ देने का एलान किया. खास बात ये है कि इसमें से करीब ढ़ाई करोड़ यानी 50 प्रतिशत छात्राएं होंगी. इसका लाभ लेने की प्रक्रिया को सरल और पारदर्शी बना दिया गया है.

नकवी ने कहा कि विकास की गाड़ी को विश्‍वास के हाईवे पर तेजी से दौड़ाना अगले पांच वर्षों में हमारी प्राथमिकता होगी, ताकि प्रत्‍येक जरूरतमंद की आंखों में खुशी और उसके जीवन में समृद्धि लाई जा सके. विश्‍वास के हाईवे पर न कोई स्‍पीड ब्रेकर आने देंगे और न कोई रोड़ा. इसके लिए हमें चौकस और चौकन्‍ना रहना होगा.

नकवी ने कहा कि ‘3ई’ यानी एजुकेशन, एम्‍प्‍लॉयमेंट और एम्पावरमेंट हमारा लक्ष्‍य है. इसे पूरा करने के लिए हम परिश्रम कर रहे हैं. मुस्लिम ल‍ड़कियों की शिक्षा को प्रोत्‍साहित करने के लिए ‘पढ़ो–बढ़ो’ अभियान चलाया जाएगा. दूरदराज के इलाकों में जहां आर्थिक-सामाजिक कारणों से लोग लड़कियों को शिक्षा के लिए नहीं भेजते हैं वहां शैक्षणिक संस्‍थानों को सुविधाएं एवं साधन उपलब्‍ध कराने के लिए काम किया जाएगा. सौ से ज्‍यादा मोबाइल वैन के माध्‍यम से शिक्षा-रोजगार से जुड़े सरकारी कार्यक्रमों की जानकारी देने के लिए देश भर में अभियान चलाया जाएगा.

मुस्लिमों को ऐसे मिलेगा रोजगार

नकवी ने कहा कि रोजगार पर भी पांच साल का रोडमैप पेश किया. कहा कि दस्‍तकारों/शिल्‍पकारों/कारीगरों को रोजगार से जोड़ने और बाजार मुहैया करवाने के लिए अगले पांच साल में देश में 100 से अधिक ‘हुनर हाट’ का आयोजन होगा. साथ ही उनके स्‍वदेशी उत्‍पादों की ऑनलाइन बिक्री के लिए भी व्‍यवस्‍था की जाएगी.

पांच साल 25 लाख नौजवानों को रोजगारपरक कौशल उपलब्‍ध कराया जाएगा और इसके साथ ही ‘सीखो और कमाओ’ ‘नई मंजिल’ ‘गरीब नवाज कौशल विकास’ और ‘उस्‍ताद’  जैसे रोजगारपरक कौशल विकास कार्यक्रमों को प्रभावकारी बनाया जाएगा.

रानू राजा कल्याण संघ की संभागीय अध्यक्ष बनीं

दिनारा|दिनारा कस्बे में रहने वाली रानू राजा परमार बिलरई को प्रेस मीडिया पत्रकार कल्याण संघ की राष्ट्रीय अध्यक्ष…

दिनारा|दिनारा कस्बे में रहने वाली रानू राजा परमार बिलरई को प्रेस मीडिया पत्रकार कल्याण संघ की राष्ट्रीय अध्यक्ष क्रांति सिंह द्वारा महिला संभाग अध्यक्ष ग्वालियर संभाग के पद पर नियुक्त किया गया है। इस मौके पर रानू परमार ने राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भरोसा दिलाते हुए कहा है कि इस पद को पूरी ईमानदारी से निर्वाहन करूंगी। साथ ही संगठन को मजबूती किया जाएगा। साथ ही बताया है कि में पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से संघ को हमेशा आगे बढ़ाने का काम करूंगी। रानू राजा के मनोनयन पर उनके गृह ग्राम बिलरई सहित सभी क्षेत्रीय शुभचिंतकों, गणमान्य नागरिकों, जनप्रतिनिधि एवं पत्रकार बंधुओं ने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।