5 दिन बाद बंद हो जाएगी PNB की सर्विस, करोड़ों ग्राहकों पर होगा असर

अगर आप पंजाब नेशनल बैंक के ग्राहक हैं तो आपके लिए एक जरूरी खबर है. दरअसल, पंजाब नेशनल बैंक ने एक ऐसी सर्विस बंद करने का ऐलान किया है जिसका असर करोड़ों ग्राहकों पर पड़ने की आशंका है. आइए जानते हैं कि आखिर क्‍या है वो सर्विस…

दरअसल, पंजाब नेशनल बैंक ने 30 अप्रैल से अपनी एक खास सर्विस PNB Kitty (पीएनबी किटी ) को बंद करने की बात कही है. पीएनबी किटी एक डिजिटल वॉलेट है. इसके जरिए पंजाब नेशनल बैंक के ग्राहक ई-कॉमर्स ट्रांजेक्शन करते हैं. 

इसके अलावा क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड या नेटबैंकिंग की जगह पीएनबी किटी से पेमेंट की जा सकती है. आसान भाषा में समझें तो यह पेटीएम या मोबिक्‍विक की तरह का वॉलेट है. इसमें नेटबैंकिंग का पासवर्ड या कार्ड की जानकारी आदि सुरक्षित रहती है.

पंजाब नेशनल बैंक ने अपने ग्राहकों को बताया है कि वह पीएनबी किटी में पड़े पैसे 30 अप्रैल तक या तो खर्च कर लें या फिर IMPS के जरिए अपने बैंक अकाउंट में  ट्रांसफर कर लें. इसका मतलब यह हुआ कि अगर आपने बैंक की बात नहीं मानी तो 30 अप्रैल के बाद वॉलेट में पड़ा आपका पैसा फंस सकता है.
पीएनबी किटी वॉलेट के जरिए मोबाइल नंबर के जरिए वॉलेट टू वॉलेट ट्रांसफर के अलावा बैंक अकाउंट में IMPS के जरिए ट्रांसफर की सुविधा दी जाती है.
इसके अलावा मोबाइल/डीटीएच टीवी रिचार्ज, ई-कॉमर्स ट्रांजेक्शन और यूटिलिटी बिल पेमेंट ट्रांजेक्शन भी किया जा सकता है. इसी के साथ क्यूआर कोड के जरिए भी पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है.
बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक अगर वॉलेट में बैलेंस जीरो है तो अकाउंट बंद हो जाएगा. अगर वॉलेट में बैलेंस बचा है तो यूजर उसे खर्च कर लें या किसी दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर लें. बैंक की इस सुविधा के बारे में विस्‍तार से जानकारी के लिए https://www.pnbindia.in/PNB-Kitty.html लिंक पर क्‍लिक करें. 

कांग्रेस ने किया वाराणसी और गोरखपुर सीट के लिए उम्मीदवारों का ऐलान, फिर अजय राय को उतारा PM मोदी के खिलाफ

नई दिल्ली: कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए वाराणसी और गोरखपुर लोकसभा सीट के लिए अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है. वाराणसी सेअजय राय और गोरखपुर से मधुसूदन तिवारी  को टिकट दिया गया है. वाराणसी में अजय राय का मुकाबला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से होगा.

पहले चर्चा थी कि कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ उतारा जाएगा. लेकिन कांग्रेस ने सभी कयासों पर विराम लगाते हुए गुरुवार को अजय राय को इस सीट से टिकट दे दिया. पार्टी और खुद प्रियंका की तरफ से ऐसे संकेत मिले थे जिनसे इस अटकल को और बल मिला था. अजय राय ने 2014 में भी मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ा था लेकिन वह तीसरे स्थान पर रहे थे. वाराणसी सीट से सपा और बसपा गठबंधन ने शालिनी यादव को टिकट दिया है. वाराणसी सीट सपा के खाते में आई थी.
बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी लोकसभा सीट से अपना नामांकन पत्र 26 अप्रैल को दाखिल करेंगे. इस मौके पर उनके साथ जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे सहित राजग के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे. भाजपा ने बताया कि शरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रकाश सिंह बादल और लोक जनशक्ति पार्टी प्रमुख रामविलास पासवान भी प्रधानमंत्री के नामांकन के दौरान मौजूद रहेंगे. नामांकन से एक दिन पहले मोदी वाराणसी में एक ‘बड़ा रोड शो’ करेंगे. यह रोड शो पंडित मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा स्थल से शुरू होगी और दशाश्वमेध घाट पर खत्म होगी.

भाजपा ने बताया, ‘रोडशो के बाद प्रधानमंत्री दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में हिस्सा लेंगे. उसके बाद रात के आठ बजे वह वाराणसी से होटल डी पेरिस में मशहूर शख्सियतों से बातचीत करेंगे.’ वहीं, शुक्रवार को प्रधानमंत्री बूथ प्रमुखों और पार्टी कार्यकर्ताओं को सुबह साढ़े नौ बजे संबोधित करेंगे. साथ ही बताया गया है कि इस कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री काल भैरव मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे. 11 बजकर 30 मिनट पर वह वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन पत्र दाखिल करेंगे. इस मौके पर अन्नाद्रमुक, अपना दल और नॉर्थ-ईस्ट डेमोक्रेटिक अलयांस (एनईडीए) के नेता भी मौजूद रहेंगे.

हेलिकॉप्टर नहीं उतरने देने से नाराज शिवराज सिंह ने DM के खिलाफ की शिकायत


पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार को चुनावी रैली के लिए हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं मिलने पर बेहद नाराज हो गए .
भोपाल मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए छिंदवाड़ा के उमरेठ में हेलिकॉप्टर उतारने की अनुमति नहीं दिए जाने पर जिलाधिकारी श्रीनिवास शर्मा की शिकायत अब राज्य निर्वाचन आयोग से कर दी है. शिवराज का आरोप है कि जिलाधिकारी एक राजनीतिक दल के इशारे पर काम कर रहे हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार को चुनावी रैली के लिए हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं मिलने पर बेहद नाराज हो गए थे और उन्होंने खुलेआम धमकी भी दे डाली. डीएम को कथित धमकी देने के एक दिन बाद गुरुवार को शिवराज सिंह चौहान ने आरोप लगाया कि कलेक्टर एक राजनीतिक दल के इशारे पर काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि उनका हेलिकॉप्टर नियमों के तहत ही उतरना था, लेकिन अनुमति नहीं मिलने से जनसभाओं और रोड शो में देरी हुई.

चुनावी सभा में हुई देरी के बाद बुधवार को सभा के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर पर सवाल उठाए थे और उन्हें ‘पिट्ठू कलेक्टर’ तक कह डाला था. छिंदवाड़ा राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ का संसदीय क्षेत्र हैं. मध्य प्रदेश में चौथे चरण के तहत 29 अप्रैल को मतदान होना है.

छिंदवाड़ा के उमरेठ में हेलिकॉप्टर को उतारने की इजाजत नहीं मिलन के बाद बीजेपी के नेता शिवराज सिंह चौहान के राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ पर तीखा हमला किया. एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंन कहा, ‘पश्चिम बंगाल में ममता दीदी नहीं उतरने दे रही थीं. ममता दीदी के बाद मध्य प्रदेश में कमलनाथ दादा नहीं उतरने दे रहे. सत्ता के मद में ऐसे चूर मत होओ… ये पिट्ठू कलेक्टर सुन ले रे, हमारे दिन भी जल्दी आएंगे, तब तेरा क्या होगा?’

सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को को सीजेआई रंजन गोगोई ( Ranjan Gogoi ) पर लगे कथित यौन उत्पीड़न मामले की सुनवाई दोबारा शुरू हुई

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को को सीजेआई रंजन गोगोई ( Ranjan Gogoi ) पर लगे कथित यौन उत्पीड़न मामले की सुनवाई दोबारा शुरू हुई है। वकील उत्सव बैंस ने इस मामले में शीर्ष अदालत के समक्ष सीलबंद लिफाफे में सबूत पेश किए। इस बारे मेें जानकारी देते हुए अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने बताया कि कोर्ट से निलंबित कर्मचारियों ने वकील से संपर्क किया। उन्होंने यह भी खुलासा किया कि निलंबित कर्मचारी प्रेस कॉन्फ्रेंस करना चाहते थे। आपको बता दें चीफ जस्टिस के खिलाफ कोर्ट की एक पूर्व महिला ने आरोप लगाए हैं।

बुधवार को तीन अफसरों को कोर्ट ने किया था तलब

इससे पहले बुधवार को भी इस मामले में सुनवाई हुई थी। वकील बैंस ने कोर्ट में बतौर सबूत सीसीटीवी फुटेज पेश किया। बैंस ने दावा किया है कि कॉरपोरेट लॉबिस्‍ट साजिशन सीजेआई रंजन गोगाई को किसी मामले में फंसाना चाहती है। उत्सव ने सीसीटीवी फूटेज पेश करते हुए कहा कि यह फुटेज ही असली सबूत है। मैं, इसे कोर्ट में पेश कर रहा हूं। इस मामले का ‘मास्टरमाइंड’ बेहद शक्तिशाली है। उत्सव ने शीर्ष अदालत से इस मामले की न्यायिक जांच की भी मांग की। बता दें कि सुप्रीम ने बैंस की ओर से सबूत पेश करने के बाद इस मामले में सीबीआई डायरेक्टर, आईबी चीफ और दिल्ली पुलिस कमिश्नर को तत्‍काल प्रभाव से कोर्ट में हाजिर होने को कहा था। उनके साथ करीब एक घंटे तक मीटिंग कर कोर्ट ने उन्हें वकील उत्सव बैंस द्वारा पेश किए गए सबूतों की जांच करने को कहा।

यह भी पढ़ें- CJI यौन उत्पीड़न केस: कोर्ट ने CBI डायरेक्टर समेत 3 अधिकारी को किया तलब, एक घंटे तक चली मीटिंग

कोर्ट ने सबूतों का नहीं किया खुलासा

शीर्ष अदालत ने बुधवार को कहा था कि वकील उत्सव बैंस की ओर से दायर हलफनामा मामले की गंभीरता को दर्शाता है। इसलिए अदालतन CBI डायरेक्टर, आईबी के निदेशक और दिल्ली पुलिस के कमीशनर से मिलने का फैसला किया है। वरिष्‍ठ अधिकारियों को सुप्रीम कोर्ट के चैंबर में मिलने को कहा। कोर्ट ने कहा, ‘हम (वकील बैंस द्वारा एक सीलबंद लिफाफे में पेश किए गए) हलफनामे में मौजूद किसी भी चीज का खुलासा नहीं कर रहे हैं। बहुत गंभीर मुद्दे उठाए गए हैं।

श्री लंका से आज फिर धमाके की खबर आ रही है.

श्रीलंका में अब तक के हुए सबसे बड़े आतंकी हमले को एक हफ्ता भी नहीं बीता है कि एक और धमाके की खबर है. गुरुवार सुबह श्रीलंका की राजधानी कोलंबो से 40 किमी. दूर बम धमाके की आवाज़ सुनाई दी. हालांकि, धमाका किस तरह का है इस पर अभी पुलिस का आधिकारिक बयान आना बाकी है.

आपको बता दें कि पिछले ही हफ्ते ईस्टर के मौके पर श्रीलंका में कई जगहों पर 8 धमाके हुए थे, तभी से वहां पर सुरक्षा बढ़ाई गई हैं. लेकिन अब एक बार फिर धमाके की खबर हैरान करने वाली है.

किसका विकास हो रहा शिवपुरी की राजनीति मेंं अब जनता सब समझ रही.

शिवपुरी जनता की नजर में शिवपुरी जिला विकास शून्य है भले ही यहां के राजनीति के कर्णधार अपने भाषणों में कितना ही विकास करदें लेकिन जनता का दर्द जनता ही जानती है. बेरोजगारी सुरसा की तरह बढ़ रही, शिक्षित नौजवान असहाय है, आमजन की बचत और क़य शक्ति न के बराबर है, हां हमारे जनप़तिनिधि जरुर अरबों के मालिक हैं. राजनीति आज के समय में साम दाम दंड भेद से चल रही है. लेकिन जनता अब सब जान चुकी है, जागरुक है.
जनता की नजर में शिवपुरी के विकास की तसवीर नीचे शब्दों में पढ़ी जा सकती है.
बे-रोजगार- गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र की यदि रोजगार में बात की जाए तो हम समझ सकते है कि रोजगार एक बड़ी समस्या के रूप में क्षेत्र में उभरी है और इसे उबार पाने में स्वयं सांसद सिंधिया ने प्रयास भले ही किए हो लेकिन धरातल पर उसके परिणाम आज भी शून्य है। गुना-शिवपुरी के संसदीय क्षेत्र में आज भी युवा जहां अपने रोजगार को लेकर संशय में है तो वहीं एक गरीब तबका, मजदूर वर्ग रोजमर्रा की जिंदगी में दो वक्त की रोटी के लिए जद्दोजहद करता हुआ नजर आ रहा है। इस बार चुनाव में यह मुद्दा भी जनता के बीच का है जिसका जबाब देना जनता के लिए जरूरी है।
अधूरा विकास- बात यदि विकास की हो तो फिलहाल शिवपुरी विधानसभा के विकराल हालात नजर आते है। उबड-खाबड़ की चौराहा, खुदा पड़ा शहर जहां से उडऩे वाली धूल के कारण क्षेत्र के हजारों लोग इस धूल मिट्टी का सफर करने को मजबूर है। शहर के प्रमुख मार्ग का विकास भले ही हुआ हो बाबजूद इसके आज भी कई क्षेत्र ऐसे है जहां सीवर की खुदाई के कारण वार्डों में खुदाई अधूरी है।
अधर में जलावर्धन- क्षेत्रीय सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया बार-बार अपने संबोधनों में दोहराते है कि उन्होंने सिंध परियोजना को वर्ष 2007 में मंजूर कराया लेकिन आज तक यह योजना क्रियान्वित नहीं हो सकी। करीब 11 वर्ष बाद भी आज नगर के लोग मड़ीखेड़ा का पानी घर-घर तक आने का इंतजार कर रहे है बाबजूद इसके योजना आज भी अधर में है और बजट प्रतिवर्ष बढ़ता ही जा रहा है। वायपास तक आने वाला पानी टंकियों तक नहींं पहुंचा तो टंकियों से घरों तक तो अभी दूर की कोढ़ी साबित हो रहा है।
लटका सीवर प्रोजेक्ट- शहर के विकास की परिकल्पना को लेकर सीवर प्रोजेक्ट भी एक बड़ा अभियान है जहां सीवर लाईन के माध्यम से शहर की गंदूगी को दूर कर शहर से दूर बाहर किया जाए लेकिन यह सीवर प्रोजेक्ट भी अधर में लटका हुआ है आखिकार इन रूके हुए विकास कार्यों को लेकर कहीं ना कहीं क्षेत्र के लोगों में कई तरह के सवाल जन्म ले रहे है। ऐसे में आज भी सीवर प्रोजेक्ट अपने अस्तित्व में कब आएगा यह फिलहाल कहना मुश्किल है।
अभी भी अधर में आधुनिक शिक्षा- गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र में शिवपुरी विधानसभा ही नहीं बल्कि संपूर्ण लोकसभा के रहवासियों में निवासतर युवाओं के भविष्य को ध्यान में रखते हुए आधुनिक शिक्षा के लिए मेडीकल कॉलेज, एनटीपीसी और एनपीटीआई व पॉलीटैक्नीकि कॉलेज जैसे बड़े-बड़े महाविद्यालयों की स्थापना हो रही है बाबजूद इसके यह प्रयास भी अभी अधूरे है। मेडीकल कॉलेज का भले ही लोकार्पण हो गया बाबजूद इसके यहां अभी चिकित्सक बनने में समय लगेगा। इसके अलावा एनटीपीसी, एनपीटीआई भी रूके हुए विकास कार्यों में शामिल है।
आधी-अधूरी चिकित्सा- बार-बार मीडिया और क्षेत्र के लोगों के लिए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के मप्र शासन में मंत्री यह कहते नहीं अघाते कि उन्होंने जिला चिकित्सालय में बंद पड़ा ताला खुलकर आईसीयू चालू कर दिया लेकिन क्या आईसीयू ही सारी चिकित्सकी व्यवस्था की जिम्मेदारी है नहीं, अभी भी चिकित्सालय में नियमित चिकित्सकों की उपस्थिति, मरीजों का समुचित उपचार, शासन की योजनाओं को तरसता गरीब वर्ग, रेबीज इंजेक्शन की कमी होना और बार-बार आपाताकालीन स्थिति में मरीजों को जिला चिकित्सालय से बाहर भेजे जाने का घटनाक्रम नियमित जारी है। ऐसे में आधी-अधूरी चिकित्सा व्यवस्था के चलते जनता क्षेत्रीय सांसद से जबाब मांग रही है।

युवक फांसी पर झूला, सुसाइड नोट में लिखा- चोरी के शक पर मुझे धमकी दी, पापा को पता चला तो मुझे मार देंगे, इसलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं…


शहर की अशोक विहार कॉलोनी शिवपुरी में 30 साल के युवक ने बुधवारको अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मरने से पहले युवक ने सुसाइड नोट छोड़ा है। युवक इलेक्ट्रॉनिक शोरूम पर सेल्समैन का काम करता था। सुसाइड नोट में युवक ने शोरूम वालों पर चाेरी के शक में उसे धमकाने का जिक्र किया है। घर पर पिता को इस बात का पता चल जाने के डर से उसने बिना किसी को बताए फांसी लगा ली। आत्महत्या के मामले में परिजन शोरूम वालों पर प्रताड़ना का आरोप लगा रहे हैं। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला विवेचना में ले लिया है। 
जानकारी के मुताबिक प्रदीप उर्फ बंटी रावत (30) पुत्र जगदीश रावत निवासी ग्राम मुड़खेड़ा (करसेना) हाल निवास अशोक विहार कॉलोनी शिवपुरी ने बुधवार को दिन में फांसी लगा ली। पोस्टमार्टम के लिए शव को पीएम हाउस लाया गया। मृतक के छोटे भाई धर्मेंद्र रावत ने प्रदीप द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट के संबंध में बताया। धर्मेंद्र रावत ने कहा कि उसका भाई चार महीने से अग्रवाल शोरूम पर सेल्समैन का काम कर रहा था। सुसाइड नोट में उसने चोरी का जिक्र किया है। शोरूम से हुई चोरी के शक में प्रदीप को धमकाया गया। इस धमकी और घर पर पिता को पता लग जाने की वजह से वह डर गया। उसने घर पर किसी को बिना बताए आत्मघाती कदम उठा लिया। पुलिस ने पीएम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है। फिजीकल थाना टीआई अनीता मिश्रा का कहना है कि फिलहाल मर्ग कायम कर लिया है। सुसाइड नोट के आधार पर मामले में जांच की जाएगी। 
प्रदीप रावत। 
इलेक्ट्रॉनिक शोरूम पर सेल्समैन के रूप में काम करता था युवक, परिजन शोरूम वालों पर प्रताड़ना का लगा रहे हैं आरोप 
जैल पेन खत्म हुआ, साधारण पेन से पूरा किया सुसाइड नोट 
प्रदीप ने सुसाइड नोट छोड़ा है। सबसे पहले जैन पेन से लिखा है कि ‘मैं प्रदीप रावत एंड बंटी रावत अपने पूरे होश में आत्महत्या कर रहा हूं। हत्या करने की वजह मिस्टर पुनीत अग्रवाल और मिस्टर मनीष अग्रवाल, इनके शोरूम में चोरी हुई। जब काेई पकड़ में नहीं आया तो इन्होंने शक के तौर पर मुझे घर से बुलवाकर धमकी दी और कहा कि तुम कुबूल नहीं करोगे तो हम पुलिस को पैसे देकर तुमको छह साल की सजा करवा देंगे और हमारी पहुंच ऊपर तक है। इसलिए तुम सब कुबूल कर लो, हम तुमको माफ कर देंगे। इसी बीच पुनीत भैया वीडियो बना रहे थे और कहा कि; (जैल पेन खत्म हो गया, फिर साधारण पेन से लिखा) अब हमारे पास तुम्हारा प्रूफ भी है। मैं डर गया कि पापा को पता चला तो मुझे मार देंगे। इसलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं।’ 
फांसी लगाने से पहले प्रदीप ने कहा- रात में सोया नहीं… सुबह प्रदीप घर आया और खाना खाने के बाद कहने लगा कि रात में सोया नहीं। इसके बाद वह कमरे में चला गया। काफी समय बाद अंदर से कुंदी नहीं खुली तो छोटे भाई विक्रम ने कुर्सी रखकर खिड़की से झांका तो अंदर प्रदीप का फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। 
प्रदीप की तीन बेटियां, एक भाई सॉफ्टवेयर इंजीनियर और दूसरा कोचिंग सेंटर का संचालक है 
तीन भाइयों में प्रदीप सबसे बड़ा और कक्षा 8वीं पास था। शादी के बाद प्रदीप की तीन बेटियां भी हैं। छोटा भाई धर्मेंद्र रावत गुजरात में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। जबकि सबसे छोटा भाई विक्रय रावत कोचिंग सेंटर चलाता है। दोनों भाइयों का कहना है कि बच्चों की भविष्य की खातिर भाई को शिवपुरी शिफ्ट कर दिया था। अशोक विहार कॉलोनी में श्वेता श्रीवास्तव के मकान में किराए से रह रहे हैं। धर्मेंद्र ने बताया कि वह सात दिन की छुट्टी लेकर आया है। पिता के साथ फसल निकलवाने के लिए गांव से लौटकर आया था। 

गुना शिवपुरी लोकसभा में सभी 13 उम्मीदवारों के पर्चे सही पाए गए


शिवपुरी, लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत उम्मीदवारों द्वारा प्रस्तुत किए गए नाम निर्देशन पत्रों की समीक्षा (जांच) कलेक्टर एवं संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 04 गुना की रिटर्निंग आॅफिसर श्रीमती अनुग्रहा पी द्वारा राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों एवं नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत करने वाले उम्मीदवारों की उपस्थिति में आज कलेक्टर कोर्ट रूम में की गई। समीक्षा के दौरान सभी 13 उम्मीदवारों के नाम निर्देशन पत्र सही पाए गए।
इस दौरान भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी सामान्य प्रेक्षक श्री शशिधर मण्डल, सामान्य प्रेक्षक श्री डी.सेन्थिल पाण्डियन, सहायक रिटर्निंग आॅफिसर श्री अतेन्द्र सिंह गुर्जर आदि उपस्थित थे।

राजनैतिक दल एवं उम्मीदवार आदर्श आचरण संहिता का पूर्ण रूप से पालन करें – स्टेण्डिग कमेटी


शिवपुरी, लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत राजनैतिक दलों की स्टेण्डिग कमेटी की बैठक गुना संसदीय निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 04 की रिटर्निंग आफिसर श्रीमती अनुग्रहा पी की अध्यक्षता में जिलाधीश कार्यालय शिवपुरी के सभाकक्ष में बुधवार को सम्पन्न हुई।
बैठक में गुना संसदीय निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 04 के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक श्री डी.सेन्थिल पाण्डियन, सामान्य प्रेक्षक श्री शशिधर मण्डल, कलेक्टर गुना श्री भास्कर लाक्षकार, कलेक्टर अशोकनगर श्रीमती मंजू शर्मा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री राजेश हिंगणकर, पुलिस अधीक्षक गुना श्री राहूल कुमार लोडा, पुलिस अधीक्षक अशोकनगर श्री पंकज कुमावत, अपर कलेक्टर श्री आर.एस.बालोदिया, उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्री मकसूद अहमद सहित राजनैतिक दलों के पदाधिकारी एवं व्यय लेखा एवं एमसीएमसी कमेटी के नोडल अधिकारी आदि उपस्थित थे।
रिटर्निंग आफिसर श्रीमती अनुग्रहा पी ने बैठक को संबोधित करते हुए राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों से कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा राजनैतिक दलों एवं उम्मीदवारांे के लिए जो आदर्श आचरण संहिता लागू की गई है। उसका पूर्ण रूप से पालन करें। ऐसा कोई कार्य न करें। जिससे आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन हो। उन्होंने बताया कि चुनाव प्रचार में आने वाले स्टार प्रचारकों की अनुमति राज्य स्तर से जारी की जाएगी। उन्होंने कहा कि संपूर्ण लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए वाहनों की अनुमति जिला मुख्यालय शिवपुरी से अतिरिक्त जिलाण्डाधिकारी शिवपुरी द्वारा प्रदाय की जाएगी। जबकि जिले में संबंधित जिलादण्डाधिकारी और संबंधित विधानसभा क्षेत्र में अनुविभागीय दण्डाधिकारी द्वारा अनुमति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार में उपयोग में होने वाले पोस्टर, बैनर, पेम्पलेट पर मुद्रक का नाम एवं संख्या आवश्यक रूप से अंकित की जाए।
रिटर्निंग आॅफिसर ने बताया कि नाम निर्देशन पत्र प्राप्ति के दिन से प्रत्येक उम्मीदवार को व्यय पंजी संधारण करना होगा। इसके लिए उन्हें व्यय प्रेक्षक के समक्ष 3 बार पंजी का अवलोकन भी कराना होगा।
इन तिथियों में व्यय लेखे का होगा निरीक्षण
कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने बताया कि प्रेक्षक द्वारा उम्मीदवारों के व्यय लेखों के निरीक्षण हेतु तिथियां निर्धारित की गई है। जिसके तहत प्रथम निरीक्षण 29 अप्रैल 2019 सोमबार को प्रातः 10 बजे से सांयकाल 05 बजे तक, द्वितीय निरीक्षण 03 मई शुक्रवार को समय प्रातः 10 बजे से सांयकाल 05 बजे तक और तृतीय निरीक्षण 09 मई गुरूवार को प्रातः 10 बजे से सांय 05 बजे तक जिला पंचायत कार्यालय पोहरी रोड़ शिवपुरी के सभाकक्ष में किया जाएगा। इसके लिए व्यय लेखा संधारण करने वाले उम्मीदवार के अधिकृत व्यक्ति को 26 अप्रैल 2019 को अपराह्न 04 बजे जिला मुख्यालय पर प्रशिक्षण भी प्रदाय की जाएगा।
उन्होंने बताया कि 26 अप्रैल को शाम 05 बजे मतदान केन्द्रों के लिए ईव्हीएम का रेण्डमाइजेशन उम्मीदवारोें की उपस्थिति में किया जाएगा। रिटर्निंग आफिसर ने बताया कि 87 ईव्हीएम मशीनें मतदान कर्मियों के प्रशिक्षण हेतु उपयोग में की जा रही है। सेक्टर अधिकारियों को दी जाने वाली रिजर्व मशीनों का उपयोग न किए जाने पर उन्हें पोलिटेक्निक काॅलेज शिवपुरी में बनाए गए स्ट्राॅग रूमों में सुरक्षित रखा जाएगा। जबकि मतदान हेतु उपयोग की गई ईव्हीएम मशीन शा.स्नातकोत्तर महाविद्यालय शिवपुरी में बनाए गए स्टांग रूमों में सुरक्षित रखा जाएगा।
प्रेक्षक सर्किट हाउस में उपलब्ध रहेंगे
सामान्य प्रेक्षक श्री डी.सेन्थिल पाण्डियन ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि स्टेडिंग कमेटी की बैठक का आयोजन करने के मुख्य उद्देश्य आयोग के दिशा-निर्देशों से राजनैतिक दलो को अवगत कराना है और निर्वाचन के दौरान आने वाली समस्याओं को दूर करना है। इसके साथ-साथ आयोग द्वारा जो आदर्श आचरण संहिता लागू की गई है, उसे पालन करना है। उन्होंने बताया कि कोई भी व्यक्ति उम्मीदवार एवं राजनैतिक दल के लोग शिवपुरी में उपलब्ध होने पर उनसे सर्किट हाउस शिवपुरी, गुना में उपलब्ध होने पर सर्किट हाउस गुना में और अशोकनगर में उपलब्ध होने पर सर्किट हाउस अशोकनगर में अपराह्न 04 से 05 बजे तक संपर्क कर सकते है, जिनका दूरभाष क्रमांक 9098583521 है।
सामान्य प्रेक्षक श्री शशिधर मण्डल ने कहा कि उम्मीदवार एवं राजनैतिक दल प्रचार-प्रसार के दौरान लाउण्ड स्पीकर का उपयोग रात्रि 10 बजे से सुबह 06 बजे तक उपयोग न करें। उन्होंने कहा कि वे सर्किट हाउस शिवपुरी के कक्ष क्रमांक 02 में प्रातः 09 बजे से प्रातः 10.30 बजे तक कक्ष क्रमांक 02 में उम्मीदवारों, राजनैतिकदलों के व्यक्तियोॆ से मिलेंगे.