अतिथि शिक्षकों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ऐसे होंगे परमानेंट!

भोपाल। MP में एक बार फिर शिक्षक भर्ती को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई हैं। इस बार शिक्षक भर्ती पर चर्चाएं स्कूली शिक्षा मंत्री विजय शाह के उस बयान के बाद शुरू हुई, जब उन्होंने ये कहा कि सरकार ने व्यापमं को शिक्षक भर्ती के आदेश जारी कर दिए हैं।

शिक्षक भर्ती की ये सूचना सामने आने से अतिथि शिक्षक athithi shikshak भी इन दिनों काफी खुश हैं। उन्हें आशा है कि वे जल्द ही सरकारी नौकरी पा लेंगे।
दरअसल स्कूली शिक्षा मंत्री विजय शाह mpgovt.in 2018 ने गुना में दिए एक बयान में कहा था कि प्रदेश सरकार अगले माह यानि सितंबर से 62000 शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने जा रही है। वहीं इस बार संगीत और खेल शिक्षकों की भी भर्ती की जाएगी।

अतिथि शिक्षकों के लिए ये है खास…
यहां उन्होंने यह भी कहा कि इस भर्ती प्रक्रिया में 18000 पद अतिथि शिक्षकों athithi shikshak 2018 के लिए आरक्षित रखे जाएंगे। इसमें केवल एक बात खास रहेगी कि जो 200 दिन या 3 साल अपनी सेवाएं दे चुके हैं, उन्हें ही इसका लाभ मिलेगा।

इसके अलावा स्कूली शिक्षा मंत्री विजय शाह के मुताबिक इस पूरी प्रक्रिया में अतिथि शिक्षकों के लिए पदों के आरक्षण की वजह से एससी, एसटी और आेबीसी के लिए आरक्षित पदों पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। अतिथि शिक्षकों को सामान्य श्रेणी के लिए बचे पदों में ही आरक्षण मिलेगा।

ये रहेगी अतिथि शिक्षकों 2018 athithi shikshak की स्थिति…
कुल पद शिक्षक : 62,000
अतिथि शिक्षकों के लिए : 18,000 पद ।
अतिथि शिक्षक आरक्षण के लिए जरूरी : 200 दिन या 3 साल अपनी सेवाएं दे चुके हों ।
अतिथि शिक्षक आरक्षण : सामान्य श्रेणी के लिए बचे पदों में ही ।

एससी, एसटी और आेबीसी : आरक्षण नियमानुसार ।
परीक्षा कराने वाली संस्था : प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड ।
भर्ती प्रक्रिया : सितंबर 2018
नियुक्ति : चुनाव के बाद !

ये है मामला
दरअसल मध्यप्रदेश सरकार अगले माह यानि सितंबर से 62000 शिक्षकों की भर्ती athithi shikshak 2018 athithi shikshak fbप्रक्रिया शुरू करने जा रही है। वहीं माना जा रहा है कि इनकी नियुक्ति मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनावों के बाद ही हो पाएगी।

इस बात पर पिछले दिनों गुना पहुंचे स्कूली शिक्षा मंत्री विजय शाह भी पत्रकारों से चर्चा करते हुए मुहर लगा दी। यहां उन्होंने कहा कि सरकार ने व्यापमं को शिक्षक भर्ती के आदेश जारी कर दिए हैं।

इसके बाद अब सितंबर से 62000 शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया athithi shikshak bharti शुरू की जाएगी। कुल मिलाकर इस मामले में सबसे खास बात यह है कि अगले माह से 62 हजार शिक्षकों की भर्ती शुरू होने जा रही है।

ज्ञात हो कि साल के अंत में मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने है और इसके लिए सितंबर के आखरी सप्ताह तक आचार संहिता लगा दी जाएगी। वहीं आचार संहिता लगने के बाद कोई नई भर्ती या नए फैसले नहीं लिए जा सकते हैं, ऐसे में यह उम्मीद लगाई जा रही है कि सरकार आचार संहिता से पहले ही सरकार शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को पूरा करने की कोशिश करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *