उत्तराखंड बस खाई में गिरी 45 की मौत.

कोटद्वार, पौड़ी नैनीडांडा ब्लॉक में पिपली-भौन मोटर मार्ग पर यात्रियों की एक बस अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई। हादसे में मौके पर 45 लोगों की मौत हो गई, जबकि 8 लोग घायल हो गए। घायलों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों को रेस्‍क्‍यू के लिए देहरादून के सहस्रधारा हेलीपेड से हेलीकप्टर भेजा गया है। एसडीआरएफ के आइजी संजय गुंज्याल ने बताया कि घायलों को दून लाया जाएगा। मृृतक सभी स्‍थानीय बताए जा रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, दुर्घटना आज सुबह करीब 8:45 बजे की है। यात्रियों से खचाखच भरी एक प्राइवेट बस (यूके 12सी 0159) भौन से रामनगर जा रही थी। नैनीडांडा ब्लॉक में पिपली-भौन मोटर मार्ग पर क्‍वीन पुल के पास बस अनियंत्रित हो गई और खाई में गिर गई।

हादसे में 45 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, सूचना पर पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने घायलों को धुमाकोट अस्‍पताल में भर्ती कराया है और शवों को ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला गया।

बताया जा रहा है कि बस 28 सीटर है और उसमें संख्‍या से ज्‍यादा यात्री सवार थे। बस सड़क से करीब 60 मीटर नीचे संगुड़ी गदेरे (बरसाती नाले) में गिर गई। जिला आपदा कंट्रोल रूम ने हादसे में 45 लोगों के मरने की पुष्टि की है।

सीएम ने जताया गहरा दुख

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास हुई बस दुर्घटना पर गहरा दुख जताया। उन्‍होंने कहा, मैंने जिला प्रशासन को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिये हैं। स्थानीय प्रशासन, पुलिस व एसडीआरएफ बचाव कार्य में जुट गए हैं और सभी जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं।

मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपये देने की घोषण

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपए, घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता राशि अविलम्ब उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। कहा, आवश्यक होने पर घायलों को उपचार के लिए देहरादून लाने के लिए हेलीकॉप्टर का भी प्रयोग किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *