बौखलाये पाकिस्तान ने फिर बरसाये गोले, BSF जवान शहीद, जवाब में भारत ने मारे तीन पाकिस्तानी रेंजर

पाकिस्तान ने एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जम्मू के अरनिया और आरएसपुरा सेक्टर में बुधवार रात भारतीय चौकियों और रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया और भारी गोलाबारी की. इस दौरान पाकिस्तान की ओर से दागे गये स्नाइपर शॉट में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया जबकि एक नागरिक घायल हो गया. भारतीय जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसमें तीन पाकिस्तानी रेंजर मारे गये. देर रात तक जारी रही गोलाबारी से सीमांत क्षेत्रों में दहशत व तनाव का माहौल व्याप्त है. शहीद की पहचान 78 बटालियन के हेड कांस्टेबल सुरेश कुमार के तौर पर हुई है जबकि घायल नागरिक की पहचान साई दास निवास कपूरपुर ( आरएसपुरा) के रूप में हुई.
जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान ने रात करीब साढ़े नौ बजे आरएसपुरा सेक्टर में भारत की छह पोस्टों पर मोर्टार दागने शुरू कर दिये. पाकिस्तान ने जिन चौकियों को निशाना बनाया वे रिहायशी इलाकों के नजदीक है , उनमें निक्कोवाल, सतोवाली, बाकरपुर, घराना, सुचेतगढ़, अब्दुल्लियां और कोरोटाना शामिल हैं. सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान ने देर शाम स्नाइपर शॉट भी मारा, जिसमें बाकरपुर पोस्ट पर तैनात बीएसएफ का हेड कांस्टेबल शहीद हो गया.बीएसएफ के जवान भी पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं.आपको बता दें कि आर्मी डे पर भारतीय सेना ने देश को बड़ा तोहफा दिया था. इस दिन पाकिस्तान की ओर से एलओसी के कोटली सेक्टर में सीजफायर का उल्लघंन किया गया जिस पर भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए 7 पाकिस्तानी सेना के जवानों को ढेर कर दिया. भारत की इस कार्रवाई से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और गोलाबारी कर रहा है.

 

गंभीर रूप से घायल महिला को किया ग्वालियर रैफर

आंगन में बैठी महिला शिमला धाकड़ पर अचानक बंदर ने हमला कर दिया, जिससे महिला गंभीर रूप से घायल हो गई। महिला की चीख सुनकर परिजन दौडक़र आए और आनन फानन में महिला को नजदीक स्वास्थ्य केंद्र ले गए जहां प्राथमिक उपचार के बाद सीधे ग्वालियर ले गए। इस घटना के बाद से स्थानीय नागरिकों में वन विभाग के खिलाफ आक्रोश बढ़ रहा है। लोगों का कहना है कि वे कई बार वन विभाग के अधिकारियों को बंदर पकडऩे के लिए कह चुके हैं लेकिन आज तक उत्पाती बंदर नहीं पकड़े गए हैं। बंदर न पकड़े जाने से लगातार नगर में बंदरों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। लोगों में बंदरों का डर इस हद तक है कि दिन के समय अपनी छतों पर गीले कपड़े नहीं सुखा पाते और न ही अन्य सामग्री डाल पाते। बंदरों का उत्पात नगर में सुबह से ही शुरू हो जाता है। छोटे बच्चों से लेकर महिला व पुरुष ठंड का सीजन होने के बावजूद धूप नहीं ले पा रहे हैं। बंदरों का आतंक नगर ही नहीं ग्रामीण क्षेत्र तक पहुंच चुका है। बंदर घर में घुसकर रोटियां तक उठा लाते हैं। मैं सुबह घर के आंगन में बैठकर धूप ले रही थी तभी अचानक एक बंदर आया और हमला बोल दिया। मुझे बचने का कोई मौका नहीं मिला। मैं चीखी चिल्लाई तब कुछ देर बाद परिजन आए और बंदर भाग गया। शिमला धाकड़, घायल महिला
ग्राम बर्रे में सुबह से ही बंदरो का आतंक शुरू हो जाता है। यह बंदर छत ही नहीं बल्कि घरों के अंदर से भी सामान उठाकर ले जाते हैं। वन विभाग शिकायत के बाद भी सुनवाई नहीं कर रहा है। विपिन जैन, ग्रामीण
लगातार बंदरो को पकडऩे के प्रयास किये जा रहे हैं। हाल ही में 8 -10 बंदरो को पकड़ा भी था। मथुरा से भी टीम को बुलाया गया है,कार्रवाई जारी रहेगी। केपीएस धाकड़,वन परिक्षेत्र अधिकारी

एकात्म यात्रा में भिड़े सांसद-विधायक, सांसद समर्थकों ने की विधायक से हाथापाई

कलश व ध्वज उठाने की बात पर शुरू हुआ झगड़ा, सांसद और विधायक ने एक-दूसरे पर लगाए आरोप।

इंदौर (आगर-मालवा)। एकात्म यात्रा में उस समय हंगामा मच गया, जब ध्वज उठाने की बात पर भाजपा सांसद मनोहर ऊंटवाल और भाजपा विधायक गोपाल परमार आपस में भिड़ गए। बहस सेे शुरू हुआ विवाद हाथापाई तक पहुंच गया। पहले तो सांसद- विधायक ध्वज को एक दूसरे से छीनते रहे। बाद में सांसद के सामने ही उनके समर्थकों ने विधायक के साथ हाथापाई कर दी। विवाद बढ़ता देख ध्वज को रथ में वापस रख दिया गया।

घर के बाहर साइकिल चलाते गायब हुई पांचवीं की छात्रा रेलवे स्टेशन पर मिली

शिवपुरी। शहर के जनपद पंचायत कार्यालय के समीप स्थित ब्लॉक कॉलोनी में रहने वाले मनरेगा में वरिष्ठ लेखापाल हेमंत पांडे की 10 वर्षीय बेटी वृति पांडे शुक्रवार दोपहर 3 बजे अचानक लापता हो गई थी। खाना खाने के बाद अपनी लाल रंग की साइकिल चलाने की कहकर घर से निकली और जब नहीं मिली तो खोज की गई। सोशल साइट का सहारा लिया गया। एसपी सुनील पांडे पांडे के घर पहुंचे और तलाश शुरु की गई, तभी कक्षा 5 ईस्टर्न हाइट की छात्रा वृति का फोन आया कि पापा मुझे रेलवे स्टेशन से घर ले जाओ।

Continue reading “घर के बाहर साइकिल चलाते गायब हुई पांचवीं की छात्रा रेलवे स्टेशन पर मिली”